ऋषि-इरफान दोनों ही अपनी मां के अंतिम संस्कार में नहीं हो पाए थे शामिल

By Neetu May 4, 2020, 5:51 p.m. 1k

पूजा राजपूत -  अप्रैल का आखिर हफ्ता बॉलीवुड(Bollywood) को दोहरा झटका देकर गया है। 29 अप्रैल को बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता इरफान खान(Irrfan Khan) का निधन(Death) हो गया था, तो इरफान के जाने के 24 घंटे के अंदर ही जिंदादिल एक्टर ऋषि कपूर(Rishi Kapoor) का भी देहांत हो गया था। दो दिन में दो चहेते सितारों के जाने के गम से बॉलीवुड अभी तक उबर नहीं पाया है। 

इरफान खान और ऋषि कपूर के जाने के बाद से ही बॉलीवुड उनके फैंस के बीच एक नई तरह की बहस शुरु हो गई है। और वो बहस है ‘संजोग’ की।जी हां, ये संजोग है कि 24 घंटे के अंदर स्वर्ग सिधारे इन दोनों ही सितारों का निधन ‘कैंसर’ से हुआ। ये भी संजोग ही है कि दोनों ही सितारे अपनी ‘मां’ के आखिरी दर्शन नहीं कर पाए थे, उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे।

ऋषि कपूर की बात करें, तो ऋषि कपूर को साल 2018 में अपनी ‘ब्लड कैंसर’(Blood Cancer) की बीमारी के बारे में पता चला था। जिसके फौरन बाद वो 29 सितम्बर को न्यूयॉर्क(New York) में इलाज करवाने के लिए निकल गए थे। ऋषि के न्यूयॉर्क जाने के ठीक दो दिन बार 1 अक्तूबर 2018 को उनकी माता कृष्णा राज कपूर(Krishna Raj Kapoor) का निधन हो गया था। ऋषि उस वक्त न्यूयॉर्क में अपना इलाज करवा रहे थे, वहां से फौरन लौटना उनके लिए मुमकिन ही नहीं था। बाद में ऋषि कपूर ने भी अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि मां के अंतिम संस्कार में शामिल ना हो पाने का गम उन्हें जिंदगी भर रहेगा। ऋषि ने बताया था कि ‘मैने लौट आने के लिए भाई से बात की थी, उन्होने मुझे कहा कि जब तक तुम आओगे, तब तक बहुत देर हो चुकी होगी। इसलिए मैं नहीं आया।‘ 

 ऋषि के साथ उस वक्त पत्नी नीतू कपूर(Neetu Kapoor) और बेटे रणबीर कपूर(Ranbir Kapoor) भी न्यूयॉर्क गए थे। ये तीनों ही कृष्णा राज कपूर के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे। आलिया भट्ट(Alia Bhatt) ने फोन पर वीडियो कॉल के ज़रिए उन्हें कृष्णा राज कपूर के अंतिम दर्शन करवाए थे। 11 महीने और 11 दिन के बाद सितंबर 2019 में ऋषि कपूर न्यूयॉर्क से मुंबई लौटे थे।

तो वहीं, इरफान खान न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर (Neuroendocrine tumor) से पीड़िते थे। अपनी बीमारी का खुलासा इरफान ने मार्च 2018 में एक ट्वीट के ज़रिए किया था।  अपना इलाज करवाने के लिए इरफान लंदन(London) गए थे। एक साल तक इलाज करवाने के बाद इरफान फरवरी 2019 में ठीक होकर मुंबई लौटे थे। ऋषि और इरफान दोनों ने ही ठीक होकर अपनी फिल्मों की शूटिंग शुरु कर दी थी।

ऋषि कपूर की ही तरह इरफान की किस्मत में भी अपनी अम्मी के अंतिम दर्शन करने नहीं लिखे थे। इसी साल 25 अप्रैल को इरफान खान की अम्मी सईदा बेगम(Saeda Begum) का इंतकाल हो गया था। लॉकडाउन(Lockdown) और अपनी खराब तबियत की वजह से इरफान मुंबई से जयपुर(Jaipur) नहीं जा पाए थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक उस वक्त इरफान की तबियत खराब थी और वो हॉस्पिटल में एडमिट थे। मां के निधन के चार दिन बाद 29 अप्रैल की सुबह इरफान का भी इंतकाल हो गया था।

