46 साल की हुईं रवीना टंडन, बांद्रा इलाके में परिवार के साथ एक आलीशान बंगले में रहती हैं

By Neetu Oct. 26, 2020, 12:50 a.m. 1k

 रवीना टंडन 90 के दशक की मशहूर एक्ट्रेस रही हैं। मोहरा, दिलवाले, अंदाज अपना अपना, पत्थर के फूल और दमन समेत कई फिल्मों में उन्होंने काम किया। मोहरा फिल्म में रवीना को बहुत पसंद किया गया और फैंस ने उन्हें मस्त-मस्त गर्ल कहना शुरू कर दिया।  रवीना 46 साल की हो गई हैं। 26 अक्टूबर 1974 को उनका जन्म मुंबई में हुआ। उनके पिता रवि टंडन मशहूर फिल्म मेकर रहें। रवीना ने पहले मॉडलिंग की और फिर फिल्मों में आईं। सलमान खान के अपोजिट फिल्म पत्थर के फूल से वो लॉन्च हुईं। ये फिल्म एवरेज हिट रहीं लेकिन रवीना को पहली ही फिल्म से स्टारडम मिल गया। रवीना टंडन ने 22 जनवरी 2004 को फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर अनिल थडानी से शादी की। वो अब दो बच्चों की मां हैं। रवीना ने दो बेटियों को भी गोद ले रखा है जिनका नाम छाया और पूजा है। 

रवीना अपने पति और दो बच्चों के साथ मुंबई के बांद्रा में रहती हैं। एक आलीशान तीन मंजिला बिल्डिंग में वो रहती है। इस बंगले का नाम है 'नीलया'। समंदर के करीब ही उनका ये खूबसूरत घर हैं।

घर के एक एक कोने को बहुत सोच विचार के बाद उन्होंने सजाया। काले पत्थर और पेड़ पौधे उनके घर को एक अलग लुक देते हैं। 

रवीना का घर बहुत खुला और खूबसूरत है। उनके लिविंग रूम में नेचुरल रोशनी आती है। लिविंग रूम बहुत हवादार और खुला है। 

 सपनों के इस घर को सजाने के लिए ज्यादातर चीजें रवीना ने खुद चुनी हैं। घर के अंदर वुड फ्लोरिंग है।  

रवीना ने अपने घर में लाइ्टस और दीवारों की साज सज्जा का खास ख्याल रखा है। घर की सजावट की ज्यादातर चीजें रवीना ने खुद खरीदी हैं। वो जब भी विदेश जाती हैं अपने घर की सजावट की चीजें लेकर आती हैं।  

रवीना ने अपने घर के फर्नीचर और पर्दों के रंग का कॉम्बिनेशन बहुत खूबसूरती से चुना है। रवीना और अनिल ने अपने आशियाने को नेचर के करीब जाते हुए उसी अंदाज में डिजाइन करवाया है।

यहां रवीना की आर्टिस्टिक सोच की झलक दिखती है तो उनका प्रकृति प्रेम भी।

रवीना का बंगला बहुत भव्य है। बंगले को देखकर साफ लगता है कि उनकी पसंद बहुत क्लासिक है। 

अपने घर के बारे में रवीना बताती हैं, "मैं अपने बंगले में फ्यूजन चाहती थी। मुझे केरल में बने घर बेहद पसंद हैं और वहीं से प्रेरणा लेते हुए मेरा यह घर डिजाइन हुआ है।

रवीना ने अपने बंगले को काले, लाल और ग्रे पत्थरों से इसे सजाया गया है। बंगले में एक मंदिर भी है, जिसमें बैठकर परिवार के लोग पूजा-अर्चना करते हैं।

यह रवीना की फेवरेट जगह भी है। इसे बनवाते वक्त वास्तु का भी पूरा ध्यान रखा गया है। मंदिर को इस तरह बनवाया है कि सूरज की रोशनी वहां पूरे समय आती है।

रवीना के घर का एंट्रेंस बहुत सुंदर है। घर के दरवाजे  के पास ही गणेश जी की खूबसूरत मूर्ति ध्यान खींच लेती है।

Related Story