नस्लवाद पर Taylor Swift का बयान, कहा- "नस्लभेदी हस्तियों के स्मारक देख दुख होता है"

By Arunima June 16, 2020, 2:31 p.m. 1k

अमेरिका में अश्वेत नागर‍िक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हंगामा जारी है और पूरे देश में जगह जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं। अमेरिका में ही नहीं, कई अन्य देशों में भी इस प्रदर्शन का समर्थन हो रहा है और पुलिस की ओर से की जा रही हिंसा की आलोचना की जा रही है। अब अमेरिकी सिंगर  टेलर स्विफ्ट (Taylor Swift) का कहना है कि टेनेसी में मौजूद ऐतिहासिक नस्लभेदी हस्तियों के स्मारक को देखकर उन्हें पीड़ा होती है।

 टेलर स्विफ्ट ने इंस्टाग्राम पर लिखा कि टेनिसियन होने के नाते मुझे इस बात का दुख है कि यहां उन नस्लभेदी एतिहासिक हस्तियों की प्रतिमाएं है, जिन्होंने बुरे काम किए हैं। एडवर्ड कारमैक और नाथन बेडफोर्ड फोरेस्ट हमारे राज्य के इतिहास में निंदनीय व्यक्तित्व थे और उनके साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए। 

टेलर ने आगे लिखा है कि-"कानून बनाने वाले इतिहास को बदल नहीं सकते, वो उन लोगों की स्थिति को बदल सकते हैं जिन्होंने नस्लवाद के घृणित पैटर्न से 'नायकों' को 'खलनायकों' में बदल दिया। उन्होंने कहा कि खलनायक मूर्तियों के लायक नहीं हैं। 

दरअसल मिनिपोलिस पुलिस विभाग को एक फोन आया। फोन करने वाले ने कहा कि उसे एक आदमी पर जालसाजी करने का शक है। पुलिस बताई हुई जगह पर पहुंची। यहां उनकी मुलाकात हुई जॉर्ज फ़्लायड से। पुलिस ने जॉर्ज को हथकड़ी लगाकर पकडने की कोशिश की। जॉर्ज ने इसका विरोध किया। विरोध के जवाब में डेरेक चॉविन नाम के एक पुलिस अधिकारी ने जॉर्ज के साथ जबरदस्ती की और उन्हें जमीन पर पटक दिया। और अपने बायें पैर से जॉर्ज की गर्दन दबाए रखी। पूरे सात मिनट तक। शुरुआती पांच मिनट के बाद ही जॉर्ज का शरीर शिथिल पड़ चुका था।

Related Story