अक्षय कुमार ने मुंबई पुलिस को डोनेट किए हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस, लगातार करते आ रहे हैं कोरोना वॉरियर्स की मदद

By Neetu Aug. 1, 2020, 6:36 p.m. 1k

सारिका स्वरूप- देश में कोरोना वायरस महामारी (Corona virus pandemic) के खिलाफ चल रही जंग में बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार (Akshay kumar)  लगातार कोरोना वॉरियर्स की मदद के लिए आगे आ रहे है । कुछ दिन पहले अक्षय ने नासिक पुलिस को कोरोना के प्रकोप से बचाने के लिए वायरस के लक्षणों को ट्रैक करने वाली 'हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस (Health Tracking Device) डोनेट की थी, अब हाल ही में उन्होनें वो हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस मुंबई पुलिस को भी डोनेट किये है ।

इस बात कि जानकारी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने ट्वीट कर के दी है। आदित्य ठाकरे ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, आज अक्षय कुमार जी ने 'हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस ' मुंबई पुलिस को डोनेट किया है। ये डिवाइसबॉडी का टेम्परेचर, हार्ट रेट, ब्लड प्रेशर, कैलरी और स्टेप काउंट के बारे में बताता है, जो कोविड युद्ध में मदद कर सकता है। पिछ्ले महीने अक्षय जी ने इसे नासिक पुलिस को दिया था।' 

इसके बाद उद्धव ठाकरे ने एक दूसरा ट्वीट शेयर किया, जिसमें वो अक्षय का शुक्रिया अदा करते हुए लिखते है कि, अक्षय जी ने विभिन्न राज्यों में हमारे देश के आर्मी फोर्स और पुलिस को समर्थन दिया है। मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं कि, क्योंकि वो हमारे साहसी योद्धाओं की चिंता करते हैं और हमेशा उनकी मदद के लिए आगे रहते है। और हम बीएमसी के उपयोग के लिए इनमें से कुछ ट्रैकर को देने के बारे में भी बातचीत कर रहे हैं।

आपको बता दें कि इस "हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस" के जरिए बॉडी का टेम्परेचर, हार्ट रेट, ब्लड प्रेशर, कैलरी और स्टेप काउंट के बारे में पता चल सकता है। इस बैंड के सेंसर से कोरोना के लक्षण का शुरुआत में ही पता लग सकता है , जिससे इस वायरस को रोका जा सकता है। फिलहाल ये हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस इस समय कोरोना वॉरियर्स के लिए उपलब्ध कराई जा रही हैं। वही रिपोर्ट्स के मुताबिक ये हेल्थ ट्रैकिंग डिवाइस जल्द ही पूरे भारत में उपलब्ध होंगे जिससे इसे आम जनता भी यूज़ कर सकेंगे।

अक्षय कुमार कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए लगातार सपोर्ट कर रहे हैं। उन्होंने सबसे पहले पीएम केयर फंड में 25 करोड़ रुपए डोनेट दिया था। उसके बाद बीएमसी को पीपीई किट के लिए 3 करोड़ डोनेट किए थे। उसके बाद भी वो लगातर जरूरत के अनुसार कोरोना वॉरियर्स के लिए कुछ न कुछ करते दिख ही रहे है।

Related Story