single-post

FILM REVIEW - रोमांटिक क्राइम थ्रिलर है मलंग, फिल्म में है ढेर सारा सस्पेंस

Feb. 7, 2020, 3:24 p.m.

फिल्म - मलंग 

कलाकार - आदित्य रॉय कपूर, अनिल कपूर, दिशा पाटनी, कुणाल खेमू 

डायरेक्टर - मोहित सूरी 

स्टार - 3 

समीक्षा - नीतू  कुमार 

मलंग ( Malang ) एक डार्क, रोमांटिक और क्राइम थ्रिलर फिल्म है। फिल्म में ढेर सारा सस्पेंस है। मलंग आपको एक अलग ही दुनिया में ले जाती है । फिल्म के सभी किरदारों का डार्क पक्ष दिखा है। ट्रेलर में आपने जो कहानी देखी है फिल्म उससे बहुत अलग है। हर किरदार को बहुत अच्छी तरह से गढ़ा गया है। जो जैसा दिखता है उसका सच कुछ और ही निकलता है। आदित्य रॉय कपूर ( Aditya Roy Kapoor ) के करियर को एक स्ट्रॉन्ग फिल्म की जरूरत थी और मलंग उनकी नैय्या पार लगा सकती है। दिशा पाटनी ( Disha Patni ) का भी स्टारडम ये फिल्म बढ़ाएगी। लंबे समय बाद कुणाल खेमू ( Kunal Khemu ) को शानदार रोल मिला है तो वहीं अनिल कपूर  ( Anil Kapoor ) इस फिल्म की सबसे बड़ी यूएसपी हैं। 

कहानी -  फिल्म जेल से शुरू होती है। अद्वैत ठाकुर ( आदित्य रॉय कपूर ) जेल में बंद है । एक दबंग कैदी उसपर हमला करता है और फिर अद्वैत एक के बाद एक उसके कई साथियों को चित कर देता है । जेल से बाहर आते ही वो तीन पुलिसवालों की हत्या करता है। हर हत्या से पहले वो क्राइम ब्रांच के पुलिस इंस्पेक्टर अंजनेय अगाशे ( अनिल कपूर ) को फोन करता है । इन हत्याओं को सुलझाने की जिम्मेदारी पुलिस इंस्पेक्टर माइकल ( कुणाल खेमू ) को दी जाती है। अगाशे हर मुजरिम का एनकाउंटर करने में यकीन करता है तो वहीं माइकल कानून के मुताबिक मुजरिमों से डील करता है।  कहानी बार - बार 5 साल पीछे  फ्लैशबैक में जाती है। गोवा में अद्वैत छुट्टियां मनाने आया है। वहीं उसकी मुलाकात सारा ( दिशा पाटनी ) से होती है। सारा एक बिंदास लड़की है। वो हर वो चीज करना चाहती है जिससे उसे डर लगता है। सारा और अद्वैत एक साथ बहुत खुश हैं। इसी दौरान सारा के साथ कुछ ऐसा होता है कि अद्वैत को जेल हो जाती है । पुलिस इंस्पेक्टर अगाशे और माइकल केस के तह तक पहुंचने की कोशिश करते हैं और फिर एक के बाद एक कहानी की कई परतें खुलती हैं। क्यों अद्वैत पुलिसवालों की हत्या करता है ? ये जानने के लिए आप फिल्म देखिए । 

हमारी राय - मलंग को डायरेक्टर मोहित सूरी ने ऐसे बनाया है कि फिल्म में आपकी रूचि बनी रहती हैं । हर आधे घंटे पर कहानी में कुछ नया बदलाव आता है । नए राज खुलते हैं । अनिल कपूर इंस्पेक्टर अगाशे के रोल में खूब जंचे हैं। कह सकते हैं कि वो शो स्टीलर हैं। कुणाल खेमू का काम और रोल भी शानदार है। आदित्य रॉय कपूर की बॉडी और एक्टिंग दोनों ही धांसू है। फिल्म के लिए उन्होंने ने जो मेहनत की है वो साफ दिख रहा है।  दिशा पाटनी बहुत हॉट और खूबसूरत दिखी हैं । उनका रोल भी काफी दिलचस्प है । एली एबराम भी फिल्म में एक खास भूमिका में हैं । जेसी के किरदार में वो सटीक लगी है। स्क्रीनप्ले और म्यूजिक तारीफ के काबिल है । कैमरा वर्क भी अच्छा है। फिल्म का फर्स्ट हाफ और बेहतर हो सकता था । कहीं-कही कहानी धीमी पड़ती है। फिल्म का अंत आपको चौंका देता है, वहीं कहानी को कमजोर भी करता है। हां ये एडल्ट फिल्म है। इसे बच्चों को ना ही दिखाएं तो बेहतर होगा।