Wednesday, December 7, 2022
--- विज्ञापन ---

Latest Posts

Chhath Puja 2022: पंकज त्रिपाठी इस साल मुंबई में ही सेलिब्रेट करेंगे छठ पूजा, घर नहीं जानें की बताई वजह

Chhath Puja 2022: बॉलीवुड के मशहूर एक्टर पंकज त्रिपाठी छठ पर्व में काफी आस्था रखते हैं। वो इस साल छठ पर्व मुंबई में ही सेलिब्रेट करेंगे।

- Advertisement -

Chhath Puja 2022: चार दिवसीय छठ पर्व को पूरे भारत में धूम-धाम से मनाया जा रहा है। यह एक ऐसा पर्व है, जिसमें लोग अपने घर जाने के लिए काफी ज्यादा उत्सुक होते हैं। बॉलीवुड के मशहूर एक्टर पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) भी छठ पर्व में काफी आस्था रखते हैं। वो हर साल इस मौके पर अपने घर बेलसंड (बिहार) जाते थे। लेकिन इस बार अभिनेता घर नहीं जा पाए। इसलिए इस वर्ष मुंबई में ही छठ पर्व मानएंगे।

पंकज त्रिपाठी मुंबई में ही सेलिब्रेट करेंगे छठ पूजा

46 वर्षीय पंकज त्रिपाठी ने बताया कि जब तक उनकी मां छठ का व्रत करती थीं, तब तक वह गांव चले जाते थे। हालांकि, उम्र की वजह से उनकी मां ने छठ करना छोड़ दिया। अब उनकी भाभी छठ करती हैं। ऐसे में पकंज त्रिपाठी अब मुंबई के ही आस-पास पर्व मना लेते हैं।

यहाँ पढ़िए – Amit Bhadana Bollywood Debut: फेमस यूट्यूबर अमित भड़ाना की बॉलीवुड में एंट्री? सलमान खान की इस हसीना के साथ करेंगे पर्दे पर रोमांस

पंकज त्रिपाठी से जब इस साल (Chhath Puja 2022) का प्लान पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वह इस बार जुहू चौपाटी पर छठ सेलिब्रेट करेंगे। उन्होंने छठ का किस्सा सुनाते हुए बताया कि पहले लोग उन्हें पहचानते नहीं थे, इसलिए उनके लिए कहीं भी पर्व मनाना आसान होता था। लेकिन, इस बार उन्हें जुहू चौपाटी पर जाकर त्योहार मनाने के लिए कोई अलग प्लान बनाना पड़ेगा।

यहाँ पढ़िए – Sidharth And Kiara Marriage Updates: सिद्धार्थ मल्होत्रा इस महीने कियारा आडवाणी संग रचाएंगे शादी! जानें कहां होगा ग्रैंड रिसेप्शन!

पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) ने बचपन को याद करते हुए बताया कि वह अपने दोस्तों की मंडली के साथ मिलकर घाट पर जाते थे और रंग-बिरंगी लाइटों, केलों के पत्ते से घाट को सजाते थे। उन्होंने कहा कि वह मुंबई में यह सब मिस करते हैं। छठ पर्व में अपने योगदान के बारे में बताते हुए कहा, जब मैं छोटा था तब मां मुझे साफ-सफाई के काम में लगा देती थी। पूजा का सामान लाने की जिम्मेदारी भी मेरी होती थी। इस दिन हम नए कपड़े पहनते थे। मुझे बचपन में नए कपड़े मिलने की बहुत खुशी होती थी। मैं बार-बार दर्जी के पास नए कपड़े सिलवाने के लिए दौड़ लगाता था। खूब चहल-पहल रहती थी। हर तरफ उत्सव का माहौल रहता था।

यहाँ पढ़िए – बॉलीवुड से जुड़ी ख़बरें 

- Advertisement -

Latest Posts