कुशाल टंडन के दादा जी हैं ‘लालजी टंडन’, अंतिम विदाई देने लखनऊ पहुंचा पूरा परिवार

By Neetu July 21, 2020, 5:22 p.m. 1k

पूजा राजपूत- मध्य प्रदेश के राज्यपाल और बीजेपी के कद्दावर नेता रहे लालजी टंडन का मंगलवार 21 जुलाई को निधन हो गया है। लालजी टंडन 85 साल के थे। उनके निधन से राजनीतिक जगत में शोक का माहौल है, हर कोई बीजेपी के वरिष्ट नेता को भावपूर्ण श्रद्धांजलि दे रहा है। आपको बता दें कि लालजी टंडन पॉपुलर टीवी एक्टर कुशाल टंडन के दादा थे। अपने दादा के निधन की खबर सुनते ही कुशाल उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए पहुंच गए हैं।

आपको बता दें, कि कुशाल ने अपने स्कूल की पढाई ‘स्किनडीए स्कूल’, ग्वालियर, मध्य प्रदेश से पूरी की है। जिसके बाद उन्होने अपने ग्रेजुएशन की डिग्री ‘हंस राज कॉलेज’ से प्राप्त की थी।

कुशाल अपने माता-पिता के बेहद करीब हैं। कुशाल सोशल मीडिया पर अक्सर अपने पेरेंट्स के साथ तस्वीरें शेयर करते रहते हैं, जिनसे पता चलता है कि वह पूरी तरह से फैमिली ब्वॉय हैं। 

कुशाल की दो बड़ी बहनें भी हैं। टीना और भावना। कुशाल अपनी बहनों के भी काफी करीब हैं।

हांलाकि परिवार के बड़े सदस्य को खोने के गम से पूरे परिवार में दुख का माहौल है। आपको बता दें कि लालजी टंडन का स्वास्थ्य कई दिनों ठीक नहीं था, वह बीमार चल रहे थे, और उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। 

उनकी खराब तबीयत को देखते हुए मध्य प्रदेश के राज्यपाल का कार्यभार आनंदीबेन पटेल को सौंप दिया गया था। आपको बता दें कि लालजी टंडन को गोमती तट के गुलाला घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। भोपाल में हुई कैबिनेट की बैठक में सीएम सहित सभी मंत्रियों ने कैबिनेट की बैठक में दिवगंत राज्यपाल को श्रद्धांजलि दी और प्रदेश में 5 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गई है।

Related Story