Flashback - जब Ajay Devgn के पिता ने बचाई थी मिथुन की जान, 50 फीट की ऊंचाई से गिरे थे !

By Neetu May 27, 2020, 5:12 p.m. 1k

अजय देवगन ( Ajay Devgn) के पिता और जाने माने स्टंट डायरेक्टर वीरू देवगन ( Veeru Devgan) की आज पहली पुण्यतिथि है। साल 2019 में 27 मई को उनका निधन हो गया था। उन्होंने करीब 124 फिल्मों में उन्होंने एक्शन डायरेक्टर के तौर पर काम किया। बड़े बड़े स्टार्स को उन्होंने फिल्मों में फाइट सीन करना सिखाया ।  साल 1986 की बात है। मिथुन चक्रवर्ती ( Mithun Chakraborty)  एक्शन डायरेक्टर वीरू देवगन के साथ एक फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। सीन ये था कि मिथुन को ऊंचाई से छलांग लगानी थी। करीब 50 फीट की ऊंचाई पर मिथुन खड़े थे और उसी दौरान एक्शन करते हुए उनका बैलेंस बिगड़ा। वो तेजी से नीचे गिरने लगे। कैमरे के पास खड़े होकर वीरू देवगन सीन देख रहे थे। उनकी नजर ऊपर से गिरते हुए मिथुन चक्रवर्ती पर पड़ी। वीरू देवगन तेजी से दौड़े और 50 फीट की ऊंचाई से गिर रहे मिथुन को लपक लिया। अपने मजबूज बाजुओं में उन्होंने 50 फीट की ऊंचाई से गिरे मिथुन को संभाला। इस हादसे से 3 घंटे तक मिथुन सदमे में रहे। इस घटना के कुछ दिन पहले ही फिल्म इंडस्ट्री में स्मिता पाटिल का निधन हुआ था। मिथुन ने वीरू देवगन से यही कहा कि वीरू जी अगर आपने मुझे नहीं लपका होता तो स्मिता के बाद मेरे मौत की खबर फैलती। मिथुन वीरू देवगन की बहुत इज्जत करते थे, उन्होंने उनकी जान बचाई थी। 

 वीरू देवगन अपने बेटे को बहुत प्यार करते थे और अपने बेटे को भी एक बार बचाया था। साजिद खान के  टीवी शो में एक्टर अजय देवगन और उनके दोस्त साजिद खान एक पुराना किस्सा बताया था। इस किस्से को बताते हुए साजिद खान ने खुलासा किया कि कैसे एक बार अजय देवगन को भीड़ से बचाने के लिए वीरू देवगन ने करीब 200 फाइटर्स भेजे थे।

साजिद ने पूरी कहानी को बताया है कि वो और अजय की व्हाइट जीप में  घूमते थे। एक बार अजय गाड़ी चला रहे थे और उनके सामने एक बच्चा आ गया था। अजय ने फुल स्पीड पर ब्रेक मारा। उसे लगी नहीं थी लेकिन वो डर के मारे रोने लगा तो आस पास के जो लोग थे वो अचानक झुंड में पता नहीं कहा से करीब 1000 लोग आ गए।

हम उन्हें समझाने की कोशिश कर रहे थे कि गलती से ऐसा हुआ और बच्चे को लगी नहीं है। लेकिन वो लोग बोले कि तुम लोग तो अमीर लोग हो गाड़ी तेज चलाते हो। लेकिन तब तक वहां मौजूद भीड़ हमें पीटन लगी । करीब 10 मिनट में ये बात अजय के पापा के पास पहुंच गई और वीरू जी वहां पर 150-200 फाइटर्स लेकर आ गए  थे और अपने बेटे को बचाया था। 

Related Story