--- विज्ञापन ---

Latest Posts

एन.टी.रामाराव का फिल्मों के साथ राजनीति में भी था दबदबा, जानें क्यों की थी दो शादी

- Advertisement -

N.T Rama Rao Birth Anniversary: साउथ फिल्मों के जाने-माने एक्टर्स में से एक एन.टी.रामाराव (N.T.Rama Rao) आज इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन फिर भी वो लोगों के दिलों में बसते हैं। आज उनकी बर्थ एनिवर्सरी पर तमाम लोगों ने उन्हें याद कर श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं। वहीं आज हम आपको बताएंगे उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ बातें। एन.टी.रामाराव का पूरा नाम नंदामुरी तारक रामाराव (Nandamuri Taraka Rama Rao) हैं। उनका जन्म 28 मई 1923 में हुआ था।

एन.टी.रामाराव (N.T Rama Rao Films) ने साल 1949 में तेलुगू फिल्म ‘मना देसम’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी और उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्में दी थी। तेलुगू के साथ-साथ उन्होंने तमिल और हिंदी फिल्मों में भी काम किया। अपनी एक्टिंग के दम पर एन.टी रामाराव ने फिल्मों में 17 बार भगवान कृष्ण की भूमिका निभाई।

और पढ़िए –  रवि तेजा के फैंस के लगा झटका, ‘रामाराव ऑन ड्यूटी’ की रिलीज डेट हुई पोस्टपोन

 

वहीं साल 1961 में एन.टी रामा राव ने फिल्म ‘सीतारमा कल्याणा’ से बतौर निर्देशन की शुरुआत की। एन.टी.रामाराव ने कई बेहरीन फिल्मों का निर्देशन किया। वहीं उन्होंने आखिरी फिल्म ‘सम्राट आशोका’ बनाई थी जिसे दर्शकों का खूब प्यार मिला।

एन.टी.रामाराव की निजी जिंदगी की बात करें तो एन.टी रामाराव का जीवन काफी उतार-चढ़ाव वाला रहा। उन्होंने 20 साल की उम्र में साल 1943 में बसावा टाकाराम से पहली शादी की थी। अपनी पहली शादी के उन्हें 8 बेटे और 4 बेटियां हुईं।

इसके बाद साल 1985 में उनकी पत्नी का निधन हो गया जिसके बाद उन्होंने साल 1993 में 70 साल की उम्र में तेलुगू लेखिका लक्ष्मी पार्वती से शादी रचाई लेकिन एनटीआर के परिवार ने उनकी दूसरी शादी को कभी भी स्वीकार नहीं किया जिसके बाद उन्होंने राजनीति की दुनिया में कदम रखा।

 

और पढ़िएपुष्पा-2 के लिए मेकर्स वसूलेंगे इतनी मोटी रकम, सुनकर उड़ जाएंगे होश

 

 

एन.टी रामाराव पहली बार 1983 में, दूसरी बार 1985 में और तीसरी बार 1994 में आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री बने। हालांकि, उन्हें राजनीतिक जीवन में काफी मुश्किल भरे दिन भी देखने पड़े लेकिन उन्होंने अपनी अलग पहचान बनाई।

इतना ही नहीं भारतीय सिनेमा में योगदान के लिए के उन्हें भारत सरकार ने साल 1968 में पद्मश्री से सम्मानित किया था। वहीं फिर 18 जनवरी 1996 को हैदराबाद में 72 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया था। उनका चले जाने का सभी को तगड़ा झटका लगा था।

एन.टी रामाराव के पोते जूनियर एनटीआर साउथ सिनेमा का आज बड़ा नाम हैं जिन्होंने फिल्म ‘आरआरआर’ में अपनी एक्टिंग से तहलका मचा दिया। साउथ सिनेमा के साथ-साथ उन्होंने राजनीतिक में भी खूब नाम कमाया।

वहीं आज एन.टी.रामाराव की बर्थ एनिवर्सरी पर साउथ सिनेमा के सुपरस्टार और उनके पोते जूनियर एनटीआर (Junior NTR) ने उन्हें याद कर फूल अर्पित किए। जूनियर एनटीआर और कल्याण राम को एनटीआर घाट पर देखा गया जहां उन्होंने दिग्गज एक्टर और और पूर्व मुख्यमंत्री को श्रद्धांजलि दी।

इस दौरान वो नंगे पैर नजर आए। जूनियर एनटीआर ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर अपने दादा एनटी रामाराव की एक तस्वीर साझा की और लिखा, ‘हमेशा आपको याद कर रहा हूं।’ आपको बता दें हर साल, प्रशंसक, परिवार के सदस्य और उनके राजनीतिक दल के नेता एन.टी.रामाराव को हैदराबाद के एनटीआर घाट पर फूल अर्पित करते हैं।

 

ये एक परंपरा है जिसका नंदामुरी परिवार पालन करता है, हालांकि पिछले दो सालों में कोविड महामारी की वजह से वो श्रद्धांजलि देने के लिए एनटीआर घाट नहीं जा सके। वहीं आज वो हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनकी यादें हमेशा हमारे साथ रहेंगी जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता।

 

 

यहाँ पढ़िए टॉलीवुड से जुड़ी ख़बरें

 

 

Click Here –  News 24 APP अभी download करें

- Advertisement -

Latest Posts

Don't Miss