क्रिकेट, लक और इश्क की कहानी है 'द जोया फैक्टर' , जानिए फिल्म को मिले कितने स्टार ?

By Sept. 20, 2019, 5:13 p.m. 1k

फिल्म - द जोया फैक्टर 

निर्देशन - अभिषेक शर्मा 

कलाकार - सोनम कपूर, दुलकर सलमान, संजय कपूर, सिकंदर खेर, अंगद बेदी 

समीक्षा - नीतू कुमार 

रेटिंग्स - 3 स्टार 

क्रिकेट पर बॉलीवुड में कई फिल्में बन चुकी हैं। एक और फिल्म क्रिकेट की कहानी कह रही है लेकिन इस बार क्रिकेट के साथ लक को जोड़ा गया है। सोनम कपूर और दुलकर सलमान की फिल्म द जोया फैक्टर अनुजा चौहान की किताब द जोया फैक्टर का फिल्मी रूपांतर है। फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक शर्मा हैं। उनके खाते में तेरे बिन लादेन, शौकीन और पोखरण जैसी फिल्में हैं। जोया फैक्टर रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है। 

कहानी - जोया सोलंकी का जन्म 25 जून 1983 को होता है। जोया के जन्म लेते ही टीम इंडिया वर्ल्ड कप का मैच जीत जाती है। उसके क्रिकेटप्रेमी पापा ( संजय कपूर ) उसे लकी चार्म का खिताब दे देते हैं। पिता को ऐसा लगता है कि इंडिया के वर्ल्ड कप जीतने में जोया की पैदाइश का हाथ है। उसके बाद से गली का क्रिकेट में भी जोया के लक का फैक्टर माना जाने लगता। जोया  ( सोनम कपूर ) एक एड एजेंसी के काम करती है और उसकी कंपनी उसे   इंडियन क्रिकेट टीम का फोटोशूट करने भेजती है। जोया की मुलाकात टीम इंडिया के कैप्टन निखिल खोड़ा ( दुलकर सलमान) से होती है। विज्ञापन शूट के दौरान टीम इंडिया का कैप्टन जोया की मासूमियत से प्रभावित हो जाता है। 

एक दिन वो जोया को टीम इंडिया  के साथ नाश्ता के लिए बुलाता और यही वो भारतीय टीम की लकी चार्म बन जाती है। जोया उन्हें बताती है कि वो जिस क्रिकेट टीम के साथ नाश्ता करती है वो टीम जीत जाती है। जोया टीम इंडिया के साथ नाश्ता करती है और उसी दिन टीम मैच जीत जाती है। टीम की जीत के साथ ही टीम के कई खिलाड़ी ये मान लेते हैं कि जोया उनकी लकी चार्म है। खिलाड़ी रॉबिन ( अंगद बेदी ) भी जोया के बहाने कैप्टन निखिल का प्रभाव कम करना चाहता है। दूसरे मैंच में भी ऐसा ही होता है। खराब फॉर्म में चल रही टीम इंडिया दूसरा मैच भी जीत जाती है। इंडियन टीम ही नहीं प्रबंधन भी ये मामने लगता है कि जोया टीम के लिए लकी हैं लेकिन कैप्टन निखिल खोड़ा इस बात को नहीं मानता। इसी दौरान जोया और निखिल में प्यार भी शुरू हो जाता है। जोया और निखिल के प्यार में जोया का लक फैक्टर विलेन बनने लगता है। वर्ल्ड कप जीतने के लिए इंडियन क्रिकेट प्रबंधन जोया से एक कॉन्ट्रैक्ट भी साइन करवा लेती है। क्या वाकई जोया के लक से टीम इंडिया मैच जीत लेती है ? ये जानने के लिए आप फिल्म देखिए। 

