74 साल के हुए शत्रुघ्न सिन्हा, शत्रुघ्न सिन्हा ने हीरो ही नहीं, विलेन के रूप में खूब लूटी थी महफिल

By Arunima Dec. 9, 2019, 7:27 p.m. 1k

बॉलीवुड वेट्रन एक्टर और कांग्रेस के नेता शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha का आज (9 दिसंबर) 74वां बर्थडे है। बिहार में जन्म शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha ने देवानंद Dev Anand की फिल्म 'प्रेम पुजारी' Prem Pujari से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। जब भी शॉटगन का नाम आता है तो दिमाग में एक एक्टर की इमेज बन जाती है और वो नाम है शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha। 

शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha एक ऐसी जगह से आते हैं, जहां उनके आस-पास कोई भी फिल्मी जगत से जुड़ा व्यक्ति नहीं था। हालांकि, फिर भी उस दौर में उन्होंने अपनी मेहनत और लगन के दम पर फिल्म पर्दे पर कई साल तक राज किया। खास बात ये है कि शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha भले ही विलेन के रुप में उभरे, लेकिन वो उस वक्त के ऐसे विलेन थे, जिनके लिए तालियां बजती थीं। 

साथ ही थियेटर में लोग शत्रुघ्न Shatrughan Sinha का सपोर्ट करते थे और हीरो को पीटने के लिए कहते थे, जो उस वक्त नहीं होता था। उस दौरान विलेन होने की बाद भी फिल्म के पोस्टर शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha की तस्वीर के साथ बनाए जाते थे। शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha का जन्म बिहार Bihar की राजधानी पटना Patna  में 9 दिसंबर को हुआ था।

 बिहारी बाबू के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha के पिता एक डॉक्टर थे और उनके चार भाई हैं। इन चार भाइयों का नाम दशरथ के बेटों की तरह राम RAM, लखन Lakhan, भरत BARAT और शत्रुघ्न Shatrughan है। अपनी कड़क आवाज से अपनी छाप छोड़ने वाले शत्रुघ्न Shatrughan Sinha ने पटना साइंस कॉलेज से ग्रेजुएट की और उसके बाद अपने दोस्त के बताने पर एफटीआईआई से पढ़ाई की।

 अपनी एक्टिंग पर लगन से काम करने वाले शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughan Sinha अपने शॉटगन के नाम से मशहूर हुए। उन्हें देवानंद की फिल्म प्रेम पुजारी Prem Pujari  से ब्रेक मिला, जिसमें उन्होंने पाकिस्तानी मिलिट्री ऑफिसर का किरदार निभाया था। उसके बाद उनकी कई फिल्में आईं और उन्होंने अपनी फिल्मों से लाखों- करोड़ों लोगों का अपना फैन बना लिया।

 उनकी यादगार फिल्मों में 'मेरे अपने, कालीचरण, विश्वनाथ, दोस्ताना, क्रांति, नसीब, काला पत्थर, लोहा' जैसी फिल्मों का नाम है, जिन्होंने इतिहास रच दिया। अभिनेता से राजनेता बनने वाले शत्रुघ्न सिन्हा 1991 में बीजेपी में शामिल हुए थे।

 उन्होंने राजनीति में आने का फैसला इसलिए किया था, क्योंकि वो उन्हें हीरो बनाने वाले फैंस के लिए कुछ काम करना चाहते थे।

Related Story