फेसबुक पर तस्वीर शेयर कर कार्तिक बन गए बॉलीवुड में हीरो, जानिए क्यों हटाया तिवारी सरनेम ?

By Arunima Nov. 22, 2020, 1:42 a.m. 1k

बॉलीवुड एक्टर कार्तिक आर्यन 22  नवंबर को अपना 30वां जन्मदिन मना रहे हैं। कार्तिक का जन्‍म मध्‍य प्रदेश के ग्वालियर में 1990 को हुआ था। बॉलीवुड में पहले उनका नाम कार्तिक तिवारी था, बाद में उन्होंने तिवारी हटाकर आर्यन कर लिया। कार्तिक ने अपने नाम को स्टाइलिश बनाने के तिवारी सरनेम हटा लिया। कार्तिक के माता और पिता दोनों ही डॉक्‍टर हैं। कार्तिक ने डी वाय कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग नवी मुम्‍बई से बॉयोटेक्‍नोलॉजी में इंजीनियरिंग की डिग्री ली है। बचपन से ही कार्तिक एक्टर बनना चाहते थे और इसी सपने को लेकर जब वो मुंबई पहुंचे तो उन्हें बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। करोड़ों कमाने वाले कार्तिक कभी 12 लोगों के साथ एक ही फ्लैट में रहा करते थे।

कार्तिक आर्यन के घर पर शुरुआत से ही पढ़ाई वाला माहौल रहा। कार्तिक के पिता मनीष तिवारी और मां प्रगति तिवारी, दोनों पेशे से डॉक्टर हैं। उनका नाता दूर-दूर तक फिल्मी जगत में किसी से नहीं था लेकिन अपने अभिनय के दम पर और किसी की मदद के बिना, कार्तिक आज एक कामयाब कलाकार बन गए हैं। एक्टर बनने का सपना लेकर कार्तिक मुंबई आ गए और उन्होंने इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला ले लिया। यहां वो रोज ऑडिशन देने जाया करते थे। उस समय कार्तिक 12 लोगों के साथ एक ही फ्लैट में रहा करते थे। तीन फिल्में करने के बाद भी वो इन्हीं लोगों के साथ रहते रहे।

कार्तिक को उनकी पहली फिल्म फेसबुक के जरिए मिली थी। कहा जाता है कि निर्देशक लव रंजन ने फेसबुक पर कार्तिक की एक तस्वीर देखी थी। जिसके बाद उन्होंने कार्तिक को अपनी फिल्म के लिए ऑडिशन देने को कहा इसके बाद उन्हें ‘प्यार का पंचनामा’ फिल्म के लिए साइन कर लिया गया। प्यार का पंचनाम फिल्म में कार्तिक के अलावा और भी कई एक्टर भी थे लेकिन उनके पांच मिनट के मोनोलॉग की वजह से वे लोगों की नजरों में आए गए। कार्तिक ने इस फिल्म के हिट होने के बाद कहा था कि उन्होंने अपने इस 5.29 मिनट के मोनोलॉग को याद करने में पांच दिन लगाए थे और ये मोनोलॉग उन्होंने केवल दो टेक में ही बोल दिया था।

Related Story