अभिनव कश्यप ने सलमान के 'बीइंग ह्यूमन' को बताया 'मनी-लॉन्ड्रिंग' हब, अरबाज बोले- हमें लड़ने में कोई दिलचस्पी नहीं

By Arunima June 21, 2020, 9:32 p.m. 1k

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद फिल्म एक्टर अरबाज खान अपने भाई सलमान खान के साथ सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल हो रहे हैं। उनपर  भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने का आरोप लग रहा हैं। अब उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी हैं। उन्होंने ट्रोल करनेवालों के लिए 'खाली दिमाग, शैतान का घर' कहावत का उपयोग किया हैं।  पिछले रविवार 14 जून को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत हो गई हैं। तबसे सोशल मीडिया पर हंगामा मचा हुआ है। अरबाज खान ने रविवार को एक ट्वीट पोस्ट किया है। इसमें उन्होंने 'खाली दिमाग, शैतान का घर' कहावत का उपयोग किया हैं।

ऐसा कर उन्होंने अपने भाई सलमान खान पर लग रहे भाई-भतीजावाद, पक्षपात और गुंडागर्दी को बढ़ावा देने के आरोपों के खिलाफ रोष भी प्रकट किया हैं। अरबाज ने लिखा, 'खाली दिमाग शैतान का घर है। एक अंग्रेजी कहावत हमने स्कूल में पढ़ा था। मैं तब इसका गहरा अर्थ समझने के लिए बहुत छोटा था, लेकिन हमारे चारों तरफ जो कुछ भी हो रहा है उसे देखते हुए, पुरानी कहावत अब पूरी तरह से समझ में आती है।'

रविवार की सुबह अरबाज़ खान का ट्वीट शनिवार को सलमान खान के ट्वीट के बाद आया है। जहां सलमान ने अपने प्रशंसकों से अनुरोध किया कि वो उनके खिलाफ जारी नाराजगी के बीच खुद को शांत रखें। दरअसल अरबाज खान को भी सलमान खान स्टारर 2011 की फिल्म 'दबंग' के निर्देशक अभिनव सिंह कश्यप ने निशाना बनाया है।

अभिनव कश्यप ने एक पोस्ट लिखकर आरोप लगाया कि सलमान खान और उनके परिवार ने उन्हें धमकाया है और फिल्म इंडस्ट्री के दबाव का उपयोग कर करियर के साथ छेड़छाड़ की है। इस हफ्ते की शुरुआत में अभिनव सिंह कश्यप ने आरोप लगाया था कि 2010 की फिल्म दबंग के निर्देशन के बाद सलमान खान और उनके भाइयों ने उनके प्रोजेक्ट्स के साथ छेड़छाड़ की थी।

उन्होंने दावा किया, 'दस साल पहले मैं 'दबंग 2' बनाने से दूर इसलिए हुआ था क्योंकि अरबाज खान, सोहेल खान और अपने परिवार की मिलीभगत से मुझे धमका रहे थे और मेरे करियर को कंट्रोल करने की कोशिश कर रहे थे। अरबाज खान ने श्री अष्टविनायक फिल्म्स के साथ मेरे दूसरे प्रोजेक्ट में भी छेड़छाड़ की थीं। राज मेहता को फोन करके मेरे साथ फिल्म बनाने पर उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। इसके बाद मुझे श्री अष्टविनायक फिल्म को साइनिंग अमाउंट लौटानी पड़ी और ऐसा वायाकॉम पिक्चर्स के साथ भी हुआ।'

Related Story