single-post

अर्जुन के घर में मां मोना की यादें बसी हैं, मां ने घर को जैसे सजाया था वैसे ही रखा है

Feb. 3, 2020, 6:02 p.m.

 

नीतू कुमार - इशकजादे', 'गुंडे', '2 स्टेट्स' 'तेवर' और  पानीपत समेत कई फिल्मों में अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुके अर्जुन कपूर ( Arjun Kapoor )  प्रोड्यूसर बोनी कपूर ( Boney Kapoor) और उनकी पहली पत्नी मोना कपूर ( Mona Kapoor ) के बेटे हैं। मोना कपूर का निधन साल 2011 में ही हो गया था। अर्जुन की पहली फिल्म रिलीज होने से पहले ही मोना का कैंसर ( Cancer ) की वजह से निधन हो गया। अर्जुन अपनी मां के बहुत करीब रहे हैं। 3 फरवरी को मोना का जन्मदिवस होता है। अर्जुन ने अपनी मां को याद करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखा है। अर्जुन की ये तस्वीर उनकी मम्मी के आखिरी बर्थडे सेलिब्रेशन्स की हैं। उन्होंने लिखा है कि मां मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं। मुझे उम्मीद है कि आप जहां कहीं भी है यूं ही मुस्कुरा रही होंगी। ये तस्वीर आपके लास्ट बर्थडे सेलिब्रेशन की है और तब मुझे लगा था कि हम आगे भी यूं ही बर्थडे मनाते रहेंगे। 

अर्जुन कपूर अपनी मां के बहुत करीब रहे हैं। उनका घर जुहू, मुंबई में है। इस घर का इंटीरियर उन्होंने अपनी मां मोना और बहन अंशुला कपूर के साथ मिलकर डिजाइन किया था। मां के निधन के बाद से वे और अंशुला इस घर में रहते हैं। यह बात अलग है कि अर्जुन घर ( Arjun Kapoor House ) में कम ही रुक पाते हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा था, "मेरा ज्यादातर समय शूटिंग में निकल जाता है। इसलिए घर में बमुश्किल वक्त बिता पाता हूं।" अर्जुन ने अपने घर की दीवारों को पेंटिंग्स से सजाया हुआ है। अर्जुन की मानें तो ये पेंटिंग्स उनकी मां मोना कपूर को बेहद पसंद थीं। उन्होंने कहा था, "मेरी मां ने घर के इंटीरियर को डेकोरेट किया था और मैं नहीं चाहता कि इसमें कोई बदलाव किया जाए।" 

यह भी पढ़ें: जान्हवी ने किया भाई अर्जुन के साथ रैंप वॉक, इस अंदाज में नजर आईं भाई-बहन की जोड़ी

अर्जुन कपूर बॉलीवुड के उन ऐक्टर्स में से है जिन्होंने अपनी पहचान खुद बनाई है। अर्जुन के पापा बोनी कपूर बॉलीवुड के नामचीन प्रोड्यूसर है लेकिन अर्जुन को बॉलीवुड में अपनी जगह बनाने के लिए संघर्ष करना पड़ा।

 अर्जुन अपनी मां की मौत को भूल नहीं पाए हैं। साल 2012 में मोना कपूर की मौत कैंसर से हो गई। अर्जुन की मां जैसे घर को सजा कर गई थी उन्होंने आजतक वैसे ही घर को रखा है। 

 

 श्रीदेवी के निधन के बाद अर्जुन कपूर अपनी सौतेली बहनों के बहुत करीब आ गए हैं। 

बता दें कि, 25 मार्च 2012 को अर्जुन कपूर की मां मोना शौरी का कैंसर की वजह से निधन हो गया था।  बोनी कपूर ने मोना शौरी से साल 1983 में शादी की थी। लेकिन साल 1996 में बोनी ने श्रीदेवी से शादी कर ली और मोना कपूर को तलाक दे दिया था। लेकिन अर्जुन की जिंदगी तब बदल गई जब उनकी मां उन्हें छोड़कर चली गईं थी। वहीं बीते साल ही श्रीदेवी का भी निधन हो गया है।

अर्जुन आजकल लगातार जाह्नवी और ख़ुशी से मिल रहे हैं। बोनी कपूर के सभी बच्चे आजकल एक साथ डिनर कर रहे हैं। श्रीदेवी चाहती थी कि अर्जुन कपूर के साथ उनके रिश्ते सामान्य हो जाए । इसके लिए उन्होंने कोशिश भी की थी पर ऐसा ना हो सका । लेकिन अब श्रीदेवी के चले जाने के बाद अर्जुन कपूर को उनकी कमी का एहसास हुआ है । 

भले ही अर्जुन कपूर के लिए खुशी और जाहन्वी सौतेली बहने हों । लेकिन अब श्रीदेवी के जाने के बाद अपनी बहन अंशुला के साथ वो उन दोनों को भी सगी बहन की तरह ही प्यार करने लगे हैं। जब श्रीदेवी का निधन हुआ है तब से अर्जुन एक बेटे और एक भाई होने के नाते आगे खड़े रहे हैं । 

परिवर से जुड़े लोगों की माने तो अर्जुन कपूर अपनी बहन जाह्नवी और खुशी के लिए काफी प्रटेक्टिव हो गए हैं। बताया जा रहा है कि वह अपनी जाह्नवी-खुशी के लिए वैसा ही फील करने लगे हैं जैसा कि अपनी सगी बहन अंशुला के लिए । अब तक अर्जुन और उनकी बहन अंशुला ने अपने पिता के परिवार से अलग इंडिपेंडेंट लाइफ जी है। लेकिन अब अर्जुन को लगता है कि उनके पिता और उनके स्टेप सिस्टर्स को उनकी जरूरत है।