Saturday, November 26, 2022
--- विज्ञापन ---

Latest Posts

Nargis Dutt Birth Anniversary: ऐसे शुरू हुई नरगिस-सुनील दत्त की लव-स्टोरी, फिल्मी सीन ने बदल दी थी जिंदगी

- Advertisement -

Nargis Dutt Birth Anniversary: भारतीय सिनेमा के दिग्‍गज एक्ट्रेसेस में शुमार नरगिस (Nargis Dutt) की आज 93वीं जन्‍मतिथि है। उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्में दी है जिसमें मदर इंडिया, अवारा, बरसात, काला बाजार, चोरी-चोरी जैसी फिल्‍में शामिल है। नरगिस की एक्टिंग के साथ-साथ लोग उनकी सादगी पर भी फिदा थे जो आज भी लोगों के जहन में हैं। वहीं आज हम आपको नरगिस और सुनील दत्त की लव-स्टोरी (Nargis And Sunil Dutt Love Story) के बारे में बताएंगे।

1 जून, 1929 को नरगिस का जन्म हुआ और फिर उन्‍होंने 1935 में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर फिल्‍म ‘तलाश ए हक’ से अपने करियर की शुरुआत की थी जिसे उनकी मां जद्दनबाई ने इस फिल्‍म को प्रोड्यूस किया था। उस वक्‍त नरगिस की उम्र महज पांच साल थी। इसके बाद नरगिस ने 1942 में फिल्‍म ‘तमन्‍ना’ से उन्‍होंने बतौर एक्ट्रेस अपने करियर की शुरुआत की। नरगिस की मां जद्दनबाई भी काफी मशहूर थी।

नरगिस ने अपने शानदार करियर में एक से बढ़कर क्‍लासिक फिल्‍में दीं। मगर ‘मदर इंडिया’ में उन्‍होंने अभिनय की ऐसी छाप छोड़ी कि उनका नाम ही मदर इंडिया रख दिया गय। जबकि उस वक्‍त वो 28 साल की थी। ये फिल्‍म एकेडमिक अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट हुई थी।

इस अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट होने वाली पहली भारतीय फिल्‍म थी। फिल्‍म में नरगिस ने अपने राधा के किरदार को इस कदर निभाया जो आज भी लोगों के जेहन में जिंदा हैं। इसके बाद साल 1958 में नरगिस को बेस्‍ट एक्‍ट्रेस के लिए फिल्‍म फेयर अवॉर्ड से नवाजा गया।

The Nargis and Sunil Dutt love story: When he saved her from fire and she found the love of her life - Hindustan Times

कहा जाता है कि सुनील दत्‍त के साथ नरगिस के रिश्‍ते की शुरुआत ‘मदर इंडिया’ के सेट पर ही हुई थी। दरअसल, सुनील दत्त को तो नरगिस पहले से ही पसंद थीं। ‘मदर इंडिया’ के सेट पर एक आग का सीन फिल्माया जाना था और जैसे ही आग लगाई गई तो देखते ही देखते आग तेजी से बढ़ गई और नरगिस लपटों में घिर गईं।

सुनील दत्त ने बिना सोचे समझे अपनी जान पर जोखिम में डालकर उन्हें बचाया और फिर धीरे-धीरे दोनों की नजदिकियां बढ़ने लगी और फिर दोनों ने शादी कर ली जिसके बाद तीन बच्चे हुए जिनके नाम संजय दत्‍त, प्रिया दत्‍त और नम्रता दत्‍त हैं। वो आज हमारे बीच नहीं है लेकिन उनकी यादें हमेशा रहेंगी।

 

 

- Advertisement -

Latest Posts