कैंसर ने बार-बार दिया है ‘कपूर परिवार’ को गम,3 लोग हुए बीमारी के शिकार

By Neetu May 5, 2020, 8:22 p.m. 1k

पूजा राजपूत-  बॉलीवुड(Bollywood) के दिग्गज अभिनेता(Veteran Actor) ऋषि कपूर(Rishi Kapoor) अब हमारे बीच नहीं रहे हैं। 67 साल की उम्र में ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल की सुबह पौने नो बजे मुंबई के एच. एन. रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल(H. N. Reliance Foundation  Hospital) में आखिरी सांस ली। यूं तो ऋषि कपूर की मौत की वजह ल्यूकेमिया(Leukemia) यानि ब्लड कैंसर(Blood Cancer) है, लेकिन शराब ने भी ऋषि कपूर की तबियत खराब करने में बड़ी भूमिका अदा की है। ज़िंदादिल शख्सियत के मालिक रहे ऋषि जी की छवि बॉलीवुड में बिंदास और बेबाक अभिनेता की रही है। ऋषि कपूर खाने और पीने के शौकिन थे।

                                                                                       Rishi Kapoor

पंजाबी खाना जैसे की आलू के परांठे, गोभी के परांठे, बटर चिकन, और चिकन तंदूरी ऋषि कपूर को बेहद पसंद थे। इसके साथ ही ऋषि कपूर को रोज़ाना शराब पीने की भी आदत थी। ऋषि कपूर ने कभी नहीं छुपाया कि वो बहुत ज्यादा शराब पीते थे। 

                                                                                                

                                                                                           Rishi Kapoor 

रिपोर्ट्स के मुताबिक ऋषि कपूर को उनके फैमिली डॉक्टर कई साल पहले ही शराब छोड़ने की सलाह दे चुके थे। लेकिन ऋषि कपूर ने डॉक्टरों की सलाह को कभी नहीं माना और शराब से अपना रिश्ता कायम रखा। न्यूयॉर्क(New York) से कैंसर का इलाज करवाकर लौटने के बाद भी ऋषि कपूर शराब पीते थे।पिछले साल दिवाली पार्टी के दौरान ऋषि कपूर की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी, जिसमें ऋषि कपूर की गाड़ी में शराब की बोतल और गिलास नज़र आ रहे थे। 

                                                                      Rishi Kapoor And Ranbir Kapoor With Alcohol

ऋषि कपूर की शराब पीने की आदत के बारे में उनके फैमिली डॉक्टर ओपी कपूर(O. P. Kapoor) ने एक इंटरव्यू में खुलकर बात की है। ओपी कपूर पिछली पांच पीढ़ियों से कपूर परिवार के फैमिली डॉक्टर हैं। उन्होने बताया कि ‘पांच साल पहले ऋषि मेरे पास अपनी लिवर की रिपोर्ट लेकर आए थे। वो बेहद परेशान थे। उन्होने कहा कि अंकल डॉक्टर्स ने कहा है कि लिवर खत्म हो गया है। जिसके बाद मैं उन्हें लिवर की एडवांस टेस्टिंग के लिए ठाणे ले गया था। रिपोर्ट्स ठीक आईं, तो ऋषि बेहद खुश हुए थे।‘ डॉक्टर ओपी कपूर बताते हैं कि - उन्होने ऋषि कपूर को शराब ना पीने की सख्त सलाह दी थी। इसके साथ ही खाने-पीने का ध्यान रखने और वज़न कम करने की सलाह भी दी थी। लेकिन पंजाबी खाना और शराब उनकी कमज़ोरी थे। वो नहीं माने।‘

                                                                                          Rishi Kapoor

30 अप्रैल की सुबह ऋषि कपूर कैंसर से जंग लड़ते हुए विदा हो गए। कैंसर इससे पहले भी कपूर परिवार को गम दे चुका है। वो भी दो बार। जी हां, कैंसर की बिमारी की वजह से कपूर परिवार ने अपने तीन अजीज़ सदस्यों को खोया है।ऋषि कपूर से पहले उनकी बड़ी दादा पृथ्वीराज कपूर(Prithviraj Kapoor) और  ऋतु नंदा(Ritu Nanda) का देहांत कैंसर की वजह से हो चुका है।

                                                                                 Prithvi Raj Kapoor

पृथ्वीराज कपूर भारतीय सिनेमा की नीव रखने वाले कलाकारों में से एक थे। कैंसर की वजह से पृथ्वीराज कपूर का निधन 29 मई 1972 को हुआ था। कहते हैं कि जब पृथ्वीराज कपूर को अपनी कैंसर की बीमारी के बारे में पता चला था तब उनके चेहरे पर शिकन तक नहीं आई थी। उन्हें सिर्फ फिल्मों के प्रोड्यूसर्स की चिंता थी। वो कहते थे कि ‘मेरी वजह से प्रोड्यूसर नहीं मरना चाहिए’। उस वक्त पृथ्वीराज कपूर करीब 17 फिल्मों में काम कर रहे थे। उन्होने एक-एक करके सभी फिल्मों का काम खत्म किया। और फिर 29 मई 1972 को दुनिया को अलविदा कह गए।

                                                                             Ritu Nanda With Family

 पृथ्वीराज कपूर के बाद, राज कपूर की बड़ी बेटी ऋतु नंदा को भी कैंसर ने अपनी गिरफ्त में ले लिया था। ऋतु नंदा बॉलीवुड के महानायक अभिताभ बच्चन(Amitabh Bachchan) की बेटी श्वेता बच्चन(Shweta Bachchan Nanda) नंदा की सास थीं। इसी साल 14 जनवरी को ऋतु नंदा का निधन भी कैंसर की वजह से हुआ। 

                                                                 Ritu Nanda , Rishi Kapoor And Family

गौर करने वाली बात ये है, कि न्यूयॉर्क के जिस अस्पताल में ऋतु नंदा का कैंसर का इलाज़ हुआ था, उसी अस्पताल में लगभग 1 साल तक ऋषि कपूर का भी इलाज हुआ था। 2018 में ऋषि कपूर को अपनी बीमारी का पता उस वक्त चला था, जब उनके शरीर में ब्लड कैंसर लास्ट स्टेज पर पहुंच गया था। लेकिन ऋषि कपूर ने हार नहीं मानते हुए दो साल तक कैंसर से जंग लड़ी।

Related Story