--- विज्ञापन ---

Saas Bahu Achaar Pvt Ltd Review: अच्छे मसाले से बना हुआ एवरेज अचार

- Advertisement -

एक अचार, सौ बीमार… पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में एक अचार जिसे कोई पूछता भी नहीं, अचानक वो अचार फ्री में बंटने लगता है। रात को घरों के बाहर कोई अचार की शीशी छोड़कर चला जाता है और फिर जो भी इस आम के अचार को खाता है, वो इसका दीवाना हो जाता है। ये सास, बहू माइनस अचार की स्टोरी है।

अब सास, बहू और अचार की स्टोरी सुनिए, ZEE5 की सीरीज़ में एक बड़ी बहू, जिसे पति ने डिवोर्स दे दिया है, एक सास जो अपनी बड़ी बहू से बेटी से ज़्यादा प्यार करती है और अपनी सुमनिया के लिए छोटी बहू के जेवर गिरवी रखकर, अचार बनाने का सामान खरीद लाए। बेटा और बेटी, जो मां-बाप के अलग होने के बाद, नई मां से रिश्ता ना जोड़ पा रहे हों… बेटा बिगड़ रहा हो, बेटी पढ़ रही हो.. और नई पत्नी, सौतले बच्चों को मां सा प्यार देना चाहती है। पति-पिता-बेटे के किरदार में सबसे ज़्यादा पीस रहा एक पिता, जो पुरानी बीवी से अपने प्यार लेस रिश्ते के टूटने को लेकर शर्मिंदा है, बेटे और बेटी के रूखेपन से शर्मिंदा है, मां की उम्मीदों पर खरा ना उतर पाने को लेकर शर्मिंदा है और जिस दूसरी लड़की से प्यार करके शादी की, उसे नए घर में जगह ना दिला पाने को लेकर शर्मिंदा है।

और पढ़िए‘Ranveer Vs Wild With Bear Grylls’ REVIEW: रनवीर सिंह के WILD मिशन में रोमांस, एक्शन और ऑप्शन तीनों है

 

ZEE5 की ये सीरीज़ TVF ने बनाई है, वही द वायरल फीवर वाले, जिनके बनाए शो बड़े प्रोगेसिव होते हैं। पंचायत आपने देखी है, तारीफ़ की है। गुल्लक की कहानी पर आप हंसे, मुस्कुराए हैं। कोटा फैक्ट्री तो ऑडियंस की ऑल टाइम फेवरिट है। अब उन्होने रिश्तों के इस भंवर में सास, बहू और अचार बनाई है। लेकिन अचार के साथ बहुत सावधानी बरतनी होती है, मसाले इधर-उधर हो गए तो स्वाद खराब, कब तेल या धूप में कम रखा, तो अचार खराब और कहीं पानी पड़ गया, तो फंगस लग जाती है।

इस कहानी को प्रोग्रेसिव बनाने की कोशिश की है। सुमन के नज़रिए से देखें, तो पति से अलग होने के बाद वो अचार बनाकर बेचने की जी-तोड़ कोशिश करती है। सुमन गिरती है, संभलती है, उसकी सास और किराएदार शुक्ला जी भी उसका साथ देते हैं। बच्चों को अपने पास लाने के लिए उसने पति दिलीप से एक साल का वक्त मांगा है, ताकि वो अपने पैरों पर खड़ी हो पाए, सबके खर्चे उठा पाए। दूसरा मुख्य महिला किरदार है सास का, जो अपनी बहू सुमनिया पर जान छिड़कती है, उसके साथ बसों में जाकर अचार बेचती है, नए-नए आइडिया देती है। तीसरा अहम किरदार है मनीषा का, वो दूसरी पत्नी होने की वजह से गलत ना होते हुए भी विलेन है। मनीषा, रिश्ते-हालात सब सही करने की कोशिश करती है, मगर उसे एक चश्में से देखा जाता है। वो चश्मा है – सौतेली मां, दूसरी बीवी, घर तोड़ू बहू। इन सबके साथ बच्चे भी हैं बड़ी बेटी जूही, जो समझदार है, छोटे बेटा रिशू, जो मां से बिछड़ने के ग़म में बिगड़ता जाता है। मनीषा का भी एक बेटा है – विवान, जिसे प्यार सभी करते हैं, उसका भी एक नज़रिया है।

और पढ़िएमिर्जापुर-3 की तैयारी में जुटे गुड्डू पंडित, कालीन भैया को देंगे कड़ी टक्कर

 

सास, बहू और अचार में कहानी को ज़मीनी बनाने के चक्कर में कई गड़बड़ हुई है, जैसे अचार का बिजनेस बारहो महीने नहीं चलता, ना ही अचार का आम हमेशा मिलता है। कोई अचार ऐसा भी नहीं होता, जिसे खाने वाला दीवाना हो जाए। खैर अचार छोड़ दीजिए, तो इसकी महिला किरदारों को अच्छे से लिखा गया है, उनके डायलॉग भी सलीके से लिखे हैं। 6 एपिसोड की इस सीरीज़ में आपको उनसे हमदर्दी भी होती है। मगर सीरीज़ को वुमेन सेंट्रिक बनाने के चक्कर में, इसके पुरुष किरदार को खलनायक बना दिया गया है।

TVF से इस नज़रिए भी थोड़े प्रोग्रेसिव सोच की उम्मीद थी। हांलाकि सीरीज़ इमोशनल है, फैमिली फील वाली है, कुछ अच्छे सबक भी देती है। और परफॉरमेंस की तो पूछिए ही मत, अमृता सुभाष, जो सुमन का किरदार निभा रही हैं, वो इतनी उम्दा एक्ट्रेस हैं, कि उनसे नज़र नहीं हटेगी। मनीषा के किरदार में अंजना सुखानी को देखना, जैसे एक तजुर्बे जैसा है, ये किरदार अंजना के करियर की बेस्ट परफॉरमेंस भी गिन सकते हैं। सासू मां बनी यामिनी जी के तो क्या कहने, उनके जैसी सास, हर बहू को मिले। हांलाकि दिलीप बने अनूप सोनी के किरदार को ढंग से लिखा नहीं गया। शुक्ला जी की पॉजिटिविटी इस शो की हाईलाईट है, लेकिन उनकी खड़ी बोली इस बात की चुगली कर देते हैं कि वो कुछ भी हो सकते हैं, लेकिन यूपी की बसों में बेल्ट बेचने वाले तो कतई नहीं हो सकते।

 

और पढ़िएDarlings Teaser Out: आलिया भट्ट बतौर प्रोड्यूसर करेंगी डेब्यू, इस दिन नेटफ्लिक्स पर खुलेंगे कई राज

 

ओटीटी की भीड़ में सास, बहू अचार का स्वाद लिया जा सकता है, लेकिन ये पूरा खाना नहीं है, बस थाली में स्वाद के लिए  रखा गया एक अचार है।

सास, बहू और अचार को 3 स्टार।

 

यहाँ पढ़िए – OTT से  जुड़ी ख़बरें

 

Click Here –  News 24 APP अभी download करें

- Advertisement -
Exit mobile version