बॉलीवुड में आया ऐतिहासिक योद्धाओं की बायोपिक का दौर, अजय-अर्जुन और अक्षय बने वॉरियर

By Aditi Jan. 13, 2020, 4:05 p.m. 1k

बॉलीवुड में बीती कुछ सालों से बायोपिक फिल्मों का दौर चल रहा हैं। हर कोई इस तरह की फिल्मों को डायरेक्ट करना चाहता हैं। पिछले 4-5 साल से फिल्म इंडस्ट्री बायोपिक का दौर लगातार जारी है। अब तक बॉलीवुड में कई बायोपिक फिल्मों को दिखाया गया हैं लेकिन सबसे ज्यादा दर्शकों ने मराठाओं की बायोपिक को पसंद किया गया। हाल ही में रिलीज हुईं अजय देवगन की फिल्म तानाजी: द अनसंग वॉरियर जिसे दर्शक खूब पसंद कर रहे हैं। 

तानाजी: द अनसंग वॉरियर

आशुतोष गोवारिकर की हिस्टॉरिकल फिल्म पानीपत के बाद निर्देशक ओम राउत तानाजी द अनसंग वारियर के साथ प्रस्तुत हुए हैं। पानीपत के बाद तानाजी एक और ऐसी ऐतिहासिक फिल्म है, जो मराठा साम्राज्य की शूरवीरता को भव्य अंदाज में दर्शाने में कामयाब रही है। फिल्म में अजय देवगन, काजोल, सैफ अली खान, शरद केलकर अहम भूमिकाओं में हैं। फिल्म को लेकर पहले ही लोगों में काफी क्रेज था। फिल्म 10 जनवरी को रिलीज हुई है। मराठा शौर्य और वीरता की कहानी है तानाजी द अनसंग वॉरियर ( Tanhaji - The Unsung Warrior )। इतिहास के पन्नों में छुपे एक ऐसे योद्धा की शौर्यगाथा जिसके बारे में बहुत लोग नहीं जानते थे। मराठा सूबेदार तानाजी मालुसरे एक ऐसे ही योद्धा थे जिनके बारे में इतिहास में बहुत कम जिक्र मिलता है। तानाजी ने कोंढाना का किला मुगलों से जीता था। कोंढाना की लड़ाई में वह शहीद हो गए थे। उनके निधन पर शिवाजी ने कहा गया था कि गढ़ आया पर सिंह गया। शिवाजी ने तानाजी की याद में ही इस किले का नाम सिंहगढ़ रख दिया था। 

बाजीराव-मस्तानी

सबसे पहले बात करते हैं फिल्म बाजीराव-मस्तानी की जिसे बॉलीवुड के फेमस डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने दर्शकों तक पहुंचा था। 'बाजीराव मस्तानी' एक भारतीय ऐतिहासिक (मराठा युग) रोमांस फ़िल्म है। फ़िल्म मराठा साम्राज्य के पेशवा बाजीराव और उसकी दूसरी पत्नी मस्तानी के बारे में बताती है। रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण ने ये दोनों मुख्य किरदार निभाए हैं, प्रियंका चोपड़ा ने बाजीराव की पहली पत्नी का व तन्वी आज़मी ने बाजीराव की मां का किरदार निभाया है। ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर खूब हिट साबित हुईं थी। बाजीराव प्रथम को एक महान घुड़सवार सेनापति के रूप में जाना जाता है और इतिहास के उन महान योद्धाओं में बाजीराव का नाम आता है जिन्होंने कभी भी अपने जीवन में युद्ध नहीं हारा और बाजीराव प्रथम ने अपने जीवन में एक भी युद्ध नहीं हारा था। 