हमारी राय - जोया फैक्टर एक वन टाइम वाच फिल्म है। सोनम कपूर का चुलबुलापन और मासूमियत अच्छा लगता है। उनपर कॉमेडी भी जंचती है। वहीं दुलकर सलमान भी प्रभावित करते हैं। उनकी एक्टिंग भी सराहनीय है। सोनम और दुलकर सलमान के बीच फिल्मी पर्दे पर तालमेल बेहतरीन है। फिल्म में अंगद बेदी का किरदार दिलचस्प है। वो टीम इंडिया के खिलाड़ी है और कैप्टन निखिल कोड़ा के विरोधी भी। फिल्म में दो गाने काश और मेहरू बहुत अच्छे लगते हैं। हमारी तरफ से इस फिल्म को 3 स्टार  

Related Story

Next Story

कोरोना के बीच शूटिंग पर लौटीं एक्ट्रेस TAAPSEE PANNU, शेयर की तस्वीर

single-post

By E24 July 8, 2020, 7:19 a.m. 1k

चीन से शुरु हुआ जानलेवा कोरोना वायरस देश और दुनिया में अभी कहर भरपा रहा है । आए दिन लाखों की ताताद में लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं । बीते तीन महीनों तक देश में लॉकडाउन देखने को मिला । वहीं अब देश के कई हिस्सों में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। ऐसे में टीवी और बॉलीवुड इंडस्ट्री का काम भी अब धीरे-धीरे शुरु हो गया है । बीते दिनों कई स्टार्स शूटिंग के सेट पर लौटे थे । वहीं अब इस लिस्ट में एक्ट्रेस तापसी पन्नू का नाम शामिल हो गया । इसकी जानकारी खुद तापसी ने इंस्टाग्राम स्टोरी में एक तस्वीर शेयर की है जिसमें उन्होंने लिखा है कि वे एक बार फिर काम पर लौट आई हैं ।

बता दें कि पिछले 3 महीनों से तापसी अपने घर पर ही रहे रही थी । सोशल मीडिया पर बहन संग कई फोटो और वीडियो शेयर करती नजर आई है। हाल ही में एक्ट्रेस तापसी पन्नू तब हैरान और परेशान हो गईं  थी जब उन्होंने अपने घर का बिजली बिल देखा था । इस बात की जानकारी तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी ।

 

एक्ट्रेस के घर का एक महीने का बिजली बिल 36 हजार रुपये आया था । ऐसे में तापसी पन्नू अपने पिछले महीने का बिल देखकर हैरान हैं क्योंकि उन्होंने अपने घर के लिए ना तो कोई नया उपकरण खरीदा है, और ना ही वह बिजली का ज्यादा इस्तेमाल करती हैं । तापसी पन्नू का यह ट्वीट खूब वायरल हो रहा है और लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं । बता दें आखिरी बार एक्ट्रेस तापसी पन्नू फिल्म 'थप्पड़' में नजर आईं थीं । इस फिल्म से एक्ट्रेस ने खूब बाहबाही बटोरी थी । 

Related Story

Next Story

Shahrukh Khan और Rajkumar Hirani की फिल्म को लेकर बड़ा खुलासा ?, ऐसी है स्टोरी

single-post

By E24 July 8, 2020, 12:20 a.m. 1k

फिल्म जीरो के बाद से बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने कोई भी फिल्म साइन नहीं की है और न ही उनकी कोई फिल्म पर्दे पर रिलीज की गई है। लंबे समय से शाहरुख खान के फैन उनके फिल्म का इंतजार कर रहे हैं और लगता है अब फैन्स के लिए खुशखबरी आ गई है। वहीं, अब शाहरुख खान की अगली फिल्म को लेकर यह खबरें आ रही हैं कि एक्टर राजकुमार हिरानी (Rajkumar Hirani) के साथ फिल्म करते नजर आएंगे। सामाजिक कॉमेडी पर आधारित इस फिल्म की कहानी अप्रवास पर आधारित होगी, जिसमें एक्टर पंजाब से कनाडा जाएंगे। 

 

