---विज्ञापन---

फिल्म ‘दोबारा’ में अलग तरह से डराने की कोशिश

मुंबई (2 जून): भाई-बहन की कहानी फिल्म ‘दोबारा’ में माता-पिता की मृत्यु का सस्पेंस क्या है, पता करने की कोशिश की जा रही है। यह कहानी एलेक्स मर्चेंट (आदिल हुसैन) और उसकी वाइफ लिसा (लीजा रे) की है, जिनके दो बच्चे कबीर (साकिब सलीम) और नताशा (हुमा कुरैशी) हैं। माता-पिता की मौत के करीब 11 […]

मुंबई (2 जून): भाई-बहन की कहानी फिल्म ‘दोबारा’ में माता-पिता की मृत्यु का सस्पेंस क्या है, पता करने की कोशिश की जा रही है। यह कहानी एलेक्स मर्चेंट (आदिल हुसैन) और उसकी वाइफ लिसा (लीजा रे) की है, जिनके दो बच्चे कबीर (साकिब सलीम) और नताशा (हुमा कुरैशी) हैं। माता-पिता की मौत के करीब 11 साल के बाद कबीर और नताशा इसके पीछे का राज जानने की कोशिश करते हैं। फिल्म में कई उतार-चढ़ाव भी आते हैं। आखिरकार अच्छाई सामने आ ही जाती है, जिसको जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। इस फिल्म का डायरेक्शन भी उम्दा है और प्रवाल रमन की शूटिंग का तरीका और भी बेहतर है। सिनेमैटोग्राफी, लोकेशंस आपको डरने के लिए मजबूर कर देगा। आपको बता दें, साकिब सलीम ने बहुत अच्छा काम किया है और हुमा कुरैशी का काम भी बहुत दिलचस्प है। मंझे हुए कलाकार आदिल हुसैन ने पति और पिता के रूप में भी बढ़िया काम किया है। लीजा रे, रिया चक्रवर्ती और बाकी सह कलाकारों का काम भी अच्छा है। फिल्म का संगीत तो ठीक-ठाक है। लेकिन बैकग्राउंड स्कोर गजब का है, जो कि किसी भी हॉरर फिल्म के लिए बहुत ही जरूरी होता है। अगर आप हॉरर फील्मों के शौकीन हैं तो इस फिल्म को जरूर देखें।

First published on: Jun 02, 2017 11:33 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.