पानीपत 

आशुतोष गोवारिकर के डायरेक्शन में बनी फिल्म पानीपत भारत के मराठाओं की शौर्य गाथा से लबरेज है। इसमें मराठा सेना के शूरवीर सदाशिव राव भाउ की स्टोरी को फिल्मी तड़का के साथ पेश किया गया है। फिल्म की स्टोरी 1761 में मराठाओं और अफगान के बादशाह अहमदशाह अब्दाली के बीच लड़ाई और उसमें मराठा योद्धा सदाशिव राव भाउ के शौर्य के साथ इतिहास को उजागर करती है। सदाशिव भाउ के कैरेक्टर में अर्जुन कपूर किया। वहीं, कृति सेनन सदाशिव राव भाउ की पत्नी पार्वती बाई के रोल में न्याय करती नजर आती हैं।  फिल्म के खलनायक अहमद शाह अब्दाली के रूप में संजय दत्त भी असर दिखने में कामयाब रहे हैं। 

पृथ्वी राज 

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) फिल्म पृथ्वीराज चौहान की बायोपिक में भी लीड रोल करेंगे। इस फिल्म में एक्टर के साथ पूर्व मिस मानुषी छिल्लर नजर आएंगी। ये फिल्म यशराज फिल्मस की सबसे महंगी फिल्म होगी।  पृथ्वी राज चौहान बहुत वीर योद्धा थे और उन्होंने मुहम्मद गौरी को कई बार युद्ध में हराया था। पृथ्वी राज चौहान और संयोगिता की प्रेम कहानी भी बहुत मशहूर थी। जयचंद की बेटी संयोगिता पृथ्वी राज चौहान से प्रेम करती थी और पृथ्वी राज चौहान संयोगिता को स्वंयवर से भगा ले आए थे।  जयचंद पृथ्वी राज चौहान से इतना चिढ़ता था कि वो मोहम्मद गौरी से मिल गया था। पृथ्वी राज चौहान की कहानी में वीरता है, रोमांस है और कई नाटकीय मोड़ भी। यशराज बैनर इस फिल्म को बड़े पैमाने पर बनाने जा रहा है। 

Next Story

लॉकडाउन में नुसरत भरूचा के हाथ लगी नई फिल्म, 'छोरी' में आएंगी नजर

single-post

By E24 May 28, 2020, 11:03 p.m. 1k

बॉलीवुड एक्ट्रेस नुसरत भरूचा के फैंस के लिए एक गुड न्यूज है। लॉकडाउन के बीच एक्ट्रेस की नई फिल्म की घोषणा हुई है। ये मूवी एक हॉरर फिल्‍म होगी। इस फिल्म का नाम छोरी है। सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी तरण आदर्श ने दी है। तरण आदर्श ने पोस्‍टर जारी किया है उसमें गन्‍ने का खेत नजर आ रहा है और आसमान में काले बादल नजर आ रहे हैं। 

विशाल फूरिया के निर्देशन में बनने वाली इस फिल्‍म को विक्रम मल्‍होत्रा और जैक डेविस प्रोड्यूस करेंगे। वहीं इस फिल्‍म का स्‍क्रीनप्‍ले और संवाद विशाल कपूर के होंगे। आपको बता दें कि ये फिल्म छोरी मराठी भाषा की हिट फिल्‍म लापाछप्‍पी की हिंदी रीमेक होगी। मेकर्स ने इस बात की भी घोषणा ऑफिशियल तौर पर की है।

एक्ट्रेस की बात करें तो इन दिनों अपनी फैमिली के साथ घर पर टाइम स्पेंड कर रही हैं। बीते दिनों ईद के मौके पर नुसरत ने एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें उन्होंने फैंस को बोहरा ईद की बधाई देते हुए परिवार के साथ अपनी कुछ खूबसूरत तस्वीरें भी दिखाई थीं। जिनमें वो सेंवई का लुत्फ लेते दिखी थीं। 

