Sapna Choudhary के ठुमकों ने बजाई फैन्स के दिलों की घंटी, 'मैं धर्मेंद्र' गाने पर धमाल !

By Neetu June 11, 2020, 4:28 p.m. 1k

रूपाली जायसवाल- लॉकडाउन में भी हरियाणवी डांसर सपना चौधरी(Sapna Choudhary) के डांस मूव्स का कोई मुकाबला नहीं है, सपना के ठुमकों में जो बात है शायद वो भी किसी और डांसर में नहीं है। इसी का नतीजा है कि सपना सोशल मीडिया पर एक के बाद एक रिकॉर्ड तोड़ते जा रही हैं और लॉकडाउन में बिना कुछ किए भी ये बाला अपने लटके-झटकों से फैन्स को मदहोश कर रही हैं।

हाल ही में सपना चौधरी का एक पुराना सुपरहिट गाना 'तू चीज लाजवाब'(Tu Cheej Lajawab) यूट्यूब पर काफी ज्यादा देखा और सर्च किया जाने वाला वीडियो बना और अब सपना चौधरी का एक और हरियाणवी गाना यूट्यूब पर छा सा गया है। गाने का नाम है 'मैं धर्मेंद्र रे गोरी तू मेरी हेमा मालिनी बन जाइए (Main Dharmendra Re Gori Tu Meri Hema Malini Maan Jayiye)' जिसमें सपना हमेशा की तरह दिल खोलकर और पूरी एंजॉयमेंट के साथ डांस करती दिखाई दे रही हैं। इस वीडियो को अब तक 21 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं।

सपना के इस बेहतरीन डांस वीडियो को 'टशन हरियाणवी' (Tashan Haryanvi) चैनल ने शेयर किया है, और काफी कम समय में ये वीडियो फैन्स के दिलों में घंटियां बजाने में कामयाब रहा है। इस वीडियो को देखने के बाद लोग सपना चौधरी की जमकर तारीफें कर रहे हैं, और लॉकडाउन में बोरियत से बचने के लिए फैन्स सपना के गानों का ही सहारा ले रहे हैं। 

हाल ही में सपना का एक नया म्यूजिक वीडियो 'डोप छोरा'(Dope chora) भी आउट हुआ है जिसमें सपना सलवार-सूट के बजाय वेस्टर्न आउटफिट पहने फुल टू पार्टी मूड में नज़र आ रही हैं। वहीं इस बेहतरीन गाने के लिरिक्स एमडी ने लिखे हैं। 

खैर ये तो सपना के फैंस की दीवानगी है जिसकी वजह से वो इस मुकाम पर पहुंची हैं लेकिन ये भी सच है कि सपना भी फैंस का दिल से स्वागत करती हैं और उनके वीडियोज यू-ट्यूब और इंटरनेट पर इस कदर धमाल मचाते हैं कि, कुछ ही मिनटों में वो वायरल हो जाते हैं।

Related Story

Next Story

PICS: 39 साल के हुए MAHENDRA SINGH DHONI, गुपचुप रचाई थी साक्षी संग शादी

single-post

By E24 July 7, 2020, 3:38 p.m. 1k

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज अपना 39वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे है। उनका जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड (तब बिहार) के रांची में हुआ था। महेंद्र सिंह धोनी ये नाम क्रिकेट की दुनिया का एक ऐसा नाम है जिसके नाम कई रिकॉर्ड्स हैं। अपने बड़े बालों के साथ बल्लेबाजी करते धोनी, गेंदबाजों के छक्के छुड़ाते माही, विकेट के पीछे से अपने गेंदबाजों को सुझाव देते है। 

झारखंड के रांची से आने वाले धोनी ने भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाईयां दी। धोनी क्रिकेट के मैदान में जितना धमाल मचाते हैं वहीं पर्सनल लाइफ में वो काफी सुलझे हुए हैं। धोनी के जन्मदिन पर हम आपको इस कपल की लव-स्टोरी बता रहे हैं।

