स्मिता पाटिल की खातिर राज बब्बर ने पहली बीवी और बच्चों को छोड़ दिया था !

By Neetu Oct. 17, 2020, 8:16 p.m. 1k

स्मिता पाटिल बॉलीवुड की एक मंझी हुई एक्ट्रेस मानी जाती थी। उन्होंने आर्ट फिल्मों के साथ कमर्सियल फिल्मों में भी अपनी जगह बनाई। अर्थ, भूमिका, बाजार, मंथन, वारिश समेत कई फिल्मों के लिए उन्हें याद किया जाता है।  17 अक्तूबर 1955 को पुणे शहर में हुआ था स्मिता पाटिल का जन्म। 

पापा शिवाजी राय पाटिल महाराष्ट्र सरकार में मंत्री थे, जबकि उनकी मम्मी सोशल वर्कर थी। कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद स्मिता मराठी टेलीविजन में न्यूज एंकर का काम करने लगी। इसी दौरान उनकी मुलाकात जाने माने फिल्म मेकर श्याम बेनेगल से हुई। इसके बाद उनका फिल्मी सफऱ फिल्म चरण दास चोर से शुरू हुआ। 

हर हीरोइन की तरह स्मिता की लाइफ में भी काफी कंट्रोवर्सीज रही ।  राज बब्बर से उनका अफेयर हो या फिर स्मिता से शादी के लिए राज बब्बर का अपनी पहली वाइफ को छोड़ना, ये सब स्मिता की जिंदगी से ही जुड़ा था । ये प्यार इस कदर परवान चढ़ा कि राज बब्बर ने अपनी पत्नी नादिरा और दो बच्चो को छोड़कर स्मिता से शादी कर ली।

 राज के इस फैसले से पूरी इंडस्ट्री हिल गई थी। स्मिता एक फेमिस्ट थी, वो अक्सर वूमन राइट्स की लड़ाई लड़ती थी । सोशल वेयफेयर का करने वाली संस्था से जुड़ी थीं और ऐसे में स्मिता ने जब नादिरा से उनके पति और बच्चों से उसके पापा को छीना तब उनका बहुत विरोध किया गया। अचानक स्मिता की इमेज होम ब्रेकर की बन गई। वूमन राइट्स की बात करने वाली कई संस्थाओं ने स्मिता का जमकर विरोध किया लेकिन इस सबसे से बेपरवाह स्मिता राज बब्बर के साथ खुश थी। दोनों स्क्रीन पर तो साथ थे ही रीयल लाइफ में भी साथ हो गए।

स्मिता पाटिल से राज बब्बर की मुलाकात फिल्म तर्जुबा के सेट पर हुई थी। इसके बाद दोनों ने फिल्म भीगी पलके में काम किया और कहते हैं इसी फिल्म की शूटिंग के दौरान शादी शुदा राज बब्बर डस्की ब्यूटी स्मिता पर फिदा हो गए । इस कपल ने करीब 11 फिल्मों में साथ काम किया लेकिन कोई भी फिल्म सुपर हिट नहीं रही। फिल्म दर फिल्म इनका प्यार बढ़ता गया और फिर दोनों ने शादी कर ली लेकिन स्मिता को इस शादी की खुशियां ज्यादा दिनों तक नसीब नहीं हुई।

स्मिता मां बनने वाली थी और बेटे प्रतीक के पैदा होने के 15 दिन बाद ही वो चल बसी। 28 नंववर 1986 को प्रतीक का जन्म हुआ और प्रेगनेंसी कॉम्पलीकेशन के कारण 13 दिसंबर 1986 को स्मिता की डेथ हो गई। 

तब स्मिता सिर्फ 31 साल की थी। स्मिता की मौत के बाद राज बब्बर एक बार फिर अपने परिवार के पास लौट आए वहीं स्मिता और राज बब्बर के बेटे प्रतीक को स्मिता के परि वार वालों ने पाला पोसा।

Related Story