फिल्म ‘प्यार का पंचनामा’ से बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने वाली नुसरत की आखिरी रिलीज फिल्म पिछले साल आई ‘ड्रीम गर्ल’ थी। जिसने बॉक्स ऑफिस पर 200 करोड़ रुपए का कलेक्शन किया था। अब नुसरत जल्द ही राजकुमार राव के साथ फिल्म ‘छलांग’ और सनी कौशल के साथ ‘हुड़दंग’ में नजर आएंगी।

Next Story

धर्मेंद्र ने शेयर किया टिड्डियों के आतंक का वीडियो, कहा- बचपन में हुआ था सामना

single-post

By E24 May 28, 2020, 10:25 p.m. 1k

आज भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना वायरस की लड़ाई लड़ रही हैं। भारत में ये लड़ाई दिन भर दिन और मुश्किल होती नजर आ रही हैं। एक तरह कोरोना का आंतक तो वहीं अब देश पर टिड्डी अटैक भी हो गया है। देश के कई राज्यों में टिड्ढियों ने अपना आतंक मचा दिया है। इसी बीच एक्टर धर्मेंद्र ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर लोगों को इससे बचने के लिए कहा है। कैप्शन में उन्होंने लिखा है- सावधान रहिए, जब हम दसवी क्लास में थे, हमे बुला इन्हें मरवाया जाता था। आप ध्यान रखिए। 

इस वीडियो में आप देख सकते है कि लाखों की तादाद में टिड्ढियां एक घर से दूसरे घरों पर बैठे हैं। ये वीडियो राजस्थान का बताया जा रहा है। जहां इन  टिड्ढियों ने अपना हमला बोल दिया है। कहा जा रहा है कि दिल्ली में भी इसका अटैक हो सकता है। इससे पहले धर्मेंद्र ने एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें वह फार्महाउस पर इत्मिनान से बैठकर बारिश का आनंद लेते नजर आए थे। बता दें कि कोरोना वायरस के चलते एक्टर अपने फार्महाउस पर रह रहे हैं। जहां वो खुद खेती करते है और कई वीडियो भी शेयर कर चुके है।  

Next Story

जब भाग्यश्री ने सलमान को दी थी दूर रहने की चेतावनी ! जानिए पूरी खबर

single-post

By E24 May 28, 2020, 9:50 p.m. 1k

पूजा राजपूत- पूरानी कहावत है- इश्क और मुश्क छुपाए नहीं छुपते और अगर आप सेलिब्रिटी (celebrity) हैं। खासतौर से बॉलीवुड स्टार (Bollywood Star) हैं, फिर तो लव अफेयर (Love Affair) की खबरें जंगल में लगी आग की तरह फैलती हैं। आज के दौर में सोशल मीडिया (Social Media) इतना एक्टिव हो गया है। कि लाख छुपाने के बाद भी सितारों के लिंकअप और डेटिंग की खबर छिप नहीं पाती हैं। लेकिन 90 के दौर में ऐसा नहीं था। तब मीडिया की ताकत इतनी बढ़ी हुई नहीं थी और सितारे आसानी से इस तरह की खबरों को छुपा लेते थे। यूं कहें कि अपनी पर्सनल लाइफ को लोगों की नज़रों से दूर रखने में कामयाब हो जाते थे।

इन दिनों बॉलीवुड एक्टर भाग्यश्री (Bhagyashree) का तीन साल पुराना इंटरव्यू (Throwback Interview) सोशल मीडिया पर वायरल (Viral) हो रहा है। इंटरव्यू में भाग्यश्री ने खुलासा किया था कि कैसे उन्होंने सलमान खान (Salman Khan) को खुद से दूर रहने के लिए चेतावनी दे दी थी, ताकि मीडिया में उनका नाम सलमान से ना जुड़े। 1989 में भाग्यश्री ने सलमान खान के साथ फिल्म ‘मैने प्यार किया’ (Maine Pyaar Kiya) से डेब्यू किया था।

