अब सफर में घायल और मारे गए 400 प्रवासी मजदूरों के परिवारों की मदद कर रहे हैं सोनू सूद

By Neetu July 13, 2020, 1:43 p.m. 1k

स्वीटी गौर -   कोरोना वायरस के दौर में सोनू निगम प्रवासी मजदूरों के लिए बहुत मददगार रहे। लोगों ने मजदूरों का मसीहा तक नाम दे दिया। लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद ने हजारों मजदूरों को बस, ट्रेन और फ्लाइट्स के जरिए उनके घर भेजा। उन्होंने मजदूरों को न सिर्फ उनके घर पहुंचाया बल्कि उनके खाने-पीने का भी इंतजाम किया। सोनू के इस काम की काफी तारीफ भी हुई थी। अब लॉकडाउन खुलने के बाद भी सोनू लगातार प्रवासी मजदूरों की मदद में लगे हुए हैं।

हाल ही में लॉकडाउन खुलने के बाद जब मजदूर अपने घरों के लिए निकले तो एक बड़ी संख्या में लोग या तो सफर में घायल हुए या उनका निधन हो गया। ऐसे 400 प्रवासी मजदूरों के परिवारों की मदद करने के लिए एक बार फिर सोनू सूद आगे आए हैं। सोनू और उनकी दोस्त नीति गोयल अब इन परिवारों की आर्थिक मदद करेंगे क्योंकि इनमें से ज्यादातर दिहाड़ी मजदूर थे और उनके परिवारों के पास आय का कोई जरिया नहीं है।

इसके अलावा सोनू और उनका ग्रुप प्रवासी मजदूरों के बच्चों की शिक्षा और उनके घर बनवाने का खर्च भी उठाएंगे। इस बारे में सोनू ने कहा, 'मैंने फैसला किया है कि जो प्रवासी मजदूर सफर के दौरान घायल या मारे गए उनके परिवार को एक सुरक्षित भविष्य दिया जाए। मुझे लगता है कि उनकी मदद करना मेरी निजी जिम्मेदारी है।' बता दें - सोनू ने इस पर काम करना शुरू भी कर दिया है।

सोनू और उनकी टीम इस समय उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के अधिकारियों से संपर्क में हैं और जो मजदूर मारे गए या घायल हुए, उनका पूरा डेटा मांगा गया है। इस डेटा में उन परिवारों का पता और बैंक डीटेल्स भी शामिल होंगे। बता दें कि लॉकडाउन में सोनू ने सोशल मीडिया पर अपनी टीम के नंबर भी जारी किए थे। अभी तक लोग इन फोन नंबरों और सोशल मीडिया के जरिए सोनू सूद से मदद मांग रहे हैं। सोनू ने हर जरूरत मंद को मदद पहुंचाई । 

आपको बता दें कि  पिछले दो महीनों में सोनू सूद ने न सिर्फ प्रवासियों को उनके घर पहुंचाया, बल्‍क‍ि मुंबई में अपने होटल्‍स के दरवाजे कोरोना वॉरियर्स के लिए संक्रमितों के लिए खोल दिए। सोनू ने पंजाब में डॉक्‍टरों के लिए पीपीई किट भी दान किया था। सोनू सूद के काम से देश के लोग इतने प्रभावित हो गए थे कि उन्हें भारत रत्न तक देने की मांग कर रहे थे। सोशल मीडिया पर सोनू सूद द रियल हीरो भी जबरदस्त तरीके से ट्रेंड हुआ था। सोनू ने लोगों को मदद देने का काम एक दो दिनों तक सीमित नहीं रखा बल्कि हर रोज वो जरूरकमंदों का सहारा बन रहे हैं। 

Related Story