धोनी और साक्षी की मुलाकात बचपन में ही हो गई थी। धोनी और साक्षी के पिता रांची में एक ही कंपनी मेकॉन में काम करते थे। इसीलिए धोनी-साक्षी बचपन से ही एक दूसरे को जानते थे। धोनी और साक्षी रावत तब रांची के डीएवी श्यामली के स्कूल में साथ पढ़ते करा करते थे।

 साक्षी और धोनी के परिवार एक दूसरे को बहुत पहले से जानते थे। कोलकाता की साक्षी सिंह रावत के परिवार का नाता देहरादून से जुड़ा है। हालांकि महेंद्र सिंह धोनी झारखंड के रांची में पैदा हुए पर उनका परिवार अलमोरा जिले से है। 

ऐसे में दोनों का उत्तराखंड कनेक्शन भी है। साक्षी फिर से सीधे ही देरादून चली गईं तो दोनों परिवारों के बीच कोई कनेक्शन ही नहीं बचा, लेकिन वो कहते हैं ना कि किस्मत में जो लिखा हो उसे कौन टाल सकता है। धोनी और साक्षी की मुलाकात अचानक की कोलकाता में हुई। 

 उस वक्त भारत और पाकिस्तान के बीच ईडन गार्डन्स में मैच खेला जा रहा था। जिस होटल में धोनी रुके थे उसी होटल में साक्षी ट्रेनिंग ले रहीं थीं। होटल के मैनेजर युद्धजीत दत्ता ने साक्षी की धोनी से मुलाकात कराई। इसके बाद धोनी ने दत्ता से साक्षी का नंबर मांगा और मैसेज किया। 

पहले साक्षी को लगा कि कोई फिरकी ले रहा है लेकिन बाद में पता चला कि वो धोनी ही है। इसके बाद 2008 में दोंनों ने एक दूसरे को डेट करना शुरू किया। किसी को इनके रिलेशन के बारे में कोई खबर नहीं थी। अचानक ही खबर इनकी सगाई की आ गई। 

4 July 2010 को देहरादून के एक होटल में सारी तैयारियां चुपचाप ही हो गईं थीं। अचानक ही दोनों ने शादी भी कर ली। मीडिया में शादी की कोई खबर तक नहीं पहुंच पाई थी। 

बाद में सबको पता चला कि ये शादी कर चुके हैं। दोनों की शादी में परिवार के साथ सुरेश रैना और जॉन अब्राहम जैसे कुछ नाम ही शामिल हुए। शादी के काफी वक्त 6 जनवरी 2015 को धोनी और साक्षी की बेटी जीवा ने जन्म लिया। धोनी आज वाइफ साक्षी के साथ हैप्पिली मैरिड हैं। 

Related Story

Next Story

SUSHANT SINGH RAJPUT की आखिरी फिल्म DIL BECHARA का ट्रेलर रिलीज, दिल जीत लेगा उनका रोमांटिक अंदाज !

single-post

By E24 July 6, 2020, 4:53 p.m. 1k

सुशांत ( Sushant Singh Rajput ) के करोड़ों फैंस उनकी फिल्म दिल बेचारा के ट्रेलर का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे । आखिरकार इंतजार खत्म हुआ, 24 जुलाई को रिलीज हो रही दिल बेचारा का ट्रेलर आ गया है। आपको बता दे पहले इस फिल्म का नाम किजी और मैनी था बाद में फिल्म का टाइटल 'दिल बेचारा' हो गया । ये पूरी तरह से प्यार भरी कहानी है। फिल्म में किंजी बासु का रोल कर रही हैं संजना सांघी वो  कैंसर की मरीज हैं तो वहीं मैनी के रोल में हैं सुशांत सिंह राजपूत ।

