शेखर सुमन ने भी सुशांत के लिए उठाई आवाज, लगाए ‘बिहार जिंदाबाद’ के नारे

By Arunima June 23, 2020, 4:26 p.m. 1k

पूजा राजपूत – सुशांत सिंह राजपूत(Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या(Suicide) के बाद बॉलीवुड(Bollywood) में भूचाल आ गया है। सुशांत के निधन के बाद से ही फिल्म इंडस्ट्री में ‘नेपोटिज्म’ और ‘खेमेबाजी’ का मुद्दा फिर गर्माया गया है। 14 जून को सुशांत के निधन के बाद ही यह बहस शुरू हो गए थे, कि आउटसाइडर होने की वजह से सुशांत को इंडस्ट्री में अलग-थलग कर दिया गया। कहा गया कि उन्हें कई प्रमुख फिल्म निर्माताओं ने बैन कर दिया था, जिसकी वजह से सुशांत डिप्रेशन के शिकार हो गए थे। फिल्ममेकर करण जौहर(Karan Johar) और अभिनेता सलमान खान(Salman Khan) को सबसे ज्यादा विरोध का सामना करना पड़ा रहा है। 

इंडस्ट्री की ही कई नामी-गिरामी हस्तियां भी बॉलीवुड पर निशाना साध चुकी हैं, हांलाकि इन आरोपों के जवाब में ज्यादातर सेलेब्स ने चुप्पी साधी हुई है। और अब इसी चुप्पी पर दिग्गज अभिनेता शेखर सुमन(Shekhar Suman) ने निशाना साधा है। शेखर सुमन ने ट्विटर(Twitter) पर सोमवार दोपहर ट्वीट करते हुए लिखा कि “ फिल्म इंडस्ट्री के सारे शेर बनने वाले कायर सुशांत के चाहनेवालों के कहर से, चूहे बनकर बिल में घुस गए हैं। मुखौटे गिर गये हैं। पाखंडी लोग उजागर हो गए हैं। बिहार और भारत चुप नहीं बैठने वाले जब तक दोषियों को सज़ा नहीं दी जाती। बिहार जिंदाबाद”।

आपको बता दे शेखर सुमन भी बिहार के रहने वाले हैं। शेखर ने जिस तरह का ट्वीट किया है उससे साफ जाहिर है कि बॉलीवुड की गुटबाजी और नेपोटिज्म के वो विरोधी है। शेखर सुशांत के सुसाइड के बाद से भी बॉलीवुड 

के कुछ लोगों को उनकी आत्महत्या का दोषी मान रहे हैं। वो लगातार सोशल मीडिया पर लिख रहे हैं। 

सुशांत बिहार(Bihar) के पटना(patna) शहर के रहने वाले थे। सुशांत के निधन के बाद से ही बिहार में रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत के फैंस का गुस्सा भड़का हुआ है। पटना में हुए विरोध प्रदर्शन में करण जौहर और सलमान खान के पुतले जलाए गए थे। तो पटना स्थित सलमान के बीइंग ह्यूमन स्टोर में तोड़-फोड़ भी की गई थी। इसी बीच, बीजेपी सांसद (BJP MP) और भोजपुरी फिल्मों (Bhojpuri Films) के सुपरस्टार मनोज तिवारी(Manoj Tiwari) भी सुशांत सिंह राजपूत के पटना स्थिति निवास पर पहुंचे, मनोज तिवारी ने सुशांत के पिता केके सिंह से मुलाकर अपनी सांत्वना व्यक्त की, साथ ही कहा कि अक्सर छोटे शहर से आने वाले युवाओं को फिल्म इंडस्ट्री में दबाया जाता है।

इसके साथ ही मनोज तिवारी ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। इतना ही नहीं लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान(Chirag Paswan) भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे(Uddhav Thackeray) से इस मामले को लेकर बात कर चुके हैं। उन्होने उद्धव ठाकरे से फोन पर 4 से 5 मिनट तक बात की और बिहार में फैले आक्रोश को लेकर उनसे बातचीत की है। उद्धव ठाकरे ने उन्हे भरोसा जताया है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी।

Related Story