Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

जेब में 300 रुपये ले घर से निकले, भूखे पेट सड़कों पर बिताई रातें, पहली ही फिल्म के लिए मिला नेशनल अवार्ड

Prakash Jha Birthday: प्रकाश झा का आज बर्थडे है, आज हम आपको उनके पेंटर से फिल्ममेकर बनने तक के सफर के बारे में बताने जा रहे हैं।

Prakash Jha
इमेज क्रेडिट: E 24 बॉलीवुड

Prakash Jha Birthday: फिल्म मेकर प्रकाश झा (Prakash Jha) का आज बर्थडे है। प्रकाश लीग से हटकर फिल्मों के लिए जाने जाते हैं। फिल्ममेकर ने अपनी फिल्मी करियर में एक नहीं बल्कि कई हिट फिल्में दी हैं। मायानगरी में अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले प्रकाश डायरेक्टर नहीं बल्कि  पेंटर बनना चाहते थे। लेकिन किस्मत में तो कुछ और ही लिखा था, और वो बन गए बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के फेमस डायरेक्टर। आज प्रकाश झा के बर्थडे के मौके पर हम आपको उनके बारे में कुछ खास बातें बताते हैं।

बिहार का लाल पेंटर बनना चाहता था

बॉलीवुड के फेमस फिल्म मेकर प्रकाश झा का जन्म 27 फरवरी साल 1952 को बिहार के चंपारण में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई सैनिक स्कूल तिलैया से की।

Prakash Jha

इमेज क्रेडिट: गूगल

वहीं अपनी आगे की पढ़ाई के लिए वो दिल्ली आए और दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज से अपनी ग्रेजुएशन कंप्लीट की। आज बतौर हिट फिल्ममेकर जाने जाने वाले प्रकाश फिल्म इंडस्ट्री में नहीं आना चाहते थे, बल्कि वो तो पेंटर बनना चाहते थे।

Prakash Jha

इमेज क्रेडिट: गूगल

जेब में 300 रुपये लेकर निकल पड़े थे

प्रकाश झा आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने एक इंटरव्यू में खुद बताया था कि जब बच्चे आईपीएस और डॉक्टर बनने के सपने देखना चाहते थे, तो वो पेंटर बनने के ख्वाब देखते थे। प्रकाश ने बताया था कि उन्होंने जेब में 300 रुपये डाले और एक कैमरा लिया फिर निकल पड़े घर से।

Prakash Jha

इमेज क्रेडिट: गूगल

हालांकि उनके परिवार वालों को ये बात बिल्कुल भी पसंद नहीं थी, लेकिन उन्होंने किसी की नहीं सुनी और फिर 5 साल तक घर में किसी से बात भी नहीं की।

ऐसे हुई फिल्मों में एंट्री

जहां प्रकाश पेंटर बनना चाहते थे और वो इसके लिए मुंबई आए थे। उन्होंने जेजे स्कूल ऑफ आर्ट्स में एडमिशन लिया और अपने सपने की ओर आगे बढ़ने लगे। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजुर था और प्रकाश ने एक फिल्म की शूटिंग देखी। शूटिंग देखते हुए वो इतना इंप्रेस हो गए थे कि पेंटर बनने का सपना छोड़ निर्देशक का सपना देखना शुरु कर दिया।

Prakash Jha

इमेज क्रेडिट: गूगल

ऐसे की फिल्ममेकर बनने की तैयारी

‘धर्मा’ फिल्म की शूटिंग देखने के बाद प्रकाश ने अपना इरादा बदल लिया और उन्होंने फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पुणे में एडमिशन ले लिया। फिर उन्होंने फिल्म की बारीकियों को अच्छे से सीखा और साल 1984 में हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में बतौर निर्देशक डेब्यू किया। प्रकाश ने पहली फिल्म ‘हिप हिप हुर्रे’ का निर्देशन किया और फिर इसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा। पहली ही फिल्म हिट रही और उन्हें इसके लिए नेशनल अवार्ड मिला।

नहीं टिका शादीशुदा रिश्ता

प्रकाश झा जितना प्रोफेशनल लाइफ को लेकर चर्चा में थे उतना ही पर्सनल लाइफ की वजह से भी सुर्खियों में बने हुए थे। प्रकाश ने साल 1985 में दीप्ति नवल से शादी की और अपनी मैरिड लाइफ को इंजॉय किया। हालांकि ये रिश्ता लंबा नहीं चला और 17 साल बाद साल 2002 में उनका तलाक हो गया। बेशक पती-पत्नी का रिश्ता खत्म हो गया हो लेकिन वो एक अच्छे दोस्त की तरह आज भी मिलते हैं।

यह भी पढ़ें: ‘आर्टिकल 370’ का जलवा बरकरार, ‘क्रैक’ का हुआ बंटाधार

First published on: Feb 27, 2024 09:22 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.