अब माउंटेन मैन दशरथ मांझी के परिवार की मदद करेंगे सोनू , पाई-पाई का मोहताज हुए उनके घर वाले

By Neetu July 25, 2020, 2:19 p.m. 1k

नम्रता शर्मा - बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद(Sonu Sood) पिछले कुछ महीनों से जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं और लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। प्रवासी मजदूरों के लिए सोनू सूद किसी मसीहा से कम साबित नहीं हुए और अभी भी सोनू सूद गरीब और जरूरतमंदों की हर संभव मदद करने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं। 

हाल ही में सोनू सूद ने हिमाचल प्रदेश के परिवार की मदद करने की बात कही थी और अब खबरें आ रही हैं की सोनू दशरथ मांझी के परिवार की भी मदद करेंगे।

बता दे दशरथ मांझी वही हैं जिनके ऊपर नवाजुद्दीन सिद्दीकी(Nawazuddin Siddiqui) की फिल्म द माउंटेन मैन आई थी। पिछले कई दिनों से खबर आ रही  हैं कि दशरथ मांझी के परिवार के लोग आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं। परिवार के पास एक वक्त की रोजी रोटी का जुगाड़ करने का भी साधन नहीं है। पूरा परिवार पाई पाई का मोहताज है। जैसे ही ये खबर सोशल मीडिया पर आई और सोनू सूद तक पहुंची। देखते ही देखते सोनू सूद ने मांझी परिवार की मदद का आश्वासन दे दिया।

दरअसल ट्विटर पर एक यूजर ने अखबार में छपी दशरथ मांझी के परिवार की खबर को ट्वीट करते हुए सोनू सूद को टैग किया और उन्हें पूरी खबर से अवगत कराया। इस खबर के अनुसार दशरथ मांझी(Dashrath Manjhi) और उनका पूरा परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा है और उनके पास खाने-पीने की कोई व्यवस्था नहीं है।

 

ट्विटर पर अंकित राजगढ़िया नाम के यूजर ने लिखा- सर ये दशरथ मांझी हैं। इन्हें माउंटेन मैन के नाम से जाना जाता है। इनके ऊपर फिल्म भी बनी है। इन्होंने अपनी पत्नी के प्रेम में पहाड़ को काटकर सड़क बना दी थी। आज ये दाने दाने के लिए मोहताज हैं। आज इन्हें आपकी मदद की सख्त जरूरत है। सोनू सूद ने इस ट्वीट को री ट्वीट करते हुए जवाब दिया और लिखा- आज से तंगी खत्म।आज ही हो जाएगा भाई।

आपको बता दें माउंटेन मैन के नाम से जाने जाने वाले दशरथ मांझी ने 22 साल एक बड़े विशालकाय पर्वत को काटकर उसमें से रास्ता बनाया था। इनकी कहानी फिल्म मांझी के जरिए बड़े पर्दे पर दिखाई गई थी। अब सोनू सूद तक परिवार की माली हालत की जानकारी पहुंच गई है। उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही इस परिवार तक मदद पहुंच जाएगी।

आपको याद दिला दें सोनू सूद इन दिनों किर्गिस्तान में फंसे लगभग 2500 भारतीय विद्यार्थियों को भारत लाने का काम कर रहे हैं, जिसके लिए उन्होंने स्पाइस जेट की फ्लाइट बुक कराई हुई हैं। पहली फ्लाइट के जरिए 135 स्टूडेंट्स भारत पहुंच चुके हैं। अब जल्द से जल्द बाकी फ्लाइट भी भारत में पहुंच रही हैं और किर्गिस्तान में फंसे स्टूडेंट भी अपने घर वापसी कर रहे हैं।

Related Story