उस वक्त बॉलीवुड में सलमान की इमेज लवर बॉय की थी। कोई भी लड़की सलमान के चार्म से बच नहीं पाती थी, लेकिन भाग्यश्री को यह सब पसंद नहीं था जिसकी बड़ी वजह थे। हिमालय दसानी (Himalaya Dasani)। जिनसे भाग्यश्री फिल्मों में आने से पहले ही प्यार करती थीं।

 

2017 के अपने इंटरव्यू में भाग्यश्री ने कहा था कि– “वह (सलमान और हिमालय) उसके बाद सिर्फ एक बार मिले हैं। सलमान ने सबसे पहले हिमालय के साथ मेरे रिश्ते के बारे में ‘दिल दीवाना’ गाने की शूटिंग के दौरान जाना था। वह मेरे पीछे आते और मेरे कान में गाना गाते। मैं उन्हें चेतावनी देती रहती थी, कि लोग हमारे बारे में बात करना शुरु कर देंगे। आधे दिन तक मुझे परेशान करने के बाद उन्होंने मुझे बताया कि उन्हें हिमालय के बारे में सब पता है। यहां तक की उन्होने मुझे सुझाव दिया कि मैं हिमालय को फिल्म की लोकेशन पर बुलाऊं। वो दोनों काफी अच्छे से मिले थे।“

भाग्यश्री ने फिल्म की रिलीज़ के बाद ही हिमालय दसानी से शादी कर ली थी। फिल्म ‘मैने प्यार किया’ इंडियन टेलीविज़न पर सबसे ज्यादा देखी गई फिल्मों की लिस्ट में शामिल है। उस साल भागयश्री को ‘मैने प्यार किया’ के लिए बेस्ट डेब्यू का फिल्म फेयर अवॉर्ड मिला था। जबकि सलमान खान 90 के दशक रोमांटिक हीरो बन गए थे। 

Next Story

क्यों सोनू प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए, जानिए वजह

single-post

By E24 May 28, 2020, 9:39 p.m. 1k

पूजा राजपूत- बॉलीवुड(Bollywood) अभिनेता(Actor) सोनू सूद(Sonu Sood) के चर्चे इनदिनों हर जगह है। कोई फिल्मी विलेन को असल जिंदगी का हीरो कह रहा है, तो कोई रियल लाइफ(Real life) का सुपरहीरो(Superhero)। किसी ने सोनू सूद को प्रवासी मजदूरों(migrant workers) का मसीहा का नाम दे दिया, तो कोई आज सोनू को भगवान की तरह पूज रहा है। वजह है- निस्वार्थ भावना से किया गया सोनू का वो नेक काम, जिसकी वजह से सोनू सूद ने सभी का दिल जीत लिया है। 

कोरोनावायरस की वजह से देश में लॉकडाउन लगा तो गरीब मजदूरों के सामने खाने-पीने का भी संकट खड़ा हो गया। सब से ज्यादा मुसीबत प्रवासी मजदूरों पर आ पड़ी, जो काम की तलाश में अपने घर-गांव से सैंकड़ों मील दूर महानगरों में काम करने के लिए आए थे। ऐसे में मुंबई में फंसे प्रवासी मजदूरों की तरफ सोनू सूद ने मदद का हाथ बढ़ाया। सरकार की अनुमति लेकर उन्होने बसों का इंतज़ाम किया, और हर ज़रुरतमंद प्रवासी मजदूर को उसके गांव-शहर भेजने का पूरा बंदोबस्त किया। दिन-रात एक करके सोनू इन दिनों प्रवासी मजदूरों की मदद कर रहे हैं। हर कोई जानना चाहता है, कि प्रवासी मजदूरों का दुख और तड़प देख सोनू के दिल में इतना दर्द कैसे उमड़ा। 