मां के अंतिम संस्कार में शामिल ना हो पाने का इरफान को काफी गम था। इरफान जब आखिरी सांसें ले रहे थे तब भी वो अपनी मां को याद आ रही थी। अपनी पत्नी से उन्होंने यही कहा था कि मां मुझे लेने आई है। 

संजोग दोनों की जिंदगी में बडा खेल खेला है। इरफान खान और ऋषि कपूर दोनों ने कैंसर से जंग लड़ी। दोनों को एक ही साल में अपनी बिमारी का पता चला, दोनों ही इलाज करवाकर एक ही साल में स्वदेश लौटे थे। यहां तक की ये दोनों ही सितारे अपनी बिमारी की वजह से अपनी मां के आखिरी दर्शन नहीं कर पाए थे।

Related Story

Next Story

PICS-मुंबई में समंदर किनारे आलीशान बिल्डिंग में रहते हैं Shahid Kapoor और मीरा

single-post

By E24 July 7, 2020, 3:53 p.m. 1k

बॉलीवुड एक्टर शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) वाइफ मीरा के साथ अपनी शादी की पांचवीं सालगिरह मना रहे हैं। इस दौरान वो दो बच्चों के पिता बन चुके हैं। प्रोफेशनल और फैमिली लाइफ में सबकुछ ऑल इज वेल है। कबीर सिंह के सुपर हिट होने के बाद शाहिद कपूर आज बॉलीवुड के टॉप एक्टर्स में से है एक हैं।  शाहिद के फिल्‍मी करियर की शुरूआत एक्टर के तौर पर फिल्‍म 'इश्‍क विश्‍क' से हुई थीा इस फिल्‍म के बाद शाहिद ने कई फिल्‍मों में काम किया लेकिन वे ज्‍यादा सफल नहीं हो पाईा फिल्‍म 'विवाह' और 'जब वी मेट' में वे काफी पसंद किए गए। इसके बाद शाहिद आर राजकुमार, हैदर और पद्मावत जैसी फिल्मों में नजर आए।  शाहिद ने ये मुकाम अपने बल बूते पर हासिल किया है। भले ही शाहिद एक स्टारकिड हों लेकिन फिर भी उन्होंने अपनी पहचान अलग बनाई है। 

शाहिद मुंबई के जुहू ( Shahid Kapoor House ) इलाके में सी-फेसिंग अपार्टमेंट में रहते है। लेकिन शाहिद के जुहू वाले घर के आगे का नजारा अगर आप देख लेंगे तो आप भी उसकी तारीफ करने लगेंगे। हम आपको इनके आलिशान घर की तस्वीरें दिखाएंगे। यहां वो पत्नी मीरा और दो बच्चों के साथ रहते हैं। 

उनके घर के ठीक पीछे से अरब सागर दिखता है। उन्होंने ये घर अपने हिसाब से लिया है। शाहिद खुद चाहते थे कि वो एक आलीशान घर लें। जिसका सपना उन्होंने पूरा किया। 

शाहिद मीरा राजपूत से शादी के बाद 2015 में इस घर में शिफ्ट हुए हैं। देखा जाए तो ये घर उनके लिए बहुत लकी रहा।

 इसी घर में शाहिद का करियर शानदार बना तो वहीं मीशा और जैन जैसे बच्चें उनकी जिंदगी बने। 

 

शाहिद  के घर में सबसे खास बात ये बहुत खुले इलाके में है। घर के चारो तरफ नारियल के पेड़ लगे हैं। उनके घर के पिछले हिस्से में बड़ा सा ओपन स्पेस है। 

अक्सर शाहिद वहां बैठकर बच्चों के साथ खेलते हैं। ओपन स्पेस में शाहिद ने गार्डन भी बना रखा है। 

उनके घर की फ्लोरिंग वुड बेस्ड है। घर में डार्क वुड का खूब इस्तेमालर हुआ है। 

 घर का थीम व्हाइट है। मुंबई के जाने माने इंटीनियर कंपनी से उन्होंने अपना घर डेकोरेट करवाया। 

शाहिद और मीरा  ने घर की दीवारों के लिए सफेद कलर को प्राथमिकता दी वहीं घर के फर्नीचर और सजावटी सामान डार्क कलर के हैं। घर की लाइटिंग भी ऐसी है जिससे उनके आशियाने में सबकुछ ब्राइट दिखता है। 

