--- विज्ञापन ---

क्या बॉलीवुड भी साउथ फिल्मों की ही तरह बनाएगा पैन इंडिया फिल्में? अजय देवगन का जवाब सुन हैरान हो जाएंगे आप

- Advertisement -

मुंबई। बॉलीवुड इंडस्ट्री के सिंघम यानि कि अजय देवगन इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म ‘रनवे 34’ को लेकर काफी सुर्खियों में हैं। फैंस भी उनकी इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इस फिल्म में उनके साथ रकुल प्रीत सिंह और अमिताभ बच्चन भी नजर आने वाले हैं। वहीं अजय देवगन भी अब इस फिल्म का प्रमोशन करने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते। इससे पहले अजय देवगन साउथ की पैन इंडिया फिल्म आरआरआर में नजर आए थे। दूसरी ओर बड़े पर्दे पर साउथ फिल्म इंडस्ट्री की धमाकेदार फिल्म केजीएफ 2 भी कमाल किए जा रही है। ऐसे में उनसे ये सवाल पूछा जाना तो लाजमी था कि बॉलीवुड की फिल्में पैन इंडिया क्यों नहीं बनती हैं और क्या साउथ की फिल्मों की सफलता को देखते हुए बॉलीवुड को डरना चाहिए?

 

एक मीडिया हउस को दिए गए इंटरव्यू में जब उनसे ये सवाल पूछा गया तो इसपर अजय देवगन ने कहा, ”इस पैन इंडिया के ट्रेंड पर आते हैं, देखिए… एक फिल्म को पूरे देश में अलग-अलग भाषाओं में काम करने के बाद ही पैन इंडिया कहा जा सकता है। इसलिए, ऐसा होने से पहले हम कुछ भी पैन इंडिया नहीं कह सकते। साथ ही, इन फिल्मों को ऐसा डिजाइन किया जा रहा है ताकि अलग इंडस्ट्रीज से एक्टर्स लिए जा सकें और वो बड़े दर्शकों को आकर्षित कर सकें। हम (बॉलीवुड) अभी तक ऐसा नहीं कर रहे हैं। साथ ही, आखिरकार, वे यहां (हिंदी बेल्ट में) काम कर रहे हैं क्योंकि उन्हें हिंदी में डब किया जा रहा है। वे यहां अपनी भाषा में काम नहीं कर रहे हैं। तो, इस तरह, वे अभी भी हिंदी फिल्में हैं।”

 

 

इसी बीच साउथ फिल्मों का बॉलीवुड फिल्मों से तुलना करने पर एक्टर ने कहा कि, ”कुछ समय पहले हॉलीवुड के बारे में भी यही बात कही गई थी, लेकिन हुआ कुछ नहीं। तो, इन बातों के बारे में हमेशा बात की जाएगी, लेकिन इसमें कोई शक नहीं है कि बॉलीवुड अच्छा प्रदर्शन करता रहेगा। इससे भी जरूरी बात ये है कि हमारी फिल्मों को विभिन्न क्षेत्रों जैसे उत्तर या दक्षिण या किसी अन्य जगह से देखना बंद करना और उन्हें भारत की फिल्मों के रूप में देखना ज्यादा जरूरी है।”

अजय देवगन की इन बातों को सुनने के बाद एक बात तो साफ हो गई है कि पैन इंडिया फिल्मों को बनाने के ऊपर अभी बॉलीवुड का कोई विचार है। बाकी आने वाले समय में क्या होगा ये तो वक्त ही बताएगा।

- Advertisement -
Exit mobile version