लॉकडाउन की वजह से फिल्म इंडस्ट्री को हुआ 4500 करोड़ का भारी भरकम नुकसान ! अगस्त तक खुलेंगे सिनेमा हॉल्स !

By Neetu July 1, 2020, 1:41 p.m. 1k

नम्रता शर्मा  -  देशभर में कोरोना(Covid 19)के आंकड़े तेजी से बढ़ते जा रहे हैं लिहाजा पिछले 3 महीने तक लॉकडाउन में रहने के बाद अब धीरे-धीरे अनलॉक हो रहा है। अभी भी बाहर निकलने से पहले तमाम सावधानियां बरतनी पड़ रही हैं। लॉक डाउन की वजह से पिछले लगभग 3 महीनों से सब कुछ बंद था। फिल्म इंडस्ट्री को भी हाल ही में काम शुरू करने की मंजूरी मिली है और धीरे-धीरे टीवी और फिल्मों के शूट शुरू किए जा रहे हैं। सभी की जिंदगी ट्रैक पर आ रही है। अब सब समझ गए हैं कि हमें कोरोना के साथ ही जीना होगा और आगे बढ़ना होगा। इसी बीच एक चौंकाने वाला आंकड़ा सामने आया है। आंकड़ा कहता है कि लॉकडाउन(Lock down) के दौरान फिल्म इंडस्ट्री को कई सौ करोड़ का नुकसान हुआ है।

जी हां, देश भर में लगे लॉकडाउन(Lock down) के कारण फिल्म इंडस्ट्री पूरी तरह से बंद पड़ गई थी। लिहाजा ना ही कोई शूट हो रहा था और ना ही फिल्म थियेटर में रिलीज हो पा रही थी, जिस वजह से फिल्म इंडस्ट्री को लगभग 4500 करोड़ का घाटा हुआ है। इस बात की जानकारी मल्टीप्लेक्स चेन आईनॉक्स के अधिकारियों ने दी है।अधिकारियों की तरफ से इस तरफ ध्यान खींचा गया है कि पिछले 3 महीने में फिल्म इंडस्ट्री को 4500 करोड़ का नुकसान हुआ है।

जाहिर है कई बड़ी-बड़ी फिल्मों के सेट बनाए गए थे उन सभी को ध्वस्त किया गया। इस दौरान न जाने कितनी ही फिल्में बनकर तैयार हो सकती थी, रिलीज हो सकती थी और पैसा कमा सकती थी,लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। ना सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री बल्कि थिएटर और मल्टीप्लेक्स(multiplex) मालिकों को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। हालांकि राहत की खबर यह है कि अगस्त महीने से थियेटर्स खुलने की उम्मीद की जा रही है।

इस बात की जानकारी भी आईनॉक्स(INOX) के अधिकारियों की तरफ से साझा की गई है। कहा गया है कि अगस्त महीने से थिएटर खुलने की उम्मीद है।सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली पहली फिल्म बागी 3 हो सकती है। दरअसल 14 मार्च से थिएटर बंद होने का ऐलान हुआ था उससे पहले बागी 3 रिलीज हुई थी फिल्म ने अच्छा खासा बिजनेस कर लिया था लेकिन फिल्म और दिन सिनेमाघरों में रह सकती थी लेकिन थिएटर बंद होने का ऐलान हो गया था।

इसका खामियाजा बागी 3(Baaghi 3) के मेकअप उठाना पड़ा था। अगर थिएटर बंद ना होते तो फिल्म 100 करोड़ क्लब में आसानी से शामिल हो सकती थी। शायद यही वजह है कि एक बार फिर जहां जब थिएटर खुलेंगे तो वहीं से खुलेंगे जहां पर ऑडियंस को छोड़ कर गए थे। जी हां बागी 3 के साथ।

 वैसे आपको बता दें थिएटर बंद होने का खामियाजा इरफान खान की अंग्रेजी मीडियम(Angrezi Medium) को भी उठाना पड़ा था। अंग्रेजी मीडियम रिलीज होने के एक दिन बाद ही थिएटर बंद हो गए थे।

बहरहाल अब चीजे नॉर्मल हो रही हैं।ऐसे में माना जा रहा है कि थिएटर खुलेंगे तो नुकसान झेल रही फिल्म इंडस्ट्री और थिएटर मालिकों को राहत मिलेगी लेकिन सबसे बड़ी चुनौती होगी ऑडियंस को थियेटर्स तक खींच कर लाना। क्योंकि ये भी सच है कि भले ही थिएटर खुल रहे हो, जिंदगी नॉर्मल(Normal) ट्रैक पर आ रही हो लेकिन कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है।

Related Story