मां के जन्मदिन पर भावुक हुए संजय दत्त , शेयर की परिवार की अनदेखी तस्वीरें

By Neetu June 1, 2020, 6:28 p.m. 1k

सारिका स्वरूप - नर्गिस दत्त हिंदी सिनेमा की जानी मानी एक्ट्रेस रही हैं।  आग, आवारा, मदर इंडिया, चोरी-चोरी, श्री 420 समेत कई फिल्में हैं जिसने नर्गिस की यादें आज भी दर्शकों को दिलों में जिंदा रखा है। 1 जून को नर्गिस का जन्मदिवस होता है। संजय दत्त ने मां के बर्थडे पर उन्हें याद किया है।  नरगिस ने बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त (Sunil Dutt) से मार्च 1958 मेें शादी कि थी । दोनों के तीन बच्चे हुए, संजय, प्रिया और नम्रता। 

50 के दशक में वो फिल्म इंडस्ट्री में छाई हुई थी। नरगिस अपने जमाने की सबसे बेहतरीन और खुबसूरत ऐक्ट्रेस में से एक थी। उन्होनें बॉलीवुड में अपनी ऐक्टिंग से एक अलग पहचान बनाई थी।

 नरगिस ने "मदर इंडिया" बरसात’, ‘आवारा’, ‘दीदार’ और ‘श्री 420 सहित कई बड़ी फिल्मों में काम किया। बता दे नरगिस राज्यसभा के लिए नॉमिनेट होने और पद्मश्री पुरस्कार पाने वाली पहली हीरोइन थीं। वही साल 1968 में नरगिस को बेस्ट एक्ट्रेस फ़िल्मफेयर अवॉर्ड से भी नवाजा गया था ।

वही उनके 91वें बर्थ एनिवर्सरी पर उनके बेटे संजय दत्त (Sanjay Dutt) ने उन्हें याद किया है। संजय ने अपने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है । जिसमें नरगिस को बतौर एक्ट्रेस, पत्नी और मां के रुप में देख सकते हैं। वीडियो शेयर करते हुए संजय दत्त ने लिखा, 'हैप्पी बर्थडे मां, मिस यू।'

 संजय के इस पोस्ट को फैन्स बहुत पसंद कर रहे है। साथ ही तमाम फैन्स और सेलीब्रिटीज इस पर कॉमेंट कर अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है। इसके अलावा संजय की वाइफ मान्यता दत्त (Manyata Dutt) ने भी इस पोस्ट पर हार्ट एमौजि भेज कर अपना प्यार जाहिर किया है। संजय दत्त हमेशा से ही अपनी मां के बेहद करीब थे। वो उनसे बहुत प्यार करते थे वही वो आज भी अपनी मां के जाने के गम से उभर नहीं पाएं है। वे कभी भी ये बताने का मौका नहीं छोड़ते कि वो मां को याद कर रहे है। 

गौरतलब है कि कैंसर जैसी गम्भीर बीमारी से जूझते हुए नरगिस कोमा में चली गयीं। औरत 3 मई 1981 को अचानक मुंबई में उनका निधन हो गया । वही जिस दिन नरगिस की मौत हुई उसके एक सप्ताह बाद ही संजय दत्त की पहली फ़िल्म 'रॉकी' रिलीज़ हुई थी। पहली फिल्म के स्क्रीनिंग के दौरान माँ का ना होना संजय को आज भी खटकता है।

7 मई को फिल्म का प्रीमियर था और 3 मई को ही नर्गिस छुनिया छोड़कर चल बसी। नर्गिस हर हाल में फिल्म के में शामिल होना चाहती थी..भले से उन्हें स्ट्रेचर  पर ही क्यों ना ले जाया जाए। इसलिए फिल्म के प्रीमियर पर नर्गिस के लिए एक सीट छोड़ दी गई थी। 

संजय की पहली फिल्म रॉकी तो सुपर हिट रही लेकिन वो इसकी खुशी मना नहीं पाएं। मां की मौत के बाद संजय ने अपना गम कहीं और भूलाना शुरू कर दिया था वो ड्रग्स और नशे की आदी होने लगे जिससे उनका करियर भी बर्बाद होने लगा लेकिन तब उनके पिता ने उन्हें संभाला और नशे की लत का इलाज करवाया। 

Related Story