बॉलीवुड की 10 फ़िल्में जो सिखाती हैं दोस्ती का पाठ

By Neetu Aug. 2, 2020, 6:49 p.m. 1k

अदिति त्यागी -बॉलीवुड(Bollywood) ने फिल्मों के जरिए दोस्ती के कई रंग दिखाए हैं। कुछ फिल्में दोस्त के बलिदान  पर बनीं तो कुछ दोस्तों के साथ सैर सपाटा पर ।  शोले के जय वीरू हो या थ्री इडियट्स , जिंदगी ना मिलेगी दोबारा के घुमक्कड़ दोस्त हो या फिर छिछोरे फिल्म के आवारा दोस्त। यारों पर बनी इन फिल्मों ने दर्शकों के दिल पर खूब राज किया है। चलिए आज आपको बताते हैं बॉलीवुड की वो फिल्मे जिन्होंने दोस्ती (Friendship)के ऊपर एक अलग मिसाल कायम की है।

1. काई पो छे -

सुशांत राजपूत (Sushant Singh Rajput) की पहली बॉलीवुड फिल्म काई पो छे (Kai Po Che) की कहानी तीन दोस्तों की है। साल 2013 में आई ये फिल्म हिट रही थी। फिल्म की कहानी बताती है कि दोस्ती धर्म या राजनीति से ऊपर है। 

2 . थ्री इडियट्स -

 फरहान, राजू और रैंचो की दोस्ती की कहानी है थ्री इडियट्स। इंजीनियरिंग कॉलेज में तीनों दोस्तों बनते हैं और हर सुख दुख में साथ रहते हैं। कॉमेडी फिल्म थ्री इडियट्स में इनकी यारी के कई रंग दिखे। साथ मिलकर खूब बदमाशियां की तो बुरे वक्त में यार का साथ भी निभाया। 

3 . शोले -

फिल्मों के इतिहास में जय और वीरू की दोस्ती  अमर रहेगी। शोले (Sholay) को एक ऑल टाइम क्लासिक  माना जाता है।  जय (अमिताभ बच्चन) और वीरू (धर्मेंद्र देओल) की दोस्ती की मिसाल आज भी दी जाती है। 

4 . दिल चाहता है 

भले ही दोस्तों में अनबन हो जाए लेकिन  किसी मुश्किल में पड़ जाए तो सबसे पहले यार ही याद आते हैं। साल 2001 में आई दिल चाहता है एक सुपर हिट फिल्म थी। आमिर खान, अक्षय खन्ना और सैफ अली खान इस फिल्म में थे। इनकी दोस्ती में गोवा की मस्ती थी, तो लड़ाई का चैप्टर भी आया और फिर आखिर में तीनों दोस्त एक हो गए  । 

5 . मुन्नाभाई एमबीबीएस -

मुन्नाभाई और सर्किट की यारी भी दर्शकों को खूब पसंद आई। मुन्ना भाई एमबीबीएस और लगे रहो मुन्ना भाई में इनका गजब का याराना दिखा। इन फिल्मों में  में मुन्ना की हर मुसीबत को सर्किट चुटकी में निबटाता दिखा। 

6.  ये जवानी है दीवानी -

ये जवानी है दीवानी(Yeh Jawani Hai Deewani)  शायद रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor)और दीपिका पादुकोण(Deepika Padukone)  के बीच  हुई केमिस्ट्री के लिए याद किया जाता है लेकिन फिल्म में यह भी दिखाया गया है कि किसी की जिंदगी में दोस्ती कितनी महत्वपूर्ण है । रणबीर कपूर और दीपिका पादुकोण के साथ जो बच्ना एई हसीनो के बाद दूसरी बार एक साथ नजर आए थे, इस फिल्म में आदित्य रॉय कपूर और कल्कि कोचलिन भी थे जो रणबीर कपूर के करीबी दोस्त के रूप में नजर आए थे । तीनों दोस्तों को बेहद करीबी दिखाया गया और वे अपने कॉलेज के दिनों से ही साथ थे । 

7.  ज़िन्दगी ना मिलेगी दोबारा -

ज़ोया अख्तर की जिंदगी ना मिलेगी दोबारा (Zindagi Na Milegi Dobara) दोस्ती की एकदम सही मिसाल हैं । यह तीन दोस्तों की कहानी है जो स्पेन घूमने जाते है ।  साल 2011 में आई इस फिल्म को बहुत पसंद किया गया।

8 . छिछोरे -

 सुशांत सिंह की फिल्म छिछोरे (Chhichhore) भी दोस्ती के नाम है। कॉलेज के दोस्त आगे चलकर भले ही अपनी लाइफ में कितने भी बिजी क्यों ना हो जरूरत पड़ने पर फौरन हाजिर हो जाते हैं। 

9.  रॉक ऑन -

रॉक ऑन (Rock On) फिल्म चार दोस्तों की कहानी  है। समय के साथ उनकी दोस्ती पर धूल पर पड़ जाती है लेकिन आगे चलकर ये सभी दोस्त फिर मिलते हैं । 

10 . फुकरे -

बॉलीवुड की कॉमेडी फिल्म फुकरे (Fukrey)बॉक्स ऑफिस पर तो कमाल कर ही गयी थी। ये फिल्म चार दोस्तों की कहानी कहती है। जल्द पैसा कमाने के चक्कर में ये गलत जगह फंस जाते हैं और फिर साथ मिलकर मुसीबत से बाहर आते हैं। 

Related Story