--- विज्ञापन ---

Latest Posts

Irrfan Khan Death Anniversary: पत्नी सुतापा सिकदर के लिए जीना चाहते थे एक्टर, मरने से पहले कही थी ये बात

- Advertisement -

मुंबई। बॉलीवुड के मशहूर एक्टर इरफान खान (Irrfan Khan) की आज दूसरी डेथ एनिवर्सरी हैं। साल 2020 ने हमें जो गम दिए उन्हीं में से एक था अभिनय के उस्ताद इरफान खान का असमय चले जाना। बॉलीवुड (Bollywood) से लेकर हॉलीवुड (Hollywood) फिल्मों तक अपने बेहतरीन अभिनय की छाप छोड़ने वाले अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) को गुज़रे हुए पूरे दो साल बीत गए।

इरफान खान का जन्म 7 जनवरी 1967 को जयपुर के एक मुस्लिम पठान परिवार में हुआ था। केवल 54 साल की उम्र में दुनिया से अलवीदा कह दिया। उनका पूरा नाम साहबजादे इरफान अली खान था। कहते हैं पठान परिवार के होने के बावजूद इरफान (Irrfan Khan) बचपन से ही शाकाहारी थे। उनके परिवार वाले उन्हें हमेशा यह कहकर चिढ़ाते थे कि पठान परिवार में ब्राह्मण लड़का पैदा हो गया।

और पढ़िए‘सिर्फ तुम’ की एक्ट्रेस का बदल गया है लुक, अब ऐसी नजर आती हैं प्रिया गिल

 

 

साल 2018 में इरफान खान को न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर का पता चला था। करीब दो साल तक उनका लंदन में उनका इलाज चला था। इसके बाद उनकी तबीयत में सुधार होने के बाद वह भारत वापस आ गए थे लेकिन किसी पता था कि एक्टर इतनी जल्दी सब छोड़कर चले जाएंगे।

एक्टर की पर्सनल लाइफ की बात करें तो वो अपनी पत्नी सुतपा सिकदर (Sutapa Sikdar) से बेहद प्यार करते थे और उनके लिए जीना चाहते थे। इस बारे में खुद एक्टर ने कहा था। फिल्म अंग्रेजी मीडियम के रिलीज के दौरान एक इंटरव्यू में इरफान ने कहा था कि वो अपनी वाइफ सुतपा के लिए जीना चाहते हैं। उन्होंने कहा था- ”मैं सुतापा के बारे में क्या कहूं। वो मेरे साथ 24 घंटे थी। वह मेरी देखभाल करती रहती थी।

अगर मुझे जीने का मौका मिले तो मैं उनके लिए जीना चाहता हूं। वह मेरे लिए जीने का कारण है। ट्रीटमेंट रोलर कोस्टर राइड था। जो खुश और यादगार लम्हों से भरी हुई थी। अनिश्चिचता के कारण अच्छे पलों को याद रखा। हम थोड़ा रोए और बहुत सारा हंसे। हम एक विशाल विशाल शरीर बन गए थे।

इरफान खान ने सुतापा सिकदर से 23 फरवरी 1995 को शादी की थी। इरफान के संघर्ष के दिनों में सुतापा हमेशा उनके साथ खड़ी रहीं। ये वही सुतपा हैं, जिन्होंने सुपारी और शब्द जैसी फिल्में लिखी हैं। इरफान ने जब सुतापा से शादी का फैसला किया तो वे उनके लिए धर्म बदलने के लिए भी तैयार हो गए थे लेकिन सुतापा के घरवाले दोनों की शादी के लिए तैयार हो गए, जिसके बाद इरफान को धर्म बदलने की जरूरत नहीं पड़ी।

सुतापा इरफान के जाने के बाद भी उनसे उतना ही प्यार करती हैं। इरफान खान ने अपने तीन दशक लंबे एक्टिंग करियर में कई सीरियल्स और कई फिल्मों में काम किया। एक्टर ने अपने करियर की शुरूआत टेलीविजन सीरियल्‍स से हुई थी। अपने शुरूआती दिनों में वे चाणक्‍य, भारत एक खोज, चंद्रकांता जैसे धारावाहिकों में दिखाई दिए थे। उनके फिल्‍मी करियर की शुरूआत फिल्‍म ‘सलाम बाम्‍बे’ से एक छोटे से रोल के साथ हुई।

इसके बाद उन्‍होंने कई फिल्‍मों में छोटे बड़े रोल किए लेकिन असली पहचान उन्‍हें ‘मकबूल’, ‘रोग’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो’, ‘स्‍लमडॉग मिलेनियर’, ‘पान सिंह तोमर’, ‘द लंचबाक्‍स’ जैसी फिल्‍मों से मिली। हॉलीवुड फिल्मों ए माइटी हार्ट, स्लमडॉग मिलियनेयर और द अमेजिंग स्पाइडर मैन फिल्मों मे भी काम कर चुके इरफान को 2011 में भारत सरकार ने पद्मश्री से सम्मानित किया। उन्हें बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड भी मिला।

 

 

 

यहाँ पढ़िए – बॉलीवुड से  जुड़ी ख़बरें

 

 

क्लिक करे   News 24 APP अभी download करें

 

- Advertisement -

Latest Posts

Don't Miss