ISOMES के मंथन में मनोज ने सुनाए 'तेरी मिट्टी' गाने के कुछ अनसुने बोल

By Aditi March 4, 2020, 12:28 p.m. 1k

 

BAG नेटवर्क के मीडिया इंस्टीट्यूट ISOMES के सालाना कार्यक्रम मंथन का आगाज हो चुका है। दो दिनों तक चलने वाले इस कार्यक्रम में कई सितारे शिरकत कर रहे हैं। ये कार्यक्रम , 4 और 5 मार्च तक चलने वाला है। वहीं इस कार्यक्रम में बॉलीवुड के कई सितारे शामिल हो रहे हैं। आज इस खास कार्यक्रम में बॉलीवुड के मशहूर युवा गीतकार-शायर और कवि मनोज मुंतशिर पहुंचे हैं। 

 मनोज ने बॉलीवुड में ऐसे गाने लिखे हैं जो कि बेहद ही अलग और खास रही है। उनके गानों का जोनर भी बिल्कुल अलग रहा है। ISOMES के सालाना कार्यक्रम मंथन के मंच पर उन्होंने अपने गाने तेरी मिट्टी के कुछ खुलासे किए है जो आज से पहले उन्होंने कभी नहीं किए। पिछले साल रिलीज हुई अक्षय कुमार की फिल्म केसरी जिसने बॉक्स ऑफिस पर खूब धमाल किया था। इस मूवी के साथ-साथ लोगों ने लोगों इसके गानों को भी खूब पसंद किया था। इस फिल्म का फेमस गाना 'तेरी मिट्टी' आज भी सुपरहिट है। इस गाने के बोल बेहद खूबसूरत हैं। इसके कुछ बोल है  जो लेखक मनोज मुंतशिर ने लिखे हैं। जो आपके रोंगटे खड़े कर देगा। आप इस वीडियो में सुने । 

आपको बता दें कि इससे पहले मनोज ने हाफ गर्लफ्रेंड, एमएस धोनी, नोटबुक, सनम रे जैसी फ‍िल्‍मों के गीत ल‍िखे हैं। बीते दिनों एक इंटरव्यू में मनोज मुंतश‍िर ने बताया था कि- 'तेरी मिट्टी केसरी फ‍िल्‍म का आखिरी गाना था। धर्मा प्रोडक्‍शंस के म्‍यूजिक सुपरवाइजर अजीम दयानी ने मुझे फोन किया और बुलाया। मैं उनके साथ कपूर एंड संस और लवरात्रि में काम कर चुका था। 

इसके बाद मेरी मुलाकात केसरी के डायरेक्‍टर अनुराग जी से हुई और मुझे फिल्‍म की सीक्‍वेंस दिखाई गई। ओरको इसके कंपोजर हैं, उन्‍होंने गाने की धुन सुनाई। बिना शब्‍दों के धुन सुनते ही अंदर कुछ हुआ और आधे घंटे में कलम से निकला 'मेरी मिट्टी में मिल जावां, गुल बनके मैं खिल जावां...।' मनोज मुंतशिर ने कहा- ये गाना मोहब्‍बत से भरा है जिसमें माशूका की जगह देश से प्‍यार की बात की गई है। भारत में रहने वाले हर शख्‍स के डीएनए में देशभक्ति है और यही वजह है कि इस गाने को खूब प्‍यार मिला। 

Related Story