 एक हैंडसम कॉलेज ब्यॉय जो कि खूब मस्तीखोर है। किजी और मैनी एक दूसरे के अच्छे दोस्त और फिर धीरे -धीरे प्यार में पड़ जाते हैं । इसी दौरान कैंसर पीड़ित किजी की हालत बिगड़ने लगती है और उसे लगता है कि मरने से पहले वो अपने सपनों को पूरा करे। इसमे मैनी उसकी मदद करता है। रोमांटिक अंदाज में सुशांत काफी जंच रहे हैं। एक्टिंग ही नहीं उनका लुक भी फैंस को दीवाना बना रहा है। उनकी और संजना की केमिस्ट्री भी शानदार है।  2.43 सेकेंड के ट्रेलर में सिर्फ और सिर्फ सुशांत और संजना छाए हुए हैं। फिल्म में सैफ अली खान भी है लेकिन उनकी झलक भी नहीं दिखाई गई है। 

बता दें कि ये फिल्म 2012 में आई जॉन  ग्रीन के इंग्लिश नॉवल पर बेस्ड 'द फॉल्ट इन ऑवर स्टार्स है। हॉलीवुड में इस नॉवेल पर पहले ही फिल्म बन चुकी है। इस फिल्म की शूटिंग 2018 से चल रही थी। फिल्म के ज्यादातर हिस्से झारखंड के जमशेद में शूट किए गए जबकि क्लाइमेक्स पेरिस में शूट हुआ। पहले ये फिल्म नंवबर 2019 को रिलीज होने वाली थी। फिर फिल्म की रिलीज डेट 8 मई 2020 हुई और अब ये फिल्म दर्शक डिज्नी हॉटस्टार पर 24 जुलाई को देख सकेंगे।

आपको बता दे कि आज सुबह से सुशांत के फैंस ने ट्विटर पर दिल बेचारा फिल्म  के बारे में इतना लिखा कि  #DilBecharaTrailer टॉप पर ट्रेंड कर रहा है। इस फिल्म के ट्रेलर को लेकर लोग कई तरह से अपने दिल की बात लिख रहे थे। ट्रेलर रिलीज होने के 30 मिनट के भीतर ही इसे 1 लाख से ज्यादा लोगों ने देख लिया है। सुशांत के फैंस इसे रिकॉर्ड ब्रेकिंग ट्रेलर बनाना चाहते हैं। 

दिल बेचारा को फॉक्स स्टार ने प्रोड्यूस किया है। इस फिल्म के डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा है। दिल बेचारा से वो पहली बार डायरेक्शन की दुनिया में उतरे हैं। मुकेश छाबड़ा इससे पहले कास्टिंग डायरेक्टर थे। सुशांत सिंह राजपूत को पहली फिल्म काई पो चे इन्हीं के जरिए मिली थी। सुशांत ने मुकेश से वादा किया वो उनकी पहली फिल्म में काम करेंगे और उन्होंने अपना वादा पूरा किया। 

Related Story

Next Story

Flashback - बॉलीवुड की इस एक्ट्रेस ने बहुत दुख देखें, निधन के बाद ठेले पर ले जाया गया था श्मशान

single-post

By E24 July 5, 2020, 11:14 a.m. 1k

सुनील दत्त (Sunil Dutt ) की फिल्म हमराज (Humraaz ) से बॉलीवुड ( Bollywood )में एक बेहद खूबसूरत एक्ट्रेस लॉन्च हुई थी। नाम था विमी। विमी ( Vimi ) उन हीरोइनों में से एक थीं जो अपनी  खूबसूरती और अदाओं के लिए मशहूर हुईं। विमी एक आजाद ख्याल महिला थी जो एक पंजाबी परिवार से थी। अपने परिवार के मर्जी के खिलाफ़ इन्होने कलकत्ता के एक मारवाड़ी व्यवसायी शिव अग्रवाल से शादी की थी। विमी का एक बेटा और बेटी भी थी लेकिन इससे उनके फिल्मी करियर पर कोई फर्क नहीं पड़ा। संगीतकार रवि ने विमी को मुंबई लाकर बी आर चोपड़ा से मिलाया और यही से शुरू हुआ उनका फ़िल्मी सफ़र । पहली ही फिल्म 'हमराज' से वो रातोंरात स्टार बन गईं। देखते ही देखते उनके पास फिल्मों की लाइन लग गई और सभी हिट रहीं। अब तो निर्माता-निर्देशक विमी को अपनी फिल्मों में लेने के लिए उनके घर के चक्कर तक काटने लगे

