कोरोना से लड़ाई में एकजुट हुआ बॉलीवुड, घर में ही कैसे बढ़ाएं ऑक्सीजन बता रहे हैं स्टार्स।

By Pooja May 4, 2021, 4:19 p.m. 1k

कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में तांडव मचाया हुआ है। कोरोना का कहर ऐसा है कि पूरा देश त्राहिमाम-त्राहिमाम बोल रहा है। दिल्ली, मुंबई, हरियाणा, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश समेत कई राज्यों में ऑक्सीजन सिलेंडरों की भारी किल्लत, अस्पताल में बेड, आईसीयू, वेंटिलेटर और दवाईयों की कमी ने इस कठिन वक्त में लोगों की मुश्किलों में इज़ाफा ही किया है। ऐसे में स्वास्थय मंत्रालय और डॉक्टरों ने ‘प्रोनिंग थेरेपी’ को कोरोना से लड़ाई में मददगार बताया है। जिसके ज़रिये कोरोना पीड़ित अपने गिरते ऑक्सीजन लेवल को बढ़ा सकते है।

इसी को लेकर सोशल मीडिया पर एक मुहीम छेड़ी जा रही है। जिसके समर्थन में कई बॉलीवुड स्टार्स भी उतर आए हैं। वरूण धवन, नोरा फतेही, ऋद्धा कपूर जैसे स्टार्स जो इंस्टाग्राम पर लाखों की फैन फॉलोइंग रखते हैं।

अब ये स्टार्स अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स के ज़रिए अपने फैंस को ‘प्रोनिंग थेरेपी’ के प्रति जागरुक कर रहे हैं। और बता रहे हैं कि कैसे कोरना पीड़ित के गिरते ऑक्सीजन लेवल को प्रोनिंग एक्सरसाइज़ से ठीक किया जा सकता है।

दरअसल हाल ही में खबर आई थीं, कि 82 साल की एक बुजुर्ग महिला पेट के बल लेटकर ‘प्रोनिंग थेरेपी’ के ज़रिये कोरोना वायरस को मात देने में कामयाब रही थीं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी यह साफ कर दिया है कि प्रोनिंग की यह स्थिति मरीज की जान तक बचा सकती है। तो अब इस महीम में सरकार को बॉलीवुड सितारों को भी साथ मिल गया है। जो पोस्ट शेयर लोगों को संदेश दे रहे हैं ऑक्सीजन लेवल कम होने की स्थिति में पैनिक किये बगैर, पांच तकियों को शरीर के नीचे रखकर पेट के बल लेटने से गिरते ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाया जा सकता है।

इसके अलावा तमाम बॉलीवुड स्टार्स सोशल मीडिया के ज़रिये भी लोगों तक मदद पहुंचाने की मदद कर रहे हैं। करीना कपूर ने भी इंस्टाग्राम पर एक चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर शेयर किया था। इस संस्था के ज़रिये उन बच्चों की मदद की जा रही है जो महामारी के इस भयंकर दौर में अपने माता-पिता को खो चुके हैं, या फिर उनके पेरेंट्स कोविड-19 की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं।लोगों तक मदद पहुंचाने की मदद कर रहे हैं। करीना कपूर ने भी इंस्टाग्राम पर एक चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर शेयर किया था। इस संस्था के ज़रिये उन बच्चों की मदद की जा रही है जो महामारी के इस भयंकर दौर में अपने माता-पिता को खो चुके हैं, या फिर उनके पेरेंट्स कोविड-19 की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं।

Related Story