रिपोर्ट के मुताबिक अगस्त 2020 से फिल्म की शूटिंग शुरू होने वाली थी, हालांकि, कोरोना वायरस महामारी के कारण अब फिल्म के इस शेड्यूल को बदलना पड़ गया है। अब फिल्म के एक्टर और डायरेक्टर आवाजाही पर लगे प्रतिबंध को हटने का इंतजार कर रहे हैं, जिससे वह अंतरराष्ट्रीय लोकेशन पर फिल्म का नया शेड्यूल बना सकें।

शाहरुख खान ने कुछ महीने पहले अपने अगले प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए कहा था, "इस बार, मैं ऐसा महसूस नहीं कर रहा कि मुझे यह करना है। मुझे लगता है इस समय, मैं फिल्में देखने के लिए, अच्छी स्क्रिप्ट और किताबें पढ़ने के लिए समय निकालूं। मेरे बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी कर रहे हैं। सुहाना फिलहाल कॉलेज में है। आर्यन भी जल्द ही अपना कॉलेज पास करने वाला है। मैं अपने परिवार के साथ ज्यादा से ज्यादा वक्त बिताना चाहता हूं। मैं तभी एक्टिंग करूंता हूं, जब मेरे दिल से आवाज आती है। लेकिन इस बार मैं ऐसा करने के लिए महसूस नहीं कर पा रहा हूं। कई सारे लोग मुझे कहानियां सुना रहे हैं, मैंने 15-20 कहानियां सुनी हैं, जिनमें से मुझे 2, 3 पसंद भी आईं हैं। लेकिन मैंने अभी तक यह निर्णय नहीं लिया है कि मुझे कौन सी फिल्म करनी है। "

Related Story

Next Story

'जो जीता वही सिकंदर' की रिलीज के 28 साल पूरे, जानिए क्यों अक्षय को फिल्म से निकाल दिया गया था

single-post

By E24 July 8, 2020, 12:19 a.m. 1k

आमिर खान Aamir Khan स्टारर जो जीता वही सिकंदर की रिलीज को 28 साल पूरे हो चुके हैं। 22 मई 1992 में रिलीज हुई ये फिल्म दर्शकों को आज भी उतनी ही पसंद है। हालांकि कम ही लोगों को पता है कि ये आमिर खान की डेब्यू फिल्म हो सकती थी। दरअसल, मंसूर खान के पास ये स्क्रिप्ट पहले से थी और वो कयामत से कयामत तक से पहले यही फिल्म बनाना चाहते थे। लेकिन बात नहीं बनी।

बाद में जब इस फिल्म पर काम शुरू हुआ तो सबसे पहले जुही चावला को ही हीरोइन का रोल ऑफर किया गया। लेकिन जुही चावला के पास एकमुश्त डेट्स नहीं थीं इसलिए उन्हें फिल्म छोड़नी पड़ी। वहीं ये फिल्म अक्षय कुमार और आमिर खान की भी साथ में पहली फिल्म हो सकती थी। लेकिन शूटिंग करने के बावजूद अक्षय को फिल्म से रिप्लेस कर दिया गया। अक्षय कुमार को फिल्म में दीपक तिजोरी के रोल के लिए कास्ट किया गया था लेकिन वो फिल्म में गेंद से अजीब से खिलवाड़ करते रहते थे। और इसलिए 80 प्रतिशत शूटिंग होने के बावजूद फिल्म से उन्हें निकाल दिया गया और दीपक तिजोरी के साथ नए सिरे से शूटिंग शुरू हुई।

फराह खान फिल्म में असिस्टेंट डायरेक्टर थीं लेकिन एक दिन सरोज खान सेट पर नहीं पहुंची। पहला नशा गाना शूट होना था और फराह ने ऑफर किया कि वो ये गाना शूट कर सकती हैं। यहीं से उनका बॉलीवुड सफर शुरू हुआ। फिल्म में शेखर की भूमिका में थे मिलिंद सोमण। लेकिन 30 प्रतिशत शूटिंग के बाद मिलिंद को भी फिल्म से निकाल दिया गया। इसके बाद दीपक तिजोरी आखिरकार फिल्म में शेखर मल्होत्रा के किरदार में दिखाई दिए।

