जाते-जाते एक्टर पुनीत राजकुमार ने किया नेक काम, 4 मरीजों को दे गए आंखों की रोशनी

E24

कन्नड़ सिनेमा (Kannada Cinema) के सुपर स्टार एक्टर पुनीत राजकुमार (Puneeth Rajkumar) 29 अक्टूबर को हार्ट अटैक के चलते निधन हो गया था। दो दिन बाद यानी 31 अक्टूबर को एक्टर का अंतिम संस्कार किया गया था। हालांकि इस बात पर यकीन कर पाना हर किसी के लिए मुश्किल हो रहा है कि आज पुनीत राजकुमार हम सबके बीच नहीं रहे। एक्टर आज भले ही हमारे बीच नहीं हैं लेकिन जाते जाते उन्होंने बेहद नेक काम किया है जिसके चर्चे चारो ओर हो रहे हैं। 

दरअसल, पुनीत के पिता की तरह ही एक्टर के परिवार वालों ने पुनीत की आंखों को भी शुक्रवार को डोनेट कर दिया गया था। एक्टर के निधन के 6 घंटे बाद इस प्रोरेस को पूरा किया गया। अब जो खबर सामने आई है उसके मुताबिक एक्टर द्वारा डोनेट की गई आंखों की मदद से 4 लोगों को रोशनी मिली है। एक्टर की आंखों से 3 मेल और 1 फीमेल की आंखों की रोशनी मिलने में मदद मिली है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉक्टर भुजंग शेट्टी ने बताया, सभी 4 मरीज की उम्र 20-30 साल की है। वो सभी 6 महीने से वेटिंग लिस्ट में थे।  करोना वायरस के चलते नेत्र दान पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। पहले हम अपने अस्पताल में हर महीने कम से कम 200 ट्रांसप्लांट सर्जरी करते थे। पिछले 2-3 महीनों से हालात में सुधार हो रहा है, लेकिन अभी भी वेटिंग लिस्ट लंबी है। लिहाजा हमने इन आंखों का बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया और 2 के बजाय 4 लोगों को लगाया।  

डॉक्टर ने ये भी बताया कि पुनीत के पिता डॉक्टर राजकुमार ने ये प्रण लिया था कि वह और उनके परिवार के सभी मेंबर्स निधन के बाद अपनी आंखे डोनेट करेंगे और परिवार ने अपने वादे को पूरा किया। इतने मुश्किल समय के बावजूद उन्होंने मुझे फोन किया और आंखें डोनेट के बारे में कहा। वे सब काफी ब्रेव हैं। पुनीत राजकुमार का हार्ट अटैक से निधन हो गया। ‘अप्पू’, ‘वीरा कन्नडिगा’ और ‘मौर्य’ जैसी फिल्मों के लिए पहचाने जाने वाले कन्नड़ सिनेमा के स्टार और टेलीविजन प्रस्तोता पुनीत राजकुमार की उम्र 46 साल थी। उनके परिवार में पत्नी अश्विनी रेवंत और दो बेटियां धृति और वंदिता हैं।

first published:Nov. 2, 2021, 12:21 p.m.

विज्ञापन

टीवी से लेकर हिंदी और क्षेत्रीय सिनेमा से जुड़ी मनोरंजन की सभी ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहें E24 से - फॉलो करें E24 को फेसबुक , इंस्टाग्राम , गूगल न्यूज़ .