आत्महत्या से पहले सुशांत ने सभी कर्मचारियों को दे दी थी सैलरी ! सुसाइड का मन पहले ही बना चुके थे ?

By Neetu June 18, 2020, 5:29 p.m. 1k

दीपक दूबे- बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत जिंदगी से इस कदर मायूस हुए कि आत्महत्या जैसा कदम उठा बैठे। सुशांत अपने परिवार और करोड़ो चाहने वालों को गहरा सदमा दे गए। अब मुंबई पुलिस की जांच में एक ऐसा खुलासा है, जिसे जानकर आप सभी का दिल टूट जाएगा। आप यह जानकर हैरान रह जाएगें, कि जो शख्स अपनी जिंदगी में इतने मुश्किल दौर से गुज़र रहा था, वह जाने से पहले खुद से जुड़े हर शख्स का ख्याल रखकर कर गया था। सुशांत ने अपनी जिंदगी भले ही खत्म कर ली हो, लेकिन उन्होने मौत को गले लगाने से पहले अपने से जुड़े हुए सभी लोगो का ख्याल रखा था। और शायद यही वजह है कि आत्महत्या से तीन दिन पहले ही सुशांत सिंह राजपूत ने घर में काम करने वाले हैल्पर्स, मैनेजर बाकि सभी लोगों के बकाया पैसों का भुगतान कर दिया था। साथ ही अपने नौकर और अन्य स्टाफ को यह भी कह दिया था, कि वित्तिय संकट होने की वजह से वह आगे कोई भुगतान नहीं कर पाएंगे।

पुलिस जांच में सुशांत के मैनेजर ने यह बताया है कि तीन दिन पहले ही सुशांत ने पैसे दे दिए थे। वहीं उनके घर के नौकर ने भी तीन दिन पहले सैलरी मिलने की बात कही है। इस दौरान उसने यह भी बताया कि सर ने यह भी कहा था कि वह वित्तिय कारणों से आगे भुगतान नहीं कर पाएगें जिस पर नौकर ने कहा कि "सर आप ऐसा मत बोलिए, आपने हमारा हमेशा ध्यान रखा है, हम लोग कुछ न कुछ कर लेंगे"। सूत्रों के अनुसार इस तरह के ब्यानों से जाहिर होता है, कि शायद सुशांत वित्तीय कठिनायों से जूझ रहे थे, क्योंकि उनके पास ज्यादा कुछ फिल्म प्रोजेक्ट्स बचे नहीं थे।  सूत्रों के हवाले से यह खबर भी मिली है कि सुशांत को एक वेब सीरिज़ का तकरीबन 14 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट मिलने वाला था। वो भी उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियन के जरिये।  लेकिन दिशा ने 8 जून को बिल्डिंग से कूद कर आत्महत्या कर ली थी ।गौर करने वाली बात यह भी है, कि पुलिस को सुशांत के परिवार की तरफ से यह बताया गया है कि सुशांत किसी भी वित्तीय समस्या से नहीं जूझ रहे थे।

सुशांत के मैनेजर ने पुलिस को दिए बयान में बताया है, कि सुशांत पहले से ही काफी उदास (परेशान) थे और दिशा की मृत्यु ने इसे और बढ़ा दिया था। यहां तक कि वह किसी से बात नहीं करते थे, बस वह अपने कमरे में रहना चाहते थे।वहीं, दिशा सालियान की मौत की जांच कर रही मुम्बई पुलिस के अनुसार जांच के दौरान उन्हें ऐसे किसी प्रोजेक्ट की जानकारी अब तक नहीं मिली है, जिसमें दिशा और सुशांत साथ काम करने वाले थे।  पुलिस को सिर्फ इतना पता चला है, कि दिशा और सुशांत की आखिरी बातचीत 2 बार व्हाट्सअप के जरिये मार्च महीने में हुई थी।

पुलिस को जांच के दौरान यह भी पता चला है कि सुशांत ने तकरीबन डेढ़ महीने से डिप्रेशन की दवा लेनी बंद कर दी थी. क्योंकि वो इस दौरान अच्छा अनुभव कर रहे थे । पुलिस ने इस मामले में शुरुआती जानकारी डॉक्टर से ली है, जो सुशांत का इलाज कर रहे थे।  पूरा बयान लिया जाना अब भी बाकी है, जो जल्द ही लिया जाएगा। 

बुधवार को पुलिस ने कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा का भी बयान सात घण्टे तक दर्ज किया, जहां मुकेश छाबड़ा ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि सुशांत डिप्रेशन में  थे।

Related Story