टीवी से बॉलीवुड में कैसे जाना है, ये हम सबको सुशांत ने सिखाया- हिना खान

By Neetu July 16, 2020, 1:44 p.m. 1k

पूजा राजपूत- हिना खान टीवी इंडस्ट्री की टॉप एक्ट्रेस हैं। हिना को स्टाइल क्वीन कहा जाता है, उनकी फैशन सेंस को लाखों लड़कियां फॉलो करती हैं। हिना ने इंडस्ट्री में 2009 में सीरियल ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ से डेब्यू किया था, तब से लेकर अब तक हिना ने जबरदस्त संघर्ष किया है, और अब अपना अलग मुकाम बनाया है। अक्षरा की इमेज में बंधने की बजाए हिना ने रिस्क लिया और खतरों के खिलाड़ी, बिग बॉस 11 जैसे शोज़ में वह नज़र आईं। हिना ने वेब सीरिज़ और हेक्ड जैसी फिल्मों में भी काम किया है। हांलाकि हिना की यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई थी।

हिना ने टीवी इंडस्ट्री से बॉलीवुड में कदम रखा है, ठीक वैसे ही जैसे कभी अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने रखा था। सुशांत की आत्महत्या के बाद से ही बॉलीवुड में इनसाइडर्स वर्सेज आउटसाइडर्स के मुद्दे पर बहस छिड़ी हुई है। अब हिना ने भी एक इंटरव्यू में नेपोटिज्म और इंडस्ट्री में बाहर से आने वाले सितारों की स्ट्रगल पर बात की है। हिना ने कहा कि “ मैंने भी काफी स्ट्रगल किया है। हमारे पास अवसर आते नहीं हमें खुद ढ़ूंढ़ने पड़ते हैं। काफी संघर्ष करना पड़ता है। करीब 10 शो में काम करने के बाद एक शो में शायद आपका काम देखा जाए या नोटिस किया जाए। दिन-रात मेहनत करने के बाद हमारा काम एक अच्छा प्रोड्यूसर या डायरेक्टर नोटिस करता है। वे लोग किस्मत वाले होते हैं जिन्हें 7-10 फिल्मों के ऑफर मिल जाते हैं। एक काम नहीं की तो चलो दूसरी है, तीसरी फिल्म है... लेकिन हम आउटसाइडर्स के लिए ऐसा नहीं होता। खासकर तब जब आप टीवी बैकग्राउंड से ताल्लुक रखते हों। आपको वे अवसर नहीं मिलते जिनके आप लायक होते हैं क्योंकि आप टीवी इंडस्ट्री से आते हैं इसलिए। यह काफी दुखद होता है। हम उस एक्टर से शायद ज्यादा अच्छा परफॉर्म कर सकते हैं, लेकिन हमें अवसर नहीं मिलते।”

हिना ने आगे स्टार किड्स को मिलने वाले फेवर पर भी बात की। वह कहती हैं “कई टीवी एक्टर्स ने बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है। लेकिन उनका भी अपना स्ट्रगल रहा है। आपके साथ हमेशा आउटसाइडर का टैग रहता है और इनमें से कितने लोगों ने बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाई है? मैं सुशांत को देखती हूं, उन्होंने हम सभी के लिए फिल्मों में आने का सपना बुना है। अब मैं नहीं जानती, मुझे डर लगता है, काश कि इसमें बैलेंस होता। एक स्टारकिड को जब 5-6 फिल्में मिल सकती हैं तो हमें 3 फिल्में क्यों नहीं मिल सकतीं?”

हिना ने अपने इंटरव्यू में आगे उम्मीद जताई है कि शायद अब इंडस्ट्री में काम करने के तरीके में बदलाव आए और टैलेंटेड आउटसाइडर्स और टीवी एक्टर्स को भी फिल्मों में अच्छा काम मिले।

Related Story