सॉफ्टवेयर इंजीनियर नौकरी जाने पर सब्जी बेच रही थी, सोनू सूद ने दिलाई नई नौकरी

By Neetu July 28, 2020, 3:10 p.m. 1k

नम्रता शर्मा -  बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद(Sonu Sood) लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बनकर सामने आए। सोनू सूद ने लगभग 20,000 से भी ज्यादा मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाया और सभी की तारीफ बटोरी। इतना ही नहीं अभी भी सोनू सूद लगातार जरूरतमंदों और गरीबों की मदद कर रहे हैं। हाल ही में सोनू सूद ने हिमाचल प्रदेश के परिवार की मदद करने का ऐलान किया था। इतना ही नहीं खेतों में काम कर रही बच्चियों के घर ट्रैक्टर भेजने को लेकर भी रातों-रात सोनू सूद सुर्खियों में आए थे। अब हाल ही में सोनू सूद ने कुछ ऐसा कर दिखाया है जिससे एक बार फिर हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। दरअसल इस बार सोनू सूद ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर चुकी लड़की की मदद की है। हैदराबाद की रहने वाली शारदा की कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन में नौकरी चली गई थी जिस वजह से बीटेक करने के बाद भी शारदा को अपना घर चलाने के लिए सब्जी बेचने पड़ रही थी लेकिन सोनू सूद ने मदद के हाथ आगे बढ़ाते हुए उस लड़की का इंटरव्यू करवाया और अब जॉब लेटर शारदा के घर पहुंच चुका है।

दरअसल शारदा(Sharda) का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया गया था और इस वीडियो में जानकारी दी गई थी कि कोविड-19 की वजह से लगे लॉकडाउन के दौरान उनकी नौकरी चली गई। ऐसे में ये सब्जी बेच रही हैं। एक यूजर ने इस वीडियो में सोनू सूद को टैग करते हुए लिखा था- डियर सोनू ये शारदा है जिसे कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से नौकरी से निकाल दिया गया है लेकिन हार ना मानते हुए अपने परिवार की मदद कर रही हैं और सब्जी बेच रही हैं। प्लीज देखें अगर आप इनकी किसी भी तरह से मदद कर सकते हैं तो । उम्मीद है आप जवाब देंगे ।

सोनू ने भी इस अपील का जवाब देते हुए लिखा- मेरे अधिकारी उनसे मिले, इंटरव्यू हो चुका है जॉब लेटर भी भेजा जा चुका है। जय हिंद। सोनू के इस जवाब पर हर कोई उनकी तारीफ करता और उनको दुआएं देते नजर आया। आपको बता दें निम्न मध्यमवर्गीय परिवार से आने वाली शारदा ने बड़ी मुश्किल से बीटेक की पढ़ाई पूरी की थी। फिर जब पहली नौकरी मिली तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। 3 महीने की ट्रेनिंग चली इसके बाद सीधे प्रोजेक्ट पर काम करना था इसी बीच हैदराबाद में कोरोना को लेकर बंदी का दौर शुरू हो गया।एक महीने तो किसी तरह से काम चल गया लेकिन इसके बाद कंपनी ने शारदा को सीधा मना कर दिया और कह दिया कि प्रोजेक्ट नहीं मिल रहे है इसलिए सैलरी नहीं दे सकते। शारदा ने भी हार नहीं मानी और अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए सब्जी का ठेला लगा लिया। हाल ही में एक टीवी चैनल के पत्रकार ने उनका इंटरव्यू किया था और ये वीडियो क्लिप देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गई जिसमें एक यूजर ने सोनू सूद को टैग करके सारी जानकारी दे दी।

बहरहाल एक बार फिर सोनू सूद की इस दरियादिली की लोग प्रशंसा कर रहे हैं। आपको बता दें हाल ही में सोनू सूद ने किर्गिस्तान में फंसे लगभग 2500 भारतीय विद्यार्थियों को भी भारत लाने की मुहिम छेड़ी हुई है।

Related Story