छोटे भाई ईशान के जन्म पर दोस्तों संग खूब नाचे थे शाहिद कपूर, नीलिमा ने किया खुलासा

By Aditi May 18, 2020, 9:09 p.m. 1k

रूपाली जायसवाल- प्यार और भरोसा किसी भी रिश्ते को बनाने और उसे बनाए रखने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है। बॉलीवुड स्टार्स, फ़िल्मों से तो हमे काफी कुछ सीखते ही हैं साथ ही सेलेब्स की पर्सनल लाइफ भी हमे काफी ज्यादा इंस्पायर करती है। बी-टाउन के शाहिद कपूर और ईशान खट्टर के भाई की जोड़ी से भी फैन्स को काफी ज्यादा इंस्पिरेशन मिलती है। शाहिद कपूर और ईशान खट्टर के बीच की स्ट्रॉन्ग बॉन्डिंग से तो हर कोई वाकिफ है दोनों ही भाइयों के बीच बेशुमार प्यार है। शाहिद हमेशा एक बड़े भाई के तौर पर ईशान को प्रोटेक्ट करते हैं और उन्हें सही-गलत के बीच का डिफरेंस बताते हैं। 

हालांकि ईशान आज जो कुछ भी हैं वो अपनी मेहनत के दम पर हैं फिर भी शाहिद टाइम-टाइम पर ईशान को चीजों को सेलेक्ट करने में अपनी राय देते रहते हैं। दो सौतेले भाइयों के बीच इतना प्यार होना वाकई काबिल-ए-तारीफ वाली बात है। दोनों की बॉन्डिंग पर हाल ही में मां नीलिमा आज़मी ने बात की है। नीलिमा ने एक लीडिंग टेबलाइड को दिए इंटरव्यू में बताया कि- "शाहिद ही था जो चाहता था कि मैं एक और बच्चे को जन्म दूं, और वो भी खास कर लड़के को।

शाहिद 14 साल का था और हम (मैं और राजेश खट्टर) हमारी लाइफ काफी अच्छी तरीके से जी रहे थे। मैं खुशी से काम कर रही थी और मैंने उस टाइम तक किसी बच्चे को जन्म देने की कोई प्लानिंग नहीं की थी लेकिन शाहिद एक भाई चाहते थे। इसलिए मुझे याद है जब मैं प्रेगनेंट थी तो मैं एक लड़की चाहती थी, लेकिन शाहिद की विश पूरी हुई और ईशान के बर्थ के बाद मेरे डॉक्टर ने हमें पहले बधाई नहीं दी। उन्होंने कहा शाहिद को बधाई। आपका बेबी भाई आया है। नीलिमा ने आगे बताया कि ये खबर जानने के बाद शाहिद फूले नहीं समाए और घर वापस आने के बाद वो तुरंत अपने दोस्तों के पास गए और वहां जाकर जमकर डांस किया।

आपको बता दें कि शाहिद कपूर जब 3.5 साल के थे तभी नीलिमा अजीम और पंकज कपूर का डायवोर्स हो गया। पंकज कपूर से अपने टूटे रिश्ते पर बात कार्य हुए नीलिमा ने कहा- " मैं कहना चाहती हूं कि मैं पंकज से अलग नहीं हुई थी, पंकज ने मूवऑन करना चुना था। यही सच्चाई है। वो आगे बढ़े और मेरे लिए ये एक्सेप्ट करना बहुत मुश्किल भरा रहा। हालांकि, पंकज के भी अपने रिजन हो सकते हैं। हम अच्छे दोस्त हैं। शायद मैं 15 साल की थी जब मेरी और पंकज के बीच दोस्ती हुई।

 नीलिमा आगे कहती हैं कि जब हमारा ब्रेकअप हुआ, यानी डिवोर्स, तो ये हम दोनों के लिए ही काफी मुश्किल था। दोस्ती और जुड़ाव के बीच दिल टूटा था। ठीक है वो अब अपने परिवार के साथ हैं और सेटल हैं। मैं उनके लिए खुश हूं और उनकी सलामति के लिए दुआ करती हूं। 

Related Story