घर की दीवारों पर पेंटिंग्स भी खूब लगाई गई है। इससे अलावा मिरर का इस्तेमाल भी डेकोरेशन में हुआ है। 

इस घर का सबसे खूबसूरत पार्ट है इसका पिछला हिस्सा। समंदर की लहरें उनके घर से दिखती हैं। ठंडी हवा सीधे उनके घर तक आती है। 

घर में बच्चों के खेलने कूदने की सबसे खास जगह उनका समंदर की तरह वाला टेरेस स्पेस है। यहां अक्सर शाहिद और मीरा बच्चों के साथ वक्त बिताते हैं। 

इसके अलावा उन्होंने बीते दिनों ही एक और 56 करोड़ का घर खरीदा है। शाहिद ने मुंबई में अपस्केल वर्ली में एक डुप्लैक्स अपार्टमेंट खरीदा है। इस घर की कीमत सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। 

बताया जा रहा है कि शाहिद का ये अपार्टमेंट 42 और 43वीं मंजिल पर है। वहीं कहा जा रहा है कि शाहिद ने इस घर के लिए सरकार को 2 करोड़ 91 लाख  की स्टैंप ड्यूटी दी है। शाहिद का ये ड्युप्लेक्स अपार्टमेंट बेहद आलीशान बताया जा रहा है। 

Related Story

Next Story

PICS: 39 साल के हुए MAHENDRA SINGH DHONI, गुपचुप रचाई थी साक्षी संग शादी

single-post

By E24 July 7, 2020, 3:38 p.m. 1k

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज अपना 39वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे है। उनका जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड (तब बिहार) के रांची में हुआ था। महेंद्र सिंह धोनी ये नाम क्रिकेट की दुनिया का एक ऐसा नाम है जिसके नाम कई रिकॉर्ड्स हैं। अपने बड़े बालों के साथ बल्लेबाजी करते धोनी, गेंदबाजों के छक्के छुड़ाते माही, विकेट के पीछे से अपने गेंदबाजों को सुझाव देते है। 

झारखंड के रांची से आने वाले धोनी ने भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाईयां दी। धोनी क्रिकेट के मैदान में जितना धमाल मचाते हैं वहीं पर्सनल लाइफ में वो काफी सुलझे हुए हैं। धोनी के जन्मदिन पर हम आपको इस कपल की लव-स्टोरी बता रहे हैं।

धोनी और साक्षी की मुलाकात बचपन में ही हो गई थी। धोनी और साक्षी के पिता रांची में एक ही कंपनी मेकॉन में काम करते थे। इसीलिए धोनी-साक्षी बचपन से ही एक दूसरे को जानते थे। धोनी और साक्षी रावत तब रांची के डीएवी श्यामली के स्कूल में साथ पढ़ते करा करते थे।

 साक्षी और धोनी के परिवार एक दूसरे को बहुत पहले से जानते थे। कोलकाता की साक्षी सिंह रावत के परिवार का नाता देहरादून से जुड़ा है। हालांकि महेंद्र सिंह धोनी झारखंड के रांची में पैदा हुए पर उनका परिवार अलमोरा जिले से है। 

ऐसे में दोनों का उत्तराखंड कनेक्शन भी है। साक्षी फिर से सीधे ही देरादून चली गईं तो दोनों परिवारों के बीच कोई कनेक्शन ही नहीं बचा, लेकिन वो कहते हैं ना कि किस्मत में जो लिखा हो उसे कौन टाल सकता है। धोनी और साक्षी की मुलाकात अचानक की कोलकाता में हुई। 

 उस वक्त भारत और पाकिस्तान के बीच ईडन गार्डन्स में मैच खेला जा रहा था। जिस होटल में धोनी रुके थे उसी होटल में साक्षी ट्रेनिंग ले रहीं थीं। होटल के मैनेजर युद्धजीत दत्ता ने साक्षी की धोनी से मुलाकात कराई। इसके बाद धोनी ने दत्ता से साक्षी का नंबर मांगा और मैसेज किया। 

