आशिकी एक्ट्रेस अनु अग्रवाल का बयान, खुद को जोड़ पा रही हूं SUSHANT SINGH RAJPUT से !

By Neetu June 25, 2020, 1:30 p.m. 1k

अदिति त्यागी - बॉलीवुड(Bollywood)  में सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या के बाद नेपोटिस्म (Nepotism) के मुददे को खूब उठाया जा रहा है। जबसे सुशांत ने इस दुनिया को अलविदा कहा है , तभी से उनके फैंस इस बात पर यकीन नहीं कर पा रहे हैं कि सुशांत अब हमारे बीच नहीं हैं। सुशांत के निधन के बाद से ही फैंस उनकी आत्महत्या की सीबीआई से जांच की मांग कर रहे हैं। ख़बरें तो यह भी थी कि सुशांत के एक आउटसाइडर होने की वजह से उन्हें मौत के गड्ढे में धकेला गया है। हालांकि इस बात पर कई बड़े स्टार्स भी अपनी राय रख चुके हैं कि उन्हें भी बॉलीवुड में नेपोटिस्म का शिकार होना पड़ा है।  

 अब इसी दौरान आशिकी(Aashiqui)  फिल्म की अनु अग्रवाल (Anu Agarwal) ने भी नेपोटिस्म पर अपनी राय रखी है।अनु अग्रवाल ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि उन्हें भी अपने डेब्यू के समय कुछ ऐसी ही स्थिति का सामना करना पड़ा था। अनु ने बताया कि उनके शुरुआती दौर में ऐसा महसूस होता था कि वो भी एक आउटसाइडर है और उन्हें भी लेफ्ट आउट मह्सूस कराया जाता था। अनु बताती हैं कि लोग आपसे जलना शुरू कर देते हैं जब आप सफलता की सीढ़ी चढ़ने लगते है। मैं भी उसी दलदल का हिस्सा बन गयी थी। 

अनु अग्रवाल ने आगे बताया कि एक ऐसा समय था जब उन्हें एक अवार्ड फंक्शन में लीड एक्ट्रेस से सपोर्टिंग एक्ट्रेस में तब्दील कर दिया गया थाऔर मुझे नॉमिनेट भी किया गया था। इसके बाद मुझे यह भी बताया गया कि जब अवार्ड शो की जूरी के पास मेरा नाम पहुंचा तो ये कौन है , इसके माँ बाप कौन हैं , पता नहीं कहाँ से आयी है , और उन्होंने मेरा नाम लीड एक्ट्रेस से निकालकर सपोर्टिंग एक्ट्रेस में डाल दिया था, जबकि मैं उसमे लीड एक्ट्रेस का रोल निभा रही थी। फिर मैं घर आ गयी और उस रात खूब रोई, मैंने इस बात को किसी से नहीं बताया था। मैं हैरान थी कि मैं आखिर हूं कहां ? क्या कोई मेरी कदर नहीं करता ? आखिर क्यों , क्या ये सब जलन ही है ? 

अनु अग्रवाल की इन्हीं बातों से वो खुद को सुशांत से जोड़ पा रही हैं क्योंकि सुशांत भी कभी कभी अपनी बातों में यह जाहिर कर देते थे कि वो यहां आउटसाइडर जैसा महसूस करते है। मैं भी सुशांत की बातों को खुद से महसूस कर सकती हूँ। मेरा साथ उस समय कोई नहीं देता था और जो लोग मेरा साथ देना चाहते थे मैं उनके करीब नहीं  थी । क्यो आगे चलकर वो भी आपसे कुछ ना कुछ बदले में मांगने की उम्मीद रखते हैं।  

Related Story