तो इसकी वजह है- कि कभी खुद सोनू सूद भी इसी तरह मुंबई की सड़कों पर भटकते थे, अपने लिए काम की तलाश में। 22 साल पहले 1998 में सोनू मुंबई(Mumabi) चले आए थे। आपको जानकर हैरानी होगी कि सोनू इंजीनियर(engineer) हैं। पंजाब(Punjab) के मोगा(Moga) शहर के रहने वाले सोनू ने नागपुर के यशवंतराव चवन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की हुई है। पंजाब में सोनू के पिता की कपड़ों की दुकान थी, जबकि उनकी मां प्रोफेसर थीं। पढ़ाई-लिखाई में अच्छे सोनू ने मां की इच्छा पर नागपुर के कॉलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। 

पढ़ाई के दौरान ही सोनू की मुलाकात नागपुर में एमबीए की पढ़ाई कर रही तेलुगु लड़की सोनाली से मुलाकात हुई। सोनाली और सोनू एक दूसरे को पसंद करने लगे। 25 दिसंबर 1996 को सोनू सूद ने सोनाली से शादी कर ली। शादी के दो साल बाद ही फिल्मों में काम करने की चाहत उन्हें मुंबई ले आई। खास बात यह है, कि सोनाली, सोनू के इस फैसले के खिलाफ थीं। लेकिन जिंदगी की हर स्ट्रग्ल में सोनाली ने सोनू का साथ दिया।

अपने एक इंटरव्यू में सोनू ने खुद बताया था, कि वह जब मुंबई शिफ्ट हुए थे, तब वह और सोनाली तीन स्ट्रग्लिंग एक्टर्स के साथ एक कमरे के फ्लैट में रहे थे।सोनू और सोनाली के दो बेटे हैं ईशांत और अयान।

फिल्मों में सोनू को पहला ब्रेक मिला,  तमिल फिल्म ‘कल्लाजगार’(Kallazhagar) से, जिसके बाद उन्होने तमिल और तेलुगु भाषा कि कई फिल्मों में काम किया। 2002 में आई हिंदी फिल्म ‘शहीद-ए-आज़म’ ने सोनू के लिए बॉलीवुड के दरवाज़े खोले। फिल्म में उन्होने भगत सिंह की भूमिका निभाई थी। 2008 में आई फिल्म ‘जोधा अकबर’ में सोनू राजकुमार सूजामल के रोल में दिखे। 2009 में सोनू की तेलुगु फिल्म ‘अरुंधती’ रिलीज़ हुई थी, जिसमें उन्होने विलेन की भूमिका ऩिभाई थी। फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। फिल्म में यादगार रोल निभाने के लिए सोनू को नंदी अवॉर्ड और फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिले थे। लेकिन सोनू अब तक उस हिट के लिए तरस रहे थे, जिसकी उन्हें ख्वाहिश थी। 

सोनू की यह इच्छा पूरी हुई  साल 2010 में। जब रिलीज़ हुई सलमान खान की फिल्म ‘दबंग’। फिल्म वह विलेन छेदी सिंह के किरदार में थे। सोनू की एक्टिंग और पर्सनैलिटी ने फिल्म के हीरो सलमान खान को सीधी टक्कर दी थी। सोनू ने अपनी एक्टिंग के लिए खूब तारीफें बटोरीं। छेदी सिंह के किरदार के लिए उन्हें नेगेटिव एक्टर कैटेगरी में अप्सरा अवॉर्ड और आइफा अवॉर्ड्स मिले। 

जिसके बाद सोनू ने कभी पीछे मुंड़कर नहीं देखा। 2018 में आई फिल्म सिम्बा में सोनू ने एक बार फिर नेगेटिव रोल प्ले किया था। सोनू दुर्वा रानाडे के रोल में दिखे थे। 

अक्षय कुमार की अपकमिंग फिल्म ‘पृथ्वीराज’ में भी सोनू अहम भूमिका निभा रहे हैं।लेकिन असल जिंदगी में सोनू फिलहाल जो भूमिका अदा कर रहे हैं, उसने सोनू को सभी का चहेता सितारा बना दिया है। सोनू प्रवासी मजदूरों के मसीहा बन गए हैं और लाखों लोगों को दिल जीत रहे हैं।