सुशांत केस में कंगना ने लिए बॉलीवुड के चार बड़े नाम, कहां- मुंबई पुलिस इनको बुलाकर करे पूछताछ

By Neetu July 18, 2020, 9:45 a.m. 1k

पूजा राजपूत-अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद अभिनेत्री कंगना रनौत ने कई बड़े खुलासे किये थे। बीते दिनों, कंगना ने दो वीडियो ज़ारी कर बॉलीवुड में नेपोटिज्म को बढ़ावा दे रहे और आउटसाइडर्स के खिलाफ गुटबाज़ी कर रहे मूवी माफियाओं पर निशाने साधे थे और अब एक बार फिर धाकड़ गर्ल ने नए खुलासे करके बॉलीवुड में सनसनी मचा दी है।

हाल ही में कंगना रनौत ने एक टीवी चैनल को दिये इंटरव्यू में बड़ा दावा किया है, कि मुंबई पुलिस ने अभी तक अपनी जांच में चार लोगों से पूछताछ नहीं की है, जिनका इस केस से काफी हद तक संबंध है। इसके साथ ही कंगना ने यह भी दावा किया है कि अगर वह अपने बयानों को साबित करने में असमर्थ रहीं तो वह अपना ‘पद्मश्री पुरस्कार’ लौटा देंगी।

इंटरव्यू के दौरान खुलासा करते हुए कंगना ने कहा कि उन्होने सुशांत केस की जांच कर रहे अधिकारी से कहा था, कि वह उन्हें समन भेजें, चूंकि कंगना इस वक्त मनाली में हैं इसलिए उन्होने यह भी कहा कि उनका बयान लेने के लिए वह किसी शख्स को भेज सकते हैं, तो उसके बाद से ही उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है। 

कंगना कहती हैं “उन्होने मुझे बुलाया और मैने उनसे भी पूछा, कि मैं मनाली में हूं, क्या आप किसी को मेरा बयान लेने के लिए भेज सकते हैं, लेकिन मुझे उसके बाद से कोई जवाब नहीं मिला है। मैं आपको बता रही हूं, अगर मैने ऐसा कुछ भी कहा है, जिसकी मैं गवाही नहीं दे सकती, जिसे मैं साबित नहीं कर सकती और जो कि पब्लिक डोमेन में नहीं है, मैं अपना पद्मश्री पुरस्कार लौटा दूंगी।

आगे कंगना कहती हैं कि “मैं इसके लायक नहीं हूं। मैं ऐसी शख्स नहीं जो ऑफ रिकॉर्ड पर जाएगा(ऐसे बयान देने के लिए) और जो कुछ भी मैने कहा वह सब पब्लिक डोमेन में है।”

अपने इंटरव्यू में कंगना ने इंडस्ट्री चार नामी गिरामी लोगों का नाम लेते हुए पूछा है कि मुंबई पुलिस ने अभी तक उन चार लोगों को समन क्यों नहीं भेजा? इंडस्ट्री के वे चार लोग हैं “फिल्ममेकर करण जौहर, यशराज फिल्मस के मालिक आदित्य चोपड़ा, निर्देशक महेश भट्ट और फिल्म क्रिटीक राजीव मसंद”।

कगंना के मुताबिक मुंबई पुलिस को इन चारों शख्स को बुलाना चाहिए, और इस केस के संबंध में उनसे बात करनी चाहिए।

कंगना कहती हैं कि “मैं यह नहीं कह रही कि कोई चाहता था कि सुशांत मर जाए, लेकिन निश्चित रूप से यह चाहते थे कि वह बर्बाद हो जाए। ये लोग भावनात्मक गिद्ध होते हैं। वे ये देखना चाहते हैं कि व्यक्ति खुद को ही लिंच कर ले। आज तक, महेश भट्ट अपनी फिल्मों के माध्यम से परवीन बाबी की बीमारी को कई संस्करणों में बेच रहे हैं। मुंबई पुलिस क्यों नहीं बुला रही हैं-आदित्य चोपड़ा, महेश भट्ट, करण जौहर और राजीव मसंद को? क्योंकि ये शक्तिशाली हैं? इस इंटरव्यू के बाद मेरे पास केवल खोने के लिए चीजें हैं।”

आपको बता दें, कि सुशांत केस को लेकर कंगना वीडियो जारी कर अपनी आवाज़ उठा रही हैं। एक वीडियो में तो उन्होने यह तक कहा कि सुशांत की कतरा-करता इमोशनल लींचिंग करके उन्हें मारा गया था। अब देखना यह होगा कि कंगना के इस बयान के बाद इस केस में दोबारा कौन-सा नया मोड़ आता है।

Related Story