उन्होंने हमराज के बाद वचन, पतंगा और आबरू जैसी बेहतरीन फ़िल्मों में काम किया । बावजूद इसके उनका करियर परवान नहीं चढ़ा। अपने करियर आगे बढ़ाने के लिए वो एक्सपोज करने तक को तैयार हो गईं थीं। इससे उनके पति नाराज होकर उनसे अलग हो गए। 

इसके बाद  विमी जॉली नाम के प्रोड्युसर के साथ रहने लगी। विमी का ये रिश्ता भी नाकाम रहा।  तनाव और तंगहाली ने विमी को शराब का लती बना दिया और जॉली ने भी उनका साथ छोड़ दिया। काम ना मिलने की वजह से विम्मी की आर्थिक हालत बद से बदतर होने लगी।

 

कभी महंगी गाड़ियों में घूमने वाली और फिल्मों के जरिए मोटी कमाई करनेवाली विमी की आर्थिक हालत इतनी बिगड़ गई थी कि उन्हें अपना बंगला तक छोड़ना पड़ा। कहा तो ये भी जाता है कि विम्मी ने खुद को वेश्यावृति के हवाले कर दिया था और इससे उनका बचा करियर भी बर्बाद हो गया। 

गुमनामी और बदहाली के दौर से गुजर रही विमी  की जिंदगी के आखिरी दिन नानावटी अस्पताल में गुजरे और आर्थिक तंगी के आगे बेबस होकर विम्मी की सांसों ने भी उनका साथ छोड़ दिया। विमी इस कदर गुमनामी में चली गईं थीं कि कोई उनकी खोज खबर लेने वाला नहीं था।

22 अगस्त 1977 को विमी का निधन हो गया था। 40 साल पहले आज ही के दिन विमी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था।  आखिरी दिनों में उनके पास इतने पैसे भी नहीं थे कि उनकी शव यात्रा निकाली जाए और उनकी लाश को एक ठेले पर डालकर ले जाना पड़ा था। उनकी अंतिम यात्रा में बस चार-पांच लोग ही थे।

Related Story

Next Story

टीवी की वो 7 एक्ट्रेसेस जो अब गुमनाम हैं, कहीं नजर नहीं आती !

single-post

By E24 July 5, 2020, 11:08 a.m. 1k

पूजा राजपूत –छोटे पर्दे पर हमेशा टीवी एक्ट्रेसेस का दबदबा रहा है। नयारा, प्रज्ञा, प्रीतो, इशिता, महर, गुड्डन ये वो बहुएं ऑडिएंस के दिलों पर कई साल से राज कर रही हैं। लेकिन कुछ चेहरें ऐसे भी हैं, जो अपनी खास पहचान बनाने के बाद भी आज सीरियल्स की दुनिया से गायब हैं। जिनके बारे में आज हम बात करेंगे-

राजश्री ठाकुर (Rajshree Thakur)-

सांवली रंगत वाली राजश्री ठाकुर को उनके रंग-रूप की वजह से ही टीवी पर खास पहचान मिली थी। 2005 में आए ज़ीटीवी के सीरियल ‘सात फेरे’ में राजश्री ने सलोनी का किरदार निभाया था, जिसे हमेशा अपनी रंगत की वजह से समाज की उपेक्षा का सामना करना पड़ता था। सलोनी के रोल में राजश्री ने जान डाल दी थी। उनकी एक्टिंग का हर कोई फैन था। 

लेकिन सात फेरे के बाद राजश्री ठाकुर भी पर्दे से लम्बे वक्त तक गायब रहीं। आखिरी बार राजश्री को 2013 में आए सीरियल धरती का वीर योद्धा- महाराणा प्रताप में देखा गया था। शो के खत्म होने के बाद से ही राजश्री एक बार फिर सीरियल्स की दुनिया से दूर हैं।

