अंकिता लोखंडे ने रिया चक्रवर्ती से पूछा सवाल, जब जानती थी सुशांत डिप्रेशन में है तो छोड़कर क्यों गई ?

By Neetu Aug. 1, 2020, 12:38 p.m. 1k

नम्रता शर्मा - सुशांत सिंह राजपूत(Sushant Singh Rajput) को गुजरे हुए लगभग डेढ़ महीना हो गया है। बिहार पुलिस मुंबई पुलिस के साथ मिलकर पूरे मामले की जांच कर रही है। इस बीच सोशल मीडिया पर मामले को सीबीआई को सौंपने की गुहार लगातार लगाई जा रही है। सुशांत के गुजर जाने के इतने दिन बाद उनकी एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे(Ankita Lokhande) ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी है। बिहार पुलिस के सामने अपने बयान दर्ज कराने के बाद अब अंकिता कई मीडिया चैनल में भी इंटरव्यू दे रही हैं और अपनी बात खुल कर रख रही हैं। अंकिता सुशांत के साथ बिताए पलों को भी याद कर रही हैं। 

हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने रिया चक्रवर्ती(Rhea Chakraborty) को लेकर भी कई सवाल दागे। सुशांत को बेहद जिंदादिल इंसान बताते हुए अंकिता ने कहा मैं मान ही नहीं सकती कि सुशांत जैसा लड़का डिप्रेशन में था और सुसाइड कर सकता है। दूसरी तरफ अगर रिया को लगता है कि वो डिप्रेशन में थे तो फिर रिया उन्हें छोड़कर क्यों गई। जाना ही था तो उन्होंने सुशांत के परिवार को इस बारे में जानकारी क्यों नहीं दी ?

रिया पर सवाल दागने के साथ ही अंकिता लोखंडे ने ये भी कहा कि मैं जिस सुशांत को जानती थी वो ये सुशांत नहीं था जिसने ये कदम उठाया। सुशांत कभी कमजोर नहीं था वो छोटी-छोटी चीजों में खुश हो जाता था। अंकिता ने कहा मैं सुशांत को हमेशा आजाद छोड़ती थी। पता नहीं क्यों अगर कोई किसी से प्यार करता है तो उसे आजाद क्यों नहीं छोड़ता, उसे बांध के क्यों रखना चाहता है। यहां पर भी अंकिता का निशाना रिया की तरफ ही था।

अंकिता ने न्यूज़ चैनल को दिए गए इंटरव्यू में इस बात का भी खुलासा किया कि हाल ही में उन्होंने पटना पुलिस के सामने अपने बयान दर्ज कराए हैं। इतना ही नहीं आदित्य चोपड़ा(Aditya Chopra) को लेकर भी अंकिता ने बयान दिया अंकिता ने कहा आदित्य हमेशा सुशांत को अच्छा ही सोचते थे।भले ही फिल्म पानी को लेकर थोड़ा बहुत विवाद हुआ हूं लेकिन आदित्य सर सुशांत के हित में ही थे जितना मैं जानती हूं।

अंकिता ने ये भी बताया कि सुशांत को पैसे का कोई खास उत्साह नहीं था। वो अपने करियर और अपने काम को लेकर कभी आत्महत्या नहीं कर सकता।अंकिता ने बताया कि सुशांत और मैंने जिंदगी का सबसे बुरा दौर भी देखा है जिस दौर में वह 3 साल तक खाली बैठा रहा था। उस दौर में सुशांत ने ऐसा कदम नहीं उठाया तो फिर अब वो नेपोटिज्म और काम न मिलने के डर से और फेवरेटिज्म की वजह से कैसे ऐसा कदम उठा सकता है।

अंकिता लोखंडे ने ये भी कहा कि मैं आज यहां पर सुशांत के परिवार के लिए खड़ी है क्योंकि उन्हें मेरी जरूरत है। अंकिता ने कहा कि मैं पिछले 4 साल से सुशांत के संपर्क में नहीं थी लेकिन मैंने उनके साथ बहुत अच्छा वक्त बिताया है।

इस दौरान अंकिता की आंखों में सुशांत के जाने का गम साफ झलक रहा था। वो अपने दर्द से उबर नहीं पा रही थी और इसीलिए उन्होंने सबके सामने आने में कुछ वक्त लिया। अंकिता ने बताया जब सुशांत की खबर मुझ तक पहुंचीं तो मैं पहले तो यकीन ही नहीं कर पाई। मैंने अपने आप को एक कमरे में बंद कर लिया था और मैं बार बार सोच रही थी कि क्या ये सच है। बता दें 14 जून को बांद्रा स्थित सुशांत अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे।

Related Story