पहली ही फिल्म से स्टार बन गई थी आमिर खान की एक्ट्रेस ग्रेसी सिंह, क्या ये भी नेपोटिज्म का शिकार हुई थीं

By Arunima July 18, 2020, 11:19 p.m. 1k

टीवी सीरियल 'अमानत' में डिंकी के रोल में ग्रेसी सिंह (Gracy Singh) को खूब पसंद किया गया। इसके तुरंत बाद उसे फिल्मों से भी ऑफर आने लगे। उस समय आमिर खान आशुतोष गोवारिकर की फिल्म 'लगान' प्रोड्यूस करने जा रहे थे। इस फिल्म में उन्हें हीरोइन की तलाश थी जो एक गांव की लड़की की भूमिका निभा सके। ग्रेसी ने स्क्रीन टेस्ट दिया और उसका सेलेक्शन हो गया। उस समय के सुपर स्टार आमिर खान के साथ फिल्म में डेब्यू करना बड़ी बात थी। 

ग्रेसी सिंह ने 'लगान' का रोल पूरी शिद्दत के साथ किया और फिल्म में उसे खूब पसंद भी किया गया। ऐसा लग रहा था जैसे ग्रेसी सिंह अगली हीरोइन नंबर वन बनने जा रही हों। उस समय माधुरी दीक्षित, श्रीदेवी, करिश्मा कपूर सबका करियर ढलान पर था। ग्रेसी को तुरंत तीन बड़ी फिल्में मिल गईं अनिल कपूर के साथ 'अरमान', संजय दत्त के साथ 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' और अजय देवगन के साथ 'गंगाजल'। ये तीनों फिल्में अच्छी चलीं। पर इसके बाद ग्रेसी का क्या हुआ?

20 जुलाई को चालीस साल की होने वाली एक फौजी की बेटी ग्रेसी सिंह में वो सब क्वालिटीज थीं, जो एक हीरोइन में होनी चाहिए। सुंदर, शालीन, टैलेंटेड और मेहनती। फिल्में नहीं मिलने पर ग्रेसी ने बी ग्रेड की फिल्में करनी शुरू कर दी। 2008 में उन्होंने कमाल आर खान यानी केआरके की फिल्म 'द्रेशद्रोही' की। फिल्मों में गुंजाइश ना देखते हुए ग्रेसी सिंह ने दूरी बना ली और टीवी पर एंट्री की। यह वही वक्त था जब करीना कपूर डेब्यू कर चुकी थी। रानी मुखर्जी, ऐश्वर्या राय और प्रीटि जिंटा टॉप पर थीं। इन सबके बीच ग्रेसी को किसी ने नहीं पूछा। जैसे ही उसकी एक फिल्म फ्लॉप हुई, उसके पास ऑफर आने लगभग बंद हो गए। 

ग्रेसी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘मैं मेहनत कर सकती हूं, चापलूसी नहीं। फिल्म इंडस्ट्री की खेमेबाजी मुझे समझ नहीं आती। रोल हासिल करने के लिए प्रोड्यूसर के पास जाना, पार्टी अटैंड करना मेरे बस की बात नहीं थी। मुझे पता ही नहीं चला कब मेरे पास काम आना बंद हो गया है।’ 

ग्रेसी सिंह एक ट्रैंड डांसर है। शिकायत करने के बजाय वह डांस परफॉर्मेंस देने लगीं। फिल्म क्रिटिक राजा कहते हैं, ‘बाहर से आए एक्टर अगर अपने पत्ते सही से ना खेलें तो बहुत जल्द गेम से बाहर हो जाते हैं। जैसे चंद्रचूड़ हुए। ग्रेसी भी इसी गेम का शिकार हो गई।’

बहुत सालों बाद ग्रेसी संतोषी मां की भूमिका में टीवी में लौटीं। ग्रेसी ने ग्रेसफुली कहा कि उन्हें किसी से शिकायत नहीं, और अब जब वे स्पिर्चुअल हो गई है तो और भी नहीं। नेपोटिज्म और फेवरेट के चलते एक अच्छी अदाकारा को कई प्रोजेक्ट से हाथ धोना पड़ा।  मीडिया रिपोटर्स के मुताबिक ब्रह्मकुमारी संस्था की सदस्य होने के नाते ग्रेसी सिंह शादी नहीं कर रही हैं। एक इंटरव्यू में ग्रेसी सिंह ने कहा था कि उनका खुद के लिए कोई प्लान नहीं है। घरवाले शादी के लिए कहते हैं लेकिन अभी तक उन्होंने इस बारे में कुछ नहीं सोचा है।

Related Story