नौशीन अली सरदार (Nausheen Ali Sardar)-

सोनी टीवी का बेहद पॉपुलर सीरियल था ‘कुसुम’ । जिसमें लीड किरदार एक्ट्रेस नौशीन अली सरदार ने निभाया था। एकता कपूर का ये सीरियल सुपरहिट रहा था। ‘कुसुम’ के किरदार में नौशीन को काफी पसंद किया गया। नौशीन को कुसुम के नाम से ही पहचाना जाने लगा। हांलाकि इसके बाद नौशीन पर्दे से गायब हो गई। 

कुछ सीरियल्स में नौशीन गेस्ट अपीरिएंस में भी नज़र आईं, लेकिन उन्हें कुसुम वाली सक्सेस दोबारा नहीं मिल पाई। पिछले साल नौशीन ऑल्ट बालाजी की वेब सीरिज़ क्लास ऑफ 2020 में दिखी थीं। लेकिन कोई भी अपनी फेवरेट ‘कुसुम’ को पहचान नहीं पाया था।

श्वेता क्वात्रा (Shweta Kawatra) – 

सीरियल ‘कहानी घर-घर की’ की पल्लवी अग्रवाल तो आपको याद होगी ही।, पार्वती अग्रवाल की देवरानी पल्लवी अग्रवाल के किरदार में नज़र आईं थीं एक्ट्रेस श्वेता क्वात्रा। ‘कहानी घर-घर की’ के बाद श्वेता ने कुसुम, कृष्णा अर्जुन, C.I.D. , जस्सी जैसी कोई नहीं सीरियल्स में काम किया। 

श्वेता लम्बे वक्त से सीरियल्स की दुनिया से गायब हैं। आपको बता दें कि श्वेता ने टीवी एक्टर मानव गोहिल से शादी की है। दोनों की एक बेटी भी है।

पूनम नरुला (Poonam Narula) –

90 के दशक में सोनी टीवी पर बेहद पॉपुलर शो आया था जिसका नाम था ‘कन्यादान’। शो में किरण खेर, जयती भाटिया के अलावा मुख्य भूमिका में नज़र आई थी एक्ट्रेस पूनम नरूला। एकता कपूर के सीरियल कसौटी जिंदगी की की में भी पूनम ने निवेदिता बासू का रोल प्ले किया था। पूनम इंडस्ट्री के पॉपुलर चेहरों में से एक थीं। लेकिन 2010 के बाद से पूनम को किसी भी सीरियल में देखा नहीं गया।

शिखा स्वरूप (Shikha Swaroop) –

90 के दशक के शुरुआती दौर में शिखा स्वरूप ने फिल्मों की दुनिया से सीरियल्स की दुनिया का रुख किया था। आज भी हर कोई उन्हें चन्द्रकांता के तौर पर जानता है। शिखा को आखिरी बार 2012 में ज़ीटीवी पर प्रसारित हुए सीरियल रामायण-सबके जीवन का आधार में कैकेयी के रोल में देखा गया था।

भैरवी रायचूरा (Bhairavi Raichura) –

बालिका वधू में भैरवी रायचूरा ने आनंदी की मां का रोल निभाया था। भैरवी ने अपने करियर की शुरुआत कॉमेडी शो हम पांच से की थी। हम पांच में भैरवी काजल भाई के रोल में दिखी थीं। इसके बाद बाद भैरवी ने कई सीरियल्स में काम किया, लेकिन भैरवी को आंनदी की मां के रोल भागवती सिंह के रोल में दर्शकों का खूब प्यार मिला। लम्बे वक्त से भैरवी भी गुमनामी की जिंदगी जी रही हैं।

शेफाली शर्मा(Shefali Sharma) –

कलर्स के हिट सीरियल बानी-इश्क दा कलमा में बानी का रोल निभाकर शेफाली शर्मा टीवी का पॉपुलर चेहरा बन गई थीं। सीरियल ‘दिया और बाती हम’ में भी शेफाली ने काम किया। 2016 में शेफाली सीरियल तेरे बिन में दिखी थीँ। इसके बाद से ही शेफाली किसी सीरियल में नहीं दिखी हैं।

Related Story