Wednesday, November 30, 2022
--- विज्ञापन ---

Latest Posts

BTS के लिए साउथ कोरिया ने बदला कानून, राष्ट्रपति ने बनाया विशेष दूत, डिप्लोमेटिक पासपोर्ट भी दिए गए

- Advertisement -

बीटीएस बैंड अपने बेहतरीन गानों से दुनियाभर के संगीत प्रेमियों का दिल जीतता आ रहा है। इसके सम्मान में अब दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने बीटीएस बैंड को भविष्य की पीढ़ियों और संस्कृति के लिए दक्षिण कोरिया का विशेष दूत नियुक्त किया है।

जैसा की सभी जानते हैं, बीटीएस एक के पॉप यानी कोरियन पॉप बैंड है, जिसमें कुल 7 सदस्य हैं। इन सभी सात सदस्यों की लोकप्रियता को देखते हुए दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन जल्द ही अमेरिका के न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र की 76वीं महासभा में हिस्सा लेने जाएंगे, जहां उनके साथ बीटीएस के सदस्य भी होंगे। संयुक्त राष्ट्र में बीटीएस के सदस्य भाषण भी देंगे। इस दौरान उनकी म्यूजिकल परफॉर्मेंस की एक वीडियो क्लिप भी चलाई जाएगी। इसी के साथ इन्हें डिप्लोमेटिक पासपोर्ट भी दिए जा रहे हैं।

इतना ही नहीं BTS के सदस्यों के लिए दक्षिण कोरिया की सरकार ने पिछले साल अपने देश के 63 साल पुराने कानून को भी बदल दिया था। इस कानून के मुताबिक दक्षिण कोरिया में 18 से 28 वर्ष के उम्र के युवाओं को अनिवार्य रूप से 20 महीनों के लिए सेना में सेवाएं देनी होती हैं। अब नए कानून के मुताबिक, दक्षिण कोरिया के K Pop Stars 18 से 28 नहीं बल्कि 18 से 30 वर्ष की उम्र के बीच कभी भी सेना में सेवा दे सकते हैं। इसी बात से बीटीएस बैंड की लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है। 

बताते चलें कि जब भी BTS की कोई नई Album या गाना रिलीज होता है तो दक्षिण कोरिया और पूरी दुनिया में BTS से जुड़े प्रोडक्ट्स की बिक्री तेज हो जाती है। BTS से आकर्षित होकर हर साल 8 लाख लोग दक्षिण कोरिया घूमने जाते हैं, जो दक्षिण कोरिया में आने वाले पर्यटकों का 70 प्रतिशत है।

- Advertisement -

Latest Posts