पहले साक्षी को लगा कि कोई फिरकी ले रहा है लेकिन बाद में पता चला कि वो धोनी ही है। इसके बाद 2008 में दोंनों ने एक दूसरे को डेट करना शुरू किया। किसी को इनके रिलेशन के बारे में कोई खबर नहीं थी। अचानक ही खबर इनकी सगाई की आ गई। 

4 July 2010 को देहरादून के एक होटल में सारी तैयारियां चुपचाप ही हो गईं थीं। अचानक ही दोनों ने शादी भी कर ली। मीडिया में शादी की कोई खबर तक नहीं पहुंच पाई थी। 

बाद में सबको पता चला कि ये शादी कर चुके हैं। दोनों की शादी में परिवार के साथ सुरेश रैना और जॉन अब्राहम जैसे कुछ नाम ही शामिल हुए। शादी के काफी वक्त 6 जनवरी 2015 को धोनी और साक्षी की बेटी जीवा ने जन्म लिया। धोनी आज वाइफ साक्षी के साथ हैप्पिली मैरिड हैं। 

Related Story

Next Story

SUSHANT SINGH की फिल्म दिल बेचारा के ट्रेलर ने तोड़े सारे रिकॉर्ड ! हॉलीवुड की सबसे बड़ी फिल्म को छोड़ा पीछे ...

single-post

By E24 July 7, 2020, 3:13 p.m. 1k

नम्रता शर्मा - सोमवार को सुशांत सिंह राजपूत(Sushant Singh Rajput) की आखिरी और संजना संघी(Sanjana Sanghi) की पहली फिल्म दिल बेचारा(Dil Bechara) का ट्रेलर रिलीज हुआ है। फिल्म के ट्रेलर को काफी अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। ट्रेलर से सुशांत सिंह राजपूत का एक डायलॉग भी काफी ज्यादा सुर्खियां बटोर रहा है जिसमें वो कह रहे हैं की जन्म कब लेना है और मरना कब है ये हम डिसाइड नहीं करते, लेकिन जीना कैसे हैं ये तो डिसाइड कर ही सकते हैं। 

देखते ही देखते सुशांत की आखिरी फिल्म का ट्रेलर नए रिकॉर्ड सेट कर रहा है।फिल्म के ट्रेलर को अब तक 25 मिलियन लोग देख चुके हैं और ये आंकड़ा निश्चित तौर पर बढना तय है।

सुशांत और संजना की फिल्म दिल बेचारा के ट्रेलर को 24 घंटे के अंदर ही 5.5 मिलीयन लाइक्स मिल चुके हैं। इसी के साथ सुशांत की फिल्म का ट्रेलर यूट्यूब पर नंबर 1 ट्रेंड कर रहा है। 

ऐसा लग रहा है जैसे सुशांत के साथ उनकी आखिरी फिल्म को ब्लॉकबस्टर बनाने का वादा बखूबी निभा रहे हैं। क्या आप जानते हैं सुशांत की फिल्म दिल बेचारा के ट्रेलर ने अवेंजर्स एंडगेम ट्रेलर के व्यूज और लाइक्स को भी पछाड़ दिया है।

जी हां, अवेंजर्स एंडगेम(Evengers Endgame) के पहले ट्रेलर को 3.2 मिलीयन लाइक्स मिले थे जबकि दूसरे ट्रेलर को 2.9 मिलीयन लाइक्स मिले थे। अवेंजर्स इंफिनिटी वॉर के ट्रेलर की बात करें तो उसको 3.6 मिलीयन लाइक्स मिले थे। ये पहली बार है जब किसी फिल्म ने अवेंजर्स सीरीज के ट्रेलर को भी बहुत पीछे छोड़ दिया है। हैरानी की बात तो ये है कि आंकड़ा हर मिनट के साथ बढ़ता जा रहा है। सुशांत की फिल्म के ट्रेलर को 25 मिलीयन व्यूज मिल चुके हैं और अभी ये आंकड़ा और बढ़ता जा रहा है।

बता दें इस फिल्म को कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा(Mukesh Chhabra) ने डायरेक्ट किया है। ये उनकी पहली डायरेक्टोरियल फिल्म है। फिल्म का म्यूजिक ए आर रहमान ने कंपोज किया है। फिल्म में सुशांत मैनी(Manny) के किरदार में और संजना संघी किज़ी(Kizzy) के किरदार में नजर आएंगे। फिल्म 24 जुलाई को डिजनी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज होगी। ये फिल्म सभी के लिए फ्री होगी यानी अगर आप डिजनी प्लस हॉटस्टार के मेंबर नहीं है तो भी आप इस फिल्म को देख पाएंगे। ऐसा फिल्म के मेकर्स ने सुशांत सिंह राजपूत को श्रद्धांजलि देने के लिए किया है।

