सुशांत के पिता ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की कैविएट, पटना से मुंबई केस ट्रांसफर ना करने की गुहार लगाई

By Neetu July 30, 2020, 1:33 p.m. 1k

पूजा राजपूत- अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या केस ने नया रूख ले लिया है। सुशांत के पिता द्वारा पटना में केस दर्ज करवाने के बाद पटना पुलिस इस मामले में रिया चक्रवर्ती को मुख्य संदिग्ध मानते हुए मामले की जांच में जुट गई है। और रिया के खिलाफ सबूत इक्ठ्ठा करने में जुटी है। इसी बीच, रिया चक्रवर्ती ने अपने बचाव में बुधवार को सुप्रीम कोर्ट नें एक पिटीशन दाखिल की। रिया के वकील सतीश मानेशिंदे ने बताया था कि, रिया की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में एक पिटीशन दाखिल की गई है, जिसके तहत उन्होने यह अपील की है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच को मुंबई में स्थानांतरित करने की मांग की गई थी। और अब रिपोर्ट्स के मुताबिक सुशांत के परिवार ने भी सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया है। सुशांत के परिवार ने सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दायर किया हैं।

रसुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई कैविएट में यह अपील की गई है कि रिया की दाखिल की गई पेटीशन की सुनवाई ना की जाए।  उन्होंने अपनी उम्र का हवाला देते हुए पटना से मुंबई केस ट्रांसफर ना करने की गुहार लगाई है।  वहीं रिया ने पटना के राजीव नगर थाने में अपने खिलाफ दर्ज केस की सुनवाई की मांग मुंबई में की है।  सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह का कहना है कि अगर रिया ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है, तो उसे सीबीआई जांच की भी याचिका दायर करनी चाहिए थी। पीटीआई से बात करते हुए विकास सिंह ने कहा “अगर रिया ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है, तो उसे सीबीआई जांच की याचिका दायर करनी चाहिए थी। एफआईआर पटना में दर्ज की गई है, अब उन्होने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर मुंबई में रहने और जांच को स्थानांतरित करने की मांग की है। इससे अधिक और क्या सबूत चाहिए कि मुंबई पुलिस में कोई उसकी मदद कर रहा है।”

विकास सिंह ने यह भी कहा है कि रिया ने सुप्रीम कोर्ट जाकर अपनी पोल खुद ही खोल दी है। कुछ दिन पहले रिया ने खुद ही इस केस की जांच सीबीआई द्वारा करवाए जाने की अपील की थी, और अब वह चाहती है कि जांच मुंबई पुलिस के पास ही जाए। आपको बता दें कि 25 जुलाई को सुशांत के पिता ने पटना के राजीव नगर थाने में रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने, उनके 15 करोड़ रूपये हड़पने, बंधक बनाकर रखने और धमकी देने के आरोप लगाकर मामला दर्ज करवाया था। जिसके बाद इस मामले की जांच करने के लिए मंगलवार को पटना पुलिस की टीम मुंबई पहुंची हुई है।

Related Story