बार बार फिल्म शूट करते करते मंसूर खान थक चुके थे। वो फिल्म से भी सारी उम्मीदें छोड़ चुके थे लेकिन आमिर खान उनके साथ खड़े रहे और समझाया कि ये फिल्म भारतीय सिनेमा के इतिहास की बेहतरीन फिल्मों में से एक मानी जाएगी। भले ही इसे बनने में कितना भी समय लगे।

ये फिल्म अंग्रेज़ी फिल्म ब्रेकिंग अवे से पूरी तरह से प्रेरित है। हालांकि फिल्म को 1993 में बेस्ट फिल्म का फिल्मफेयर अवार्ड मिला था। ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। IMDB रैंक की मानें तो जो जीता वही सिकंदर 1992 की सबसे ज़्यादा कमाने वाली टॉप 10 फिल्मों में शामिल थी

Related Story

Next Story

Sridevi की आखिरी फिल्म MOM के 3 साल पूरे, भावुक हुए Boney Kapoor

single-post

By E24 July 7, 2020, 10:14 p.m. 1k

श्रीदेवी की आखिरी फिल्म मॉम की रिलीज के 3 साल पूरे हो चुके हैं। आज से 3 साल पहले 7 जुलाई 2017 को डायरेक्टर रवि उदयावर की ये फिल्म रिलीज हुई थी। जिसमें श्रीदेवी लीड रोल में थी। ये रोल उनके करियर के दमदार रोल्स में से एक था। जिसके लिए उन्हें सालों तक याद किया जाएगा। फिल्म में श्रीदेवी के अलावा नवाजुद्दीन सिद्दीकी और अक्षय खन्ना अहम रोल में थे। साथ ही पाकिस्तानी एक्ट्रेस सजल अली और अदनान सिद्दीकी ने भी इस फिल्म में इंपोरटेंट रोल किए थे। 

हाल ही में श्रीदेवी के पति, निर्माता बोनी कपूर ने ट्वीट कर लिखा कि-"वक्त कितनी जल्दी गुजर जाता है, मॉम की रिलीज को तीन साल हो गए हैं। श्रीदेवी की राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता परफॉर्मेस के लिए और पूरी कास्ट और टीमों के शानदार प्रदर्शन और कड़ी मेहनत के लिए हमेशा याद किया जाएगा।

ये फिल्म श्रीदेवी के करियर की 300 वीं फिल्म थी। 'इंग्लिश विंग्लिश' की रिलीज के करीब 5 साल बाद वो बड़े परदे पर नजर आई थीं। इस फिल्म को लोगों ने बहुत पसंद किया था और क्रिटिक्स ने भी इसकी तारीफें की थी। दिलचस्प बात ये है कि साल 1969 में रिलीज हुई श्रीदेवी की पहली फिल्म Thunaivan भी जुलाई के महीने में 4 तारीख को रिलीज हुई थी और सालों बाद उनकी आखिरी फिल्म भी इसी महीने में रिलीज हुई। श्रीदेवी की इस फिल्म के टीजर को ऑडियंस का इतना जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला कि मेकर्स को ये फिल्म कई भाषाओं में डब करनी पड़ी। ये फिल्म तमिल, तेलुगु और मलयालम में भी रिलीज हुई थी।

इस फिल्म के लिए श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड मिला। जो उनके पति बोनी कपूर ने अपनी दोनों बेटियों जाह्ववी और खुशी के साथ लिया था। इसके अलावा जीक्यू, जी सिने अवॉर्ड्स और आइफा अवॉर्ड्स में भी श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस का खिबा मिला।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी इसी फिल्म से सिर्फ इसलिए जुड़े थे क्योंकि वो श्रीदेवी के साथ काम करना चाहते थे। इतना ही नहीं इस फिल्म में श्रीदेवी ने पहली बार अक्षय खन्ना के साथ भी काम किया था। इससे पहले वो अक्षय से चांदनी के सेट पर मिली थीं जहां वो उनके पिता विनोद खन्ना के साथ काम कर रही थीं।

Related Story