सुशांत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा को बॉलीवुड के कई सितारे प्रमोट कर रहे हैं इन सभी सितारों ने अपने फैंस से अपील की है कि वह इस फिल्म को जरूर देखें और इस फिल्म के नाम सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्म का रिकॉर्ड सेट करें।

Related Story

Next Story

कोरियोग्राफर सरोज खान की बायोपिक बनाएंगे रेमो डिसूजा, पहले ही मिल गई थी मंजूरी

single-post

By E24 July 7, 2020, 2:52 p.m. 1k

बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान बीती 3 जुलाई को दुनिया से अलविदा कह गई। 50 के दशक में सरोज ने बैकग्राउंड डांसर काम करना शुरू किया था। बॉलीवुड में सरोज खान के ज्यादातर हस्तियों के साथ काम किया था। अब उनके चले जाने के बाद एक्टर, डायरेक्टर, कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा उनकी प्रेरणादायक कहानी को लोगों तक पहुंचाने वाले हैं। रेमो ने सरोज खान पर बायोपिक बनाने का फैसला किया है जिसकी बातचीत शुरू कर दी गई है।

एक रिपोर्ट में सरोज खान की बेटी सुकैना ने बताया कि रेमो डिसूजा उनकी मां की बायोपिक बनाने पर चर्चा कर रहे हैं। रेमो से पहले कुणाल कोहली भी उनसे फिल्म बनाने की अप्रोच कर चुके हैं। इतना ही नहीं डायरेक्टर बाबा यादव की पत्नी भी सरोज खान की कहानी पर एक बायोपिक बनाने की सोच रही हैं।

इस बारे में रेमो का कहना है कि फिल्म कलंक की शूटिंग के दौरान मैने सरोज जी के साथ काम किया था। हमने काफी वक्त के साथ बिताया था। इस दौरान रेमो की बात सरोज जी से हुई थी। सरोज जी चाहती थीं कि रेमो ही उनकी बायोपिक बनाएं क्योंकि वो दोनों ही जीरो से हीरो बने हैं। ऐसे में सरोज का मानना था कि रेमो उन्हें बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। जब रेमो ने अपनी ऑफिस में सरोज जी से उनकी बायोपिक बनाने का पूछा तो उन्होंने खुश होते हुए कहा, 'बिल्कुल, बोल कब बनाएगा, जल्दी बना दे'। तब से लेकर आजतक रेमो ने कोई ऑफिशियल अनाउंसमेंट नहीं की थी मगर उन्होंने बताया कि ये उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है।

आपको बता दें कि सरोज खान के जाने के बाद उनके बच्चों ने सोशल मीडिया पर एक स्टेटमेंट जारी कर कहा था कि कोरोना को लेकर वे अभी अपनी मां के लिए शोक सभा आयोजित नहीं कर रहे। उन्होंने सरोज खान की फोटो शेयर कर लिखा, 'आप सभी के मैसेज और अपनी दुआओं में उन्हें याद रखने के लिए सभी को धन्यवाद। कोविड 19 को लेकर जो इभी स्थिति है उसे देखते हुए हमने शोक सभी नहीं रखने का फैसला किया है। जैसे ही स्थिति सामान्य होगी हम मिलेंगे और उनकी जिंदगी को सेलिब्रेट करेंगे'।

बता दें कि सरोज खान डायबिटीज और इससे संबंधित बीमारियों से जूझ रही थीं। इसके चलते उन्होंने बीच में अपने काम से एक लंबा ब्रेक लिया था। साल 2019 में सरोज ने 'कलंक' और 'मणिकर्णिकाः द क्वीन ऑफ झांसी' में एक-एक गाने को कोरियॉग्राफ किया था। 'कलंक' में उन्होंने 'तबाह हो गए' गाने को कोरियोग्राफ किया था, जिसमें माधुरी दीक्षित ने बेहतरीन डांस कर सभी का दिल जीत लिया था।

Related Story