Wednesday, December 7, 2022
--- विज्ञापन ---

Latest Posts

Hijab Controversy: उर्वशी रौतेला ने किया ईरानी महिलाओं का समर्थन, बाल कटवा शेयर किया पोस्ट

उर्वशी रौतेला ने ईरानी महिलाओं का समर्थन किया है। साथ ही बाल कटवा पोस्ट शेयर करती नजर आई हैं।

- Advertisement -

Urvashi Rautela connected with hijab controversy: ईरान में चल रहे हिजाब विवाद (Hijab Controversy) की चर्चा अब पूरी दुनिया में हो रही है। हाल ही में ग्लोबल आइकन प्रियंका चोपड़ा ने ईरानी महिलाओं का समर्थन किया था। वहीं, अब एक्ट्रेस उर्वशी रौतेला को भी ईरानी महिलाओं को सपोर्ट करते देखा गया है। इतना ही नहीं उर्वशी ने अपने बाल कटवाकर हिजाब का विरोध किया है, जिसकी तस्वीरें सामने आते ही सोशल मीडिया पर छा गई हैं।

यहाँ पढ़िए – Uunchai Trailer Out: ‘ऊंचाई’ का शानदार ट्रेलर आउट, दोस्ती निभाते दिखे तीन दिग्गज कलाकार

उर्वशी रौतेला ने कटवाए बाल

उर्वशी रौतेला ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट साझा किया है। इन पिक्चर्स में डीवा अपने बाल कटवाती नजर आ रही हैं। पोस्ट को शेयर करते हुए उर्वशी रौतेला ने कैप्शन में लिखा है,’मैंने अपने बाल काट दिए हैं। महसा अमिनी (Mahsa Amini) की मौत को लेकर हुए विरोध में मारी गए ईरानी महिलाओं और लड़कियों के समर्थन में मैं अपने बाल काट रही हूं। दुनिया भर में महिलाएं बाल काटकर ईरानी सरकार के विरोध में एकजुट हो रही हैं।

कपड़े चुनना महिलाओं का हक- उर्वशी

उर्वशी रौतेला यहीं नहीं रुकीं और उन्होंने आगे लिखा,’यह अब महिलाओं की वैश्विक क्रांति का प्रतीक बन गया है। बालों को महिलाओं की खूबसूरती का प्रतीक माना जाता है। सार्वजनिक रूप से बाल काटकर, महिलाएं दिखा रही हैं कि वे समाज के सौंदर्य मानकों की परवाह नहीं करती हैं। साथ ही किसी भी व्यक्ति या सोसाइटी को यह तय नहीं करने दे सकतीं कि उन्हें कैसे रहना है, क्या कपड़े पहनने हैं? जब महिलाएं एकजुट होती हैं और एक महिला के मुद्दे को पूरी नारी जाति का मुद्दा मानने लगती हैं, तो नारीवाद में एक नया जोश दिखाई देता है।’

यहाँ पढ़िए – Fan Moment Video: अंकित तिवारी के घर जबरन पहुंचा शख्स, यूजर बोले- ‘पक्का इसे पैसे देकर…

कैसे शुरू हुआ हिजाब विवाद?

रिपोर्ट्स की मानें तो ईरान में इस विरोध की शुरुआत 13 सितंबर के बाद हुई थी। 13 सितंबर को महसा अमिनी नाम की लड़की को ईरान पुलिस ने सिर्फ इसलिए गिरफ्तार किया था कि उसने हिजाब सही तरीके से नहीं पहना था। इतना ही नहीं गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने महसा के साथ बेरहमी से मारपीट की थी, जिसकी वजह से वो लड़की कोमा में चली गई। ईरानी पुलिस के अधिकारियों ने बताया था कि महसा की मौत प्राकृतिक थी, लेकिन वहां के कार्यकर्ताओं के मुताबिक महसा की जान बेरहमी से मारपीट के कारण गई थी। इसी के बाद से ईरान में हिजाब विवाद शुरू हुआ और महिलाओं ने सार्वजनिक तौर पर हिजाब को जलाना और बाल काट इसका विरोध करना शुरू कर दिया।

यहाँ पढ़िए – बॉलीवुड से जुड़ी ख़बरें    

- Advertisement -

Latest Posts