Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

Kangana Ranaut के बाद अब Vivek Oberoi का छलका दर्द, डार्क फेज को याद कर बोले मैं टूट चुका था…

Vivek Oberoi: विवेक ओबेरॉय वो एक्टर हैं जिन्होंने कई हिट फिल्में दे इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई, एक समय ऐसा भी आया था जब वो बुरे दौर से गुजर रहे थे।

Vivek Oberoi
इमेज क्रेडिट: E 24 बॉलीवुड

Vivek Oberoi: बॉलीवुड के फेमस एक्टर विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने अपने फिल्मी करियर में एक नहीं बल्कि कई हिट फिल्में दी हैं। हाल ही में वो सिद्धार्थ मल्होत्रा की वेब सीरीज इंडियन पुलिस फोर्स में नजर आए थे, जिसमें उनकी एक्टिंग की लोगों ने तारीफ की। अपने करियर के पीक पर एक्टर क्यों इंडस्ट्री से गायब हो गए ये प्रश्न सभी के जेहन में रहता है। सुशांत सिंह राजपूत तो आपको याद ही होंगे, हां कोई भूल भी कैसे सकता है उस हंसते हुए चेहरे को जिसने कम उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया।

एक्टर के निधन ने सभी को झकझोर कर रख दिया था। लोगों का मानना था कि अभिनेता स्ट्रगल के दौर से गुजर रहे थे। पहले कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने अपना दर्द बयां किया अब इस राह पर विवेक ओबेरॉय भी आ गए हैं, उन्होंने स्ट्रगल के दिनों के बारे में बात करते हुए सुशांत सिंह राजपूत को याद किया। आइए जानते हैं कि एक्टर ने ऐसा क्या कहा।

विवेक ओबेरॉय का छलका दर्द

विवेक ओबेरॉय किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। अपनी एक्टिंग और लुक्स से लाखों लोगों के दिलों पर राज करने वाले अभिनेता ने ह्यूमंस ऑफ बॉम्बे के साथ बात करते हुए अपने डार्क फेज को याद करते हुए कहा कि वो सुशांत से मिले हैं। विवेक ने सुशांत की तारीफ करते हुए कहा कि वो बहुत अच्छा लड़का था और उसमें टैलेंट की कमी नहीं थी।

अपने बुरे दिनों को याद करते हुए एक्टर इमोशनल हुए और बोले कि एक समय ऐसा भी आया था जब उनकी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में सब कुछ गलत हो रहा था। जो कदम सुशांत ने उठाया था वो भी एक समय में वैसा ही कुछ करने के बारे में सोच रहे थे।

सुशांत के अंतिम संस्कार का किया जिक्र

विवेक ओबेरॉय ने उस दिन को याद किया जब सुशांत का अंतिम संस्कार हो रहा था। उस दौरान श्मशान घाट पर टोटल 20 लोग मौजूद थे, जिनमें से एक विवेक ओबेरॉय भी थे। उन्हें वो पल याद आया जब जवान बेटे की चिता के पास खड़ा एक बूढ़ा पिता अपनी आंखों में आंसू लिए खड़ा था।

विवेक हुए इमोशनल

विवेक ने बताया कि जब वो ये पल देख रहे थे तो वो सोच रहे थे कि अगर सुशांत ने ये सब देखा होता कि उनके जाने के बाद उनके पिता का उनके परिवार का क्या हाल होगा तो वो कभी भी ऐसा कदम नहीं उठाते। जो लोग हमें इतना प्यार करते हैं अगर उनके सामने कभी ऐसा पल आ जाए तो उनका क्या हाल होता है इस बारे में सोचकर ही दिल कांप उठता है।

डार्क फेज में मां ने दिखाई राह

एक वक्त ऐसा भी था जब विवेक ओबेरॉय की लाइफ में डार्क फेज भी आया था। उन्होंने इंटरव्यू में बताया कि वो लकी हैं कि उनके पास मां हैं, परिवार है जो बुरे वक्त में उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि वो बहुत दुखी थे और अपनी मां की गोद में सिर रखकर खूब रोए। उन्होंने कहा कि मेरे साथ ही बुरा क्यों हो रहा है।

एक्टर ने बताया कि उन्होंने 30-40 मिनट तक मां की गोद में सिर रखा तो मां ने बोला कि तुम्हें इतना प्यार मिल रहा अवार्ड मिल रहे हैं, तो फिर मुझ से ही क्यों पूछ रहे हो भगवान से पूछो। ये सुन अभिनेता को तसल्ली मिली और उन्होंने डार्क फेज का भी हिम्मत से सामना किया।

यह भी पढ़ें: ‘आर्टिकल 370’ने पकड़ी रफ्तार, ‘क्रैक’ का हाल हुआ बेहाल

First published on: Feb